अर्थ जगत की 5 बड़ी खबरें: ब्रिटानिया का प्रॉफिट 29 फीसदी गिरा और कल से ATM से पैसा निकालना होगा महंगा!

ब्रिटानिया इंडस्ट्रीज ने 30 जून 2021 को समाप्त पहली तिमाही के नतीजे जारी कर दिए हैं। इस अवधि में कंपनी का मुनाफा में सालाना आधार पर 29 फीसदी गिरकर 387 करोड़ रुपये पर रहा है और 1 अगस्त से एटीएम से पैसा निकालना महंगा हो जाएगा। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने हाल में ATM ट्रांजेक्शन पर चार्ज बढ़ा दिया है।

फोटो: Getty Images
फोटो: Getty Images
user

नवजीवन डेस्क

ब्रिटानिया का प्रॉफिट 29 फीसदी गिरकर 387 करोड़ रुपये रहा

तत्काल खपत के उपभोक्ता सामान बनाने वाली कंपनी ब्रिटानिया इंडस्ट्रीज ने 30 जून 2021 को समाप्त पहली तिमाही के नतीजे जारी कर दिए हैं। इस अवधि में कंपनी का मुनाफा में सालाना आधार पर 29 फीसदी गिरकर 387 करोड़ रुपये पर रहा है। पिछले साल की इसी अवधि में कंपनी को 543 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ था। पहली तिमाही में कंपनी की आय हल्की गिरावट के साथ 3,464 करोड़ रुपये पर रही है जो कि पिछले साल की इसी अवधि में 3,514 करोड़ रुपये पर रही थी। पहली तिमाही में कंपनी को कमोडिटी की कीमतों में बढ़त का सामना करना पड़ा है। इस अवधि में पॉम ऑयल और क्रूड ऑयल दोनों की कीमतों में बढ़त की वजह से कंपनी के लागत में बढ़ोतरी देखने को मिली है। पहली तिमाही में कंपनी की लागत में सालना आधार पर 9।7 फीसदी की बढ़ोतरी आई है। पिछले वित्त वर्ष की जून तिमाही में ब्रिटेनिया की बिक्री में 26 फीसदी का उछाल देखने को मिला था। लॉकडाउन के दौरान भारतीयों ने ज्यादा बिस्किट की खरीदारी की थी।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

कल से ATM से पैसा निकालना, डेबिट और क्रेडिट इस्तेमाल हो जाएगा महंगा

कल (1 अगस्त) से एटीएम से पैसा निकालना महंगा हो जाएगा। दरअसल, रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने हाल में ATM ट्रांजेक्शन पर चार्ज बढ़ा दिया है। RBI ने इंटरचेंज फीस फाइनेंशियल ट्रांजेक्शन के लिए 15 रुपये से 17 रुपये कर दिया है। नॉन फाइनेंशियल ट्रांजेक्शन के लिए चार्ज 5 रुपये से बढ़ाकर 6 रुपये कर दिया है। ये नई दरें 1 अगस्त से लागू होगी। RBI के मुताबिक, इंटरचेंज शुल्क बैंकों द्वारा क्रेडिट कार्ड या डेबिट कार्ड के माध्यम से पेमेंट के समय मर्चेंट को की जाती है। यह चार्ज बैंकों और ATM कंपनियों के बीच हमेशा विवाद का विषय रहा है। जून 2019 में, RBI ने एटीएम ट्रांजेक्शन के इंटरचेंज स्ट्रक्चर पर विशेष ध्यान देने के साथ एटीएम चार्जेज की समीक्षा करने के लिए एक समिति का गठन किया था। आरबीआई के अनुसार इंटरचेंज फीस बैंकों द्वारा क्रेडिट कार्ड या डेबिट कार्ड से पमेंट प्रोसेस करने वाले मर्चेंट से लिया जाने वाला शुल्क है।

फोटो: IANS
फोटो: IANS

लॉकडाउन में ढील से जून में ऑटो बिक्री में वृद्धि देखने को मिली- इंड-रा

इंडिया रेटिंग्स एंड रिसर्च (इंड-रा) ने कहा कि देश के अधिकांश हिस्सों में स्थानीयकृत लॉकडाउन में ढील से जून 2021 में घरेलू ऑटो बिक्री की मात्रा में क्रमिक और साथ ही साल-दर-साल वृद्धि हुई है। एजेंसी ने ऑटोमोटिव डीलरशिप को फिर से खोलने और मूल उपकरण निमार्ताओं (ओईएम) द्वारा पिछली अवधि में निचले आधार के साथ संचालन को फिर से शुरू करने की प्रवृत्ति को श्रेय दिया है। हालांकि, जून 2021 की मात्रा ऐतिहासिक बढोतरी (जून 2019 के स्तर से 35 प्रतिशत नीचे) से काफी नीचे रही। पीवी सेगमेंट ने व्यक्तिगत गतिशीलता के लिए 119 प्रतिशत की वृद्धि की प्राथमिकता के कारण उद्योग की तुलना में अपने बेहतर प्रदर्शन को फिर से शुरू किया। इसके अलावा, रिपोर्ट में बताया गया है कि 2वॉट खंड के लिए उपभोक्ता मांग 4 प्रतिशत सालाना की दर से कम रही। जबकि मोटरसाइकिल की बिक्री में 10 प्रतिशत की वृद्धि हुई, और स्कूटर की बिक्री में 10 प्रतिशत की गिरावट आई। भारत और कार्यस्थल और कॉलेजों में ऐतिहासिक रूप से उच्च ईंधन की कीमतों के साथ युग्मित ओईएम द्वारा मूल्य वृद्धि के बीच स्वामित्व की बढ़ी हुई लागत से 2वॉट अधिक प्रभावित हुए हैं। इसके अलावा, जून 2021 में कुल उत्पादन में मासिक आधार पर 110 प्रतिशत का सुधार हुआ क्योंकि ओईएम ने मई 2021 में 10-15 दिनों के शटडाउन के बाद अपने संयंत्रों में परिचालन फिर से शुरू किया है।

फोटो: IANS
फोटो: IANS

दूसरी तिमाही में मेक्सिको की अर्थव्यवस्था में 19.7 प्रतिशत का उछाल

नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ स्टैटिस्टिक्स एंड जियोग्राफी (इनेगी) द्वारा जारी प्रारंभिक आंकड़ों के अनुसार, सभी क्षेत्रों में अच्छे प्रदर्शन से उत्साहित मेक्सिको की अर्थव्यवस्था ने 2021 की दूसरी तिमाही में साल-दर-साल 19.7 फीसदी की छलांग लगाई। समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने शुक्रवार को एक बयान में इनेगी के हवाले से कहा कि मौसमी रूप से समायोजित आंकड़ों से पता चलता है कि मेक्सिको का सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) पिछली तिमाही की तुलना में दूसरी तिमाही में 1.5 प्रतिशत बढ़ा है। इस संस्थान के अनुसार,अप्रैल से जून की अवधि में, औद्योगिक गतिविधि साल दर साल 28.2 प्रतिशत बढ़ी, जबकि सेवा क्षेत्र में 17.1 प्रतिशत की वृद्धि हुई। ये दो क्षेत्र हैं जिनका सकल घरेलू उत्पाद पर सबसे अधिक प्रभाव है। स्वायत्त सांख्यिकी एजेंसी ने कहा कि दूसरी तिमाही में कृषि क्षेत्र में सालाना आधार पर 6.7 फीसदी की वृद्धि हुई है। इन आंकड़ों के जवाब में, मेक्सिको के बीएएसई वित्तीय समूह ने कहा कि डेटा से पता चलता है कि फरवरी 2020 के अंत में कोविड -19 महामारी की शुरूआत के बाद से मैक्सिकन अर्थव्यवस्था ने 92.5 प्रतिशत खो दिया है। निजी संस्थान ने कहा, "ग्रुपो फाइनेंसिएरो बेस का अनुमान है कि मेक्सिको की जीडीपी इस साल 6.3 प्रतिशत की वृद्धि दर्शाएगी।" बीएएसई ने मेक्सिको के मुख्य व्यापार भागीदार के बारे में कहा कि, "हालांकि अनुमान को उच्च माना जा सकता है, यह अभी भी 2020 में गिरावट के बाद एक पलटाव प्रभाव है, जो कि बड़े पैमाने पर अमेरिका में विकास से प्रेरित है।" मेक्सिको की अर्थव्यवस्था, ब्राजील के बाद लैटिन अमेरिका में दूसरी सबसे बड़ी, 2020 में 8.3 प्रतिशत गिर गई, महामारी के प्रभाव के कारण 1930 के दशक के बाद से इसका सबसे खराब स्तर है।

फोटो: IANS
फोटो: IANS

एप्पल 59 प्रतिशत राजस्व हिस्सेदारी के साथ टैबलेट ऐप प्रोसेसर बाजार में सबसे आगे

एप्पल ने अपने टैबलेट एपी (ऐप प्रोसेसर) बाजार नेतृत्व को पहली तिमाही में 59 प्रतिशत राजस्व हिस्सेदारी (रिवेन्यू शेयर) के साथ बनाए रखा है, जो कि पिछले नौ वर्षों में कंपनी का सबसे बड़ा शेयर है। इसके बाद इंटेल 14 प्रतिशत और क्वालकॉम 10 प्रतिशत के साथ दूसरे और तीसरे स्थान पर हैं। एक हालिया रिपोर्ट में यह दावा किया गया है। मार्केट रिसर्च फर्म स्ट्रैटेजी एनालिटिक्स द्वारा उपलब्ध कराए गए आंकड़ों के अनुसार, लगातार पांचवीं तिमाही में टैबलेट एप्लिकेशन प्रोसेसर (एपी) बाजार ने शिपमेंट और राजस्व वृद्धि दर्ज की है। टैबलेट एपी बाजार पहली तिमाही में 33 प्रतिशत बढ़कर 76.1 करोड़ डॉलर हो गया है। एप्पल, इंटेल, क्वालकॉम, मीडियाटेक और सैमसंग एलएसआई ने शीर्ष पांच टैबलेट एप्लिकेशन प्रोसेसर (एपी) राजस्व हिस्सेदारी स्लॉट पर कब्जा कर लिया है। स्ट्रैटेजी एनालिटिक्स में हैंडसेट कंपोनेंट टेक्नोलॉजीज सर्विस के एसोसिएट डायरेक्टर श्रवण कुंडोज्जला ने कहा, नए 5 एनएम-आधारित ए 14 बायोनिक और एप्पल सिलिकॉन एम 1 द्वारा संचालित, एप्पल के टैबलेट एपी राजस्व में साल-दर-साल 2021 की पहली तिमाही में 60 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। इसमें महामारी से प्रेरित मांग ने भी मदद की है।

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia