अर्थ जगत की खबरें: एयर इंडिया ने 14 जुलाई तक कोरोना के कारण 56 कर्मचारियों को खोया और बिटकॉइन को लेकर आई बड़ी खबर

केंद्र ने गुरुवार को संसद को सूचित किया कि राष्ट्रीय विमानन कंपनी एयर इंडिया के 56 कर्मचारियों ने 14 जुलाई तक कोविड महामारी के कारण दम तोड़ दिया। टेस्ला के सीईओ एलोन मस्क ने बताया है कि कंपनी बिटकॉइन के जरिए पेमेंट स्वीकार करेगी।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

एयर इंडिया ने 14 जुलाई तक कोविड के कारण 56 कर्मचारियों को खो दिया: मंत्री

केंद्र ने गुरुवार को संसद को सूचित किया कि राष्ट्रीय विमानन कंपनी एयर इंडिया के 56 कर्मचारियों ने 14 जुलाई तक कोविड महामारी के कारण दम तोड़ दिया। लोकसभा में प्रश्नकाल के दौरान एक लिखित उत्तर में नागरिक उड्डयन राज्य मंत्री जनरल (आरईटीडी) वी.के. सिंह ने कहा कि राष्ट्रीय वाहक के कुल 3,523 कर्मचारी कोविड -19 से प्रभावित हुए हैं। 'इसमें से 56 कर्मचारियों ने 14 जुलाई, 2021 तक महामारी के कारण दम तोड़ दिया है।'

उन्होंने यह भी कहा कि एअर इंडिया को कर्मचारी संघों से कोविड-19 प्रभावित कर्मचारियों को उचित मुआवजा और अन्य फायदा देने के लिए कई अभ्यावेदन प्राप्त हुए हैं।

उन्होंने सदन को सूचित किया कि एअर इंडिया ने कोविड-19 से प्रभावित कर्मचारियों और उनके परिवारों के हितों की रक्षा के लिए कई उपाय किए हैं, जिसमें कोविड-19 से प्रभावित कर्मचारियों को 17 दिनों का क्वारंटाइन अवकाश (पेड लीव) शामिल है।

"कोविड -19 के कारण एक स्थायी या निश्चित अवधि के संविदा कर्मचारी की मृत्यु पर उनके परिवारों को क्रमश: 10,00,000 रुपये और 5,00,000 रुपये का मुआवजा दिया जाता है। आकस्मिक या अनुबंध श्रमिकों के परिवारों को 90,000 रुपये या 2 महीने के वेतन का मुआवजा दिया जाता है।"

"कंपनी द्वारा कोविड-19 प्रभावित कर्मचारियों या परिवारों की देखभाल के लिए विभिन्न स्थानों पर कोविड केंद्र खोले गए हैं।" "कर्मचारियों और उनके परिवारों द्वारा भुगतान किए जाने पर टीकाकरण शुल्क की प्रतिपूर्ति दी जा रही है।"


टेस्ला फिर से बिटकॉइन के जरिए पेमेंट स्वीकार करेगी : सीईओ एलोन मस्क

फोटो: IANS
फोटो: IANS

टेस्ला के सीईओ एलोन मस्क ने बताया है कि कंपनी क्रिप्टोकरंसी को बढ़ा करने के लिए उपयोग किए जाने वाले ऊर्जा मिश्रण में सुधार पर कुछ उचित परिश्रम के बाद बिटकॉइन के जरिए पेमेंट स्वीकार करेगी। इलेक्ट्रेक की रिपोर्ट के मुताबिक,'बी वर्ड' सम्मेलन के दौरान, मस्क ने बुधवार को कहा कि, पहले से ही सुधार हुए हैं और टेस्ला पुष्टि करने के लिए और अधिक परिश्रम करेगा। लेकिन उन्हें उम्मीद है कि ऑटोमेकर क्रिप्टो से भुगतान लेना फिर से शुरू कर देगा।

मस्क ने कहा, मैं यह पुष्टि करने के लिए थोड़ा और परिश्रम चाहता था कि अक्षय ऊर्जा उपयोग का प्रतिशत 50 प्रतिशत या उससे अधिक होने की संभावना है, और उस संख्या को बढ़ाने की प्रवृत्ति है। यदि ऐसा है तो टेस्ला बिटकॉइन को स्वीकार करना फिर से शुरू कर देगा।

टेस्ला के सीईओ ने यह भी पुष्टि की कि टेस्ला के निवेश के शीर्ष पर बिटकॉइन में उनका एक महत्वपूर्ण व्यक्तिगत निवेश है और उनके पास छोटे एथेरियम और डॉगकोइन होल्डिंग्स हैं।पिछले एक साल में, टेस्ला विभिन्न स्तरों पर क्रिप्टोक्यूरेंसी की दुनिया में गहराई से प्रवेश कर रहा है।



इस साल की शुरूआत में टेस्ला ने बिटकॉइन में 1.5 अरब डॉलर का निवेश किया था। कुछ ही समय बाद, ऑटोमेकर ने नए वाहनों पर भुगतान के रूप में क्रिप्टोकरेंसी को स्वीकार करना शुरू कर दिया।

बाद में, सीईओ मस्क ने टेस्ला की क्षमता के बारे में भी बात की, जो डॉगकोइन को अपने वाहनों के भुगतान के रूप में स्वीकार करना शुरू कर देता है। हालांकि, कुछ दिनों बाद, टेस्ला ने बिटकॉइन भुगतान विकल्प को हटाकर क्रिप्टो के साथ एक कदम पीछे ले लिया।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia