अर्थ जगत की 5 बड़ी खबरें: कोरोना के कारण बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट पर लगा ब्रेक! और देश में OYO कर्मचारियों का संकट बढ़ा

कोरोना के कारण मुंबई-अहमदाबाद बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट पर ब्रेक लग गया है। अधिकारियों का कहना है कि कई इलाकों में अभी भी भूमि अधिग्रहण से जुड़े कुछ मुद्दे हैं और OYO इंडिया ने छुट्टियों पर भेजे गए कर्मचारियों के सामने कंपनी से अलग होने या छह महीने के लिए छुट्टियों को आगे बढ़ाने का प्रस्ताव रखा है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

कोरोना के कारण बुलेट ट्रेन परियोजना के पूरे होने में हो सकती है देरी

मुंबई-अहमदाबाद बुलेट ट्रेन परियोजना के समय पर पूरा होने में विलंब हो सकता है क्योंकि महामारी के चलते भूमि अधिग्रहण के काम में देरी हो रही है। इस परियोजना का काम दिसंबर 2023 में पूरा होना प्रस्तावित है। नेशनल हाई स्पीड रेल कॉरपोरेशन परियोजना के लिए आवश्यक भूमि में से 63 प्रतिशत का अधिग्रहण कर चुकी है। इसमें से 77 प्रतिशत जमीन गुजरात में, 80 प्रतिशत दादरा एवं नागर हवेली में और 22 प्रतिशत जमीन महाराष्ट्र में है। अधिकारियों ने बताया कि महाराष्ट्र के पालघर और गुजरात के नवसारी जैसे इलाकों में अभी भी भूमि अधिग्रहण में कुछ दिक्कतें आ रही हैं।

अधिकारियों ने कहा कि पिछले साल कंपनी ने लोक निर्माण की नौ निविदाएं आमंत्रित की थीं, लेकिन इन्हें कोरोना वायरस महामारी के कारण खोला नहीं जा सका। कॉरपोरेशन के प्रबंध निदेशक अचल खरे ने कहा, ‘‘कोविड के कारण हमें कुछ निविदाओं को खोलना स्थगित करना पड़ा। कॉरपोरेशन के प्रवक्ता ने आधिकारिक तौर पर कहा कि परियोजना की समय-सीमा भी 2023 ही है। सिविल निर्माण ठेकों में से एक स्टेशनों, पुलों, मरम्मत डिपो और पूरे बुलेट ट्रेन नेटवर्क पर सुरंगों के निर्माण आदि से जुड़ा है जो 20,000 करोड़ रुपये का है। ट्रेन की 508 किलोमीटर लाइन में से 345 किलोमीटर के निर्माण (करीब 68 प्रतिशत) के लिए टेंडर दिए जा चुके हैं।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

राज्य व्यापार सुधार एक्शन प्लान की रैंकिंग जारी, पहले नंबर पर आंध्र प्रदेश

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण और केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने राज्य व्यापार सुधार एक्शन प्लान 2019 की रैंकिंग यानी ईज ऑफ डूइंग में राज्यों की रैंकिंग जारी की। इससे पहले ये रैकिंग साल 2018 में जारी की गई थी। इस रैकिंग में उन राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को टॉप में रखा जाता है, जहां पर कारोबार करने में आसानी होती है। केंद्र सरकार की ओर से जारी इस रैकिंग में पहला स्थान आंध्र प्रदेश को मिला है। वहीं तेलंगाना को पीछे छोड़ते हुए उत्तर प्रदेश ने दूसरे नंबर पर जगह बना ली है, जबकि तेलंगाना ने तीसरा स्थान हासिल किया है।

Oyo के भारतीय कर्मचारियों की मुश्किलें बढ़ी

हॉस्पिटैलिटी क्षेत्र की कंपनी ओयोने भारत में अपने कर्मचारियों को बड़ा झटका दिया है। पहले से ही छुट्टी पर चल रहे कर्मचारियों से ओयो ने कहा है कि वे या तो सीमित लाभ के साथ छुट्टी को छह महीने के लिए आगे खिसका लें या खुद कंपनी से अलग हो जाएं। कंपनी का कहना है कि यह स्थिति उन हालातों के कारण पैदा हुई है, जो ना तो कर्मचारियों के बस में है और ना ही कंपनी के। गौरतलब है कि कोरोना वायरस महामारी के प्रकोप के चलते ओयो ने भारत में अपने कई कर्मचारियों को चार मई से सीमित लाभ के साथ चार महीने की छुट्टी पर भेज दिया था।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

इंस्टाग्राम स्टोरीज के ऑटो-शेयर फीचर पर फेसबुक का काम जारी

फेसबुक के एक ऐसे नए फीचर पर काम करने की बात सामने आई है, जिससे यूजर्स फेसबुक में रहते हुए इंस्टाग्राम स्टोरीज को देख सकेंगे। फीचर की मदद से एक ही संदेश को क्रॉसपोस्टिंग करने की जरूरत नहीं पड़ेगी। इस फीचर पर टेस्ट करने के एक हिस्से के रूप में फेसबुक पर इंस्टाग्राम स्टोरीज को देखने के लिए पहले अपने दो इन्हीं अकांउट को लिंक करना पड़ेगा। इंस्टाग्राम पर जो लोग आपको फॉलो करते हैं, सिर्फ वही फेसबुक पर आपकी स्टोरीज को देख पाएंगे। शुक्रवार को द नेक्स्ट वेब (टीएनडब्ल्यू) की एक रिपोर्ट के मुताबिक, ट्विटर पर इस बदलाव पर सबसे पहले नजर मैट नर्वरा की पड़ी।

अर्थ जगत की 5 बड़ी खबरें: कोरोना के कारण बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट पर लगा ब्रेक! और देश में OYO कर्मचारियों का संकट बढ़ा

सैमसंग टैबलेट का दूसरी तिमाही में इन देशों में बढ़ा वर्चस्व

साल की दूसरी तिमाही में यूरोप, मध्यपूर्व और अफ्रीका (ईएमईए) के टैबलेट मार्केट में सैमसंग इलेक्ट्रॉनिक्स का दबदबा बना रहा। एक साल पहले की तुलना में टैबलेट की शिपिंग में लगभग 70 फीसदी तक की वृद्धि हुई है। इंडस्ट्री रिसर्चर इंटरनेशनल डेटा कॉर्प (आईडीसी) के मुताबिक, अप्रैल से जून तक की अवधि में इन बाजारों (ईएमईए) में सैमसंग ने 33.7 लाख टैबलेट भेजे हैं और इसी के साथ कंपनी की बाजार पूंजी 28.3 फीसदी हो गई है, जिसमें पिछले साल के मुकाबले 7.6 अंकों की बढ़ोतरी देखने को मिली है।

आईडीसी ने कहा, "पूरे क्षेत्र में बेहतरीन प्रदर्शन के साथ सैमसंग ईएमईए में शीर्ष पर रहा और कंपनी ने ऐसा खासकर कुछ विकासशील अर्थव्यवस्थाओं में प्रसार करते हुए किया।" सूची में ऐप्पल दूसरे स्थान पर है, क्योंकि इसकी बाजार पूंजी पिछले साल 25 फीसदी से घटकर 21.5 प्रतिशत पर आकर रुक गई है। इसने 25.6 आईपैड्स की शिपिंग की है। रिपोर्ट के मुताबिक, तीसरे स्थान पर चीन की हुवावे टेक्नोलॉजीज है, जिसकी बाजार पूंजी 15 प्रतिशत है। सूची में 12.1 फीसदी के साथ लेनोवो चौथे और 3.8 फीसदी के साथ एमेजॉन डॉट कॉम पांचवे स्थान पर है।

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

लोकप्रिय
next