अर्थ जगत की 5 बड़ी खबरें: शेयर बाजार की 5 सत्रों की तेजी पर ब्रेक और जानिए दिवाली तक क्या हो सकता है चांदी का भाव

घरेलू शेयर बाजार में लगातार पांच सत्रों से जारी तेजी पर बुधवार को ब्रेक लग गया। कोरोना काल में सोने और चांदी की चमक बढ़ गई है। खासतौर से चांदी में ज्यादा निखार आया है।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

चांदी में तेजी का रुझान, दिवाली तक 70000 रुपये किलो तक जा सकता है भाव

कोरोना काल में सोने और चांदी की चमक बढ़ गई है। खासतौर से चांदी में ज्यादा निखार आया है। औद्योगिक मांग बढ़ने और आपूर्ति कम रहने की वजह से वैश्विक बाजार में चांदी में जबरदस्त तेजी आई है जिससे भारतीय वायदा एवं हाजिर बाजार में चांदी की कीमतों में सोने से ज्यादा उछाल आई है। बाजार विश्लेषकों की माने तो चांदी इस साल दिवाली तक 70,000 रुपये प्रति किलो तक जा सकती है। घरेलू वायदा बाजार में बुधवार को सोना ने फिर नया रिकॉर्ड बनाया और चांदी 2012 के बाद के सबसे उंचे स्तर पर चली गई। सोने का भाव पहली बार 50,000 रुपये प्रति 10 ग्राम के मनोवैज्ञानिक स्तर को पार किया जबकि चांदी 61,000 रुपये किलो से उपर तक उछली। दुनियाभर में कोरोना महामारी का प्रकोप गहराने से मार्च के बाद अब तक चांदी और सोने में जबदरस्त तेजी आई है और महंगी धातुओं के प्रति निवेश के बढ़ते रुझान से आगे और तेजी का रुझान बना हुआ है।

शेयर बाजार की 5 सत्रों की तेजी पर ब्रेक, 59 अंक फिसला सेंसेक्स

घरेलू शेयर बाजार में लगातार पांच सत्रों से जारी तेजी पर बुधवार को ब्रेक लग गया। सेंसेक्स पिछले सत्र से 59 अंकों यानी 0.16 फीसदी की गिरावट के साथ 37,871.52 पर बंद हुआ, जबकि निफ्टी 29.65 अंकों यानी 0.27 फीसदी की कमजोरी के साथ 11,132.60 पर बंद हुआ। बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) के 30 शेयरों पर आधारित प्रमुख संवेदी सूचकांक सेंसेक्स पिछले सत्र से 247.74 अंकों की बढ़त के साथ 38,178.07 पर खुला और 38199.27 तक उछला, जबकि दिनभर के कारोबार के दौरान सेंसेक्स का निचना स्तर 37,601.62 रहा।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) के 50 शेयरों पर आधारित प्रमुख संवेदी सूचकांक निफ्टी भी पिछले सत्र से 68.95 अंकों की तेजी के साथ 11,231.20 पर खुला और 11,238.10 तक उछला, जबकि दिनभर के कारोबार के दौरान निफ्टी का निचला स्तर 11,056.55 रहा।

एलजी 2021 में लॉन्च कर सकता है एआर ग्लास : रिपोर्ट

एलजी अगले साल एक नया अल्ट्रा लाइट एआर ग्लास लॉन्च करने की योजना बना रहा है।दक्षिण कोरिया स्थित ईटी न्यूज के अनुसार, कंपनी जापान के एनटीटी डोकोमो के साथ मिलकर काम कर रही है और यह सहयोग एआर ग्लास बनाने में होगा जो एआर या वीआर हेडसेट की तुलना में बहुत हल्का है जो वर्तमान में बाजार में उपलब्ध है। यह ग्लास सबसे पहले जापान में लॉन्च होगा। रिपोर्ट में कहा गया है कि कोरोनावायरस महामारी के बीच जापान में एआर की मांग में काफी इजाफा देखने को मिला है। दोनों कंपनी 5जी और एलटीई नेटवर्किंग पर काम करने के लिए पार्टनरशिप में हैं। इस बीच, एप्पल द्वारा भी हल्के एआर ग्लास विकसित करने की अफवाह है, जो कथित रुप से 2022 तक लॉन्च हो सकता है।

भारत में डाउन हुआ माइक्रोसॉफ्ट टीम्स

भारत में बुधवार को लाखों यूजर्स का माइक्रोसॉफ्ट का कम्यूनिकेशन टूल टीम्स डाउन हो गया, जिस कारण कोविड-19 महामारी के दौरान छात्र ऑनलाइन क्लासेज में शामिल नहीं हो पाए। आउटेज मॉनीटर पोर्टल डाउन डिटेक्टर के अनुसार, करीब 68 प्रतिशत यूजर्स ने रिपोर्ट किया कि वे सर्वर कनेक्शन में समस्या का सामना कर रहे थे, वहीं 28 प्रतिशत यूजर्स को लॉग इन करने में परेशानी हुई, जबकि तीन प्रतिशत को वेबसाइट से जुड़ी समस्याओं का सामना करना पड़ा। माइक्रोसॉफ्ट ने अभी तक समस्या को रिपोर्ट नहीं किया है।

यह आउटेज तब शुरू हुआ जब हजारों स्कूल सुबह नौ बजे से अपराह्न् एक बजे तक के अपने ऑनलाइन क्लासेज में थे। नोएडा में कई शिक्षकों और विद्यार्थियों ने घर पर टीम्स के माध्यम से ऑनलाइन क्लासेज में शामिल होने में कठिनाई महसूस की।

2022 में आईफोन में मिलेगा पेरिस्कोप टेलीफोटो कैमरा

साल 2022 में ऐप्पल के अपने आईफोन श्रृंखला में पेरिस्कोप टेलीफोटो कैमरे को शामिल किए जाने उम्मीद जताई जा रही है। इस पेरिस्कोप लेंस से 5 से लेकर 10 गुना तक ऑप्टिकल जूम की सुविधा प्रदान की जाएगी।

ओप्पो फाइंड एक्स2 प्रो और हुवावे पी40 प्रो प्लस सहित कुछ स्मार्टफोन पहले ही पेरिस्कोप लेंस के साथ उपलब्ध कराया जा चुका है। मिंग-ची कुयो के एक हालिया रिसर्च नोट के हवाले से द वर्ज में छपी रिपोर्ट के मुताबिक, कोरिया और चीन में दो सबसे मजबूत लेंस आपूर्तिकर्ता सनी ऑप्टिकल और सेम्को इस साल के अंत या अगले साल की शुरुआत तक एप्पल के लेंस की आपूर्ति श्रृंखला में शामिल हो जाएंगे।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

लोकप्रिय
next