अर्थ जगत: 'बॉट' बाजारों में करीब 490 रुपये में बिक रहा 6 लाख भारतीयों का डेटा और भारतपे ने अशनीर दंपति पर किया मुकदमा

बॉट बाजार के फलने-फूलने के साथ ही कम से कम 6 लाख भारतीयों का डेटा चोरी हो गया है। भारतपे ने अपने पूर्व सह-संस्थापक अशनीर ग्रोवर, उनकी पत्नी माधुरी जैन ग्रोवर और उनके रिश्तेदारों के खिलाफ क्रिमिनल कार्यवाही शुरू की है।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

'बॉट' बाजारों में करीब 490 रुपये में बिक रहा 6 लाख भारतीयों का डेटा

बॉट बाजार के फलने-फूलने के साथ ही कम से कम 6 लाख भारतीयों का डेटा चोरी हो गया है। एक भारतीय की डिजिटल पहचान की औसत कीमत लगभग 490 रुपये है। इसका खुलासा गुरुवार को साइबर सिक्योरिटी के शोधकर्ताओं ने किया। साइबर सुरक्षा कंपनी नॉर्डवीपीएन के शोध के अनुसार, बॉट्स बाजारों के सभी डेटा का 12 प्रतिशत भारतीय डेटा था।

बॉट मार्केट ऑनलाइन मार्केटप्लेस हैं, जिनका उपयोग हैकर्स डेटा बेचने के लिए करते हैं, जो वे अपने पीड़ितों के उपकरणों से बॉट मालवेयर के साथ चुराते हैं। डेटा पैकेट में बेचा जाता है, जिसमें लॉगिन, कुकीज, डिजिटल फिंगरप्रिंट, स्क्रीनशॉट और अन्य जानकारी शामिल होती है, जो एक समझौता किए गए व्यक्ति की पूर्ण डिजिटल पहचान होती है।

टेलीग्राम ने भारत में पेश किया 'नो-सिम साइनअप' फीचर

फोटो: IANS
फोटो: IANS

टेलीग्राम मैसेंजर ने गुरुवार को देश में 'नो-सिम साइनअप' सहित अपने लेटेस्ट अपडेट में नए फीचर्स की घोषणा की। कंपनी ने एक बयान में कहा कि 'नो-सिम साइनअप' फीचर उपयोगकर्ताओं को व्यक्तिगत रूप से या सामूहिक मंचों पर अपने फोन नंबरों का खुलासा किए बिना दूसरों के साथ संवाद करने की अनुमति देता है।

यह प्लेटफॉर्म पर उपयोगकर्ताओं की सुरक्षा को और बेहतर बनाने और उच्चतम स्तर की गोपनीयता बनाने के लिए सिम कार्ड के बिना टेलीग्राम खाते के लिए साइन अप करने की अनुमति देता है। उपयोगकर्ता फ्रैगमेंट प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध ब्लॉकचेन-संचालित गुमनाम नंबरों का उपयोग कर लॉग इन कर सकते हैं।


भारतपे ने अशनीर,उनकी पत्नी पर किया मुकदमा, फर्म को ठगने के लिए 88 करोड़ रुपये चुकाने को कहा

फोटो: IANS
फोटो: IANS

प्रमुख फिनटेक प्लेटफॉर्म भारतपे ने गुरुवार को कहा कि उसने अपने पूर्व सह-संस्थापक और प्रबंध निदेशक अशनीर ग्रोवर, उनकी पत्नी माधुरी जैन ग्रोवर और उनके रिश्तेदारों के खिलाफ कंपनी के धन की भारी हेराफेरी को लेकर सिविल और क्रिमिनल कार्यवाही शुरू की है। विश्वस्त सूत्रों के अनुसार, कंपनी ने ग्रोवर्स को 18 प्रतिशत ब्याज के साथ 88.6 करोड़ रुपये का भुगतान करने के लिए कहा है, जिसे उन्होंने फर्जी बिल बनाने, वेंडर भुगतान और व्यक्तिगत उपयोग जैसे विभिन्न तरीकों से ठग लिया।

कंपनी के प्रवक्ता ने आईएएनएस को बताया, "भारतपे ने पूर्व सह-संस्थापक और प्रबंध निदेशक अशनीर ग्रोवर, पूर्व नियंत्रण प्रमुख, माधुरी जैन ग्रोवर और उनके परिवार के अन्य जुड़े पक्षों के खिलाफ विभिन्न दावों के लिए दीवानी और आपराधिक कार्रवाई शुरू की है, जिसमें कंपनी के धन की हेराफेरी भी शामिल है।"

फिनटेक की दिग्गज कंपनी प्लेड ने वैश्विक स्तर पर 260 कर्मचारियों की छंटनी की

फिनटेक कंपनी प्लेड ग्लोबल मैक्रोइकॉनोमिक परिस्थितियों के बीच 260 कर्मचारियों, या वैश्विक स्तर पर अपने कर्मचारियों के लगभग 20 प्रतिशत की छंटनी कर रही है। प्लेड के सीईओ और सह-संस्थापक जैक पेरेट ने कहा कि कंपनी निकाले जाने वाले सभी कर्मचारियों के लिए 16 सप्ताह का बेसिक भुगतान करेगी। इसके अलावा एक साल से ज्यादा काम करने वालों को ज्यादा पैसे दिए जाएंगे।

कर्मचारियों को लिखे अपने पत्र में पेरेट ने कहा, "इस साल व्यापक आर्थिक स्थिति में काफी बदलाव आया है। वित्तीय सेवाओं की हर श्रेणी में अच्छी तरह से विविध होने के बावजूद, हम उद्योग भर में ग्राहकों को उम्मीद से धीमी वृद्धि का अनुभव कर रहे हैं।"
प्लेड का अंतिम मूल्य लगभग 13.4 अरब डॉलर था।


स्विगी कर सकती है 250 से अधिक कर्मचारियों की छंटनी, फर्म ने कहा 'प्रदर्शन होगा आधार'

फोटो: IANS
फोटो: IANS

जोमेटो के बाद, स्विगी इस महीने से 250 से अधिक कर्मचारियों या अपने कार्यबल के 5 प्रतिशत तक की छंटनी कर सकता है। ऑनलाइन फूड डिलिवरी प्लेटफॉर्म ने गुरुवार को आईएएनएस को बताया कि हालांकि अभी तक किसी भी कर्मचारी को नौकरी से नहीं निकाला गया है और उसने छंटनी के आंकड़े पर कोई टिप्पणी नहीं की।

स्विगी के प्रवक्ता ने एक बयान में कहा, "स्विगी में कोई छंटनी नहीं हुई है। हमने अपना प्रदर्शन चक्र अक्टूबर में समाप्त किया और सभी स्तरों पर रेटिंग और प्रचार की घोषणा की है। जैसा कि हर चक्र में होता है, हम प्रदर्शन के आधार पर छंटनी की उम्मीद कर रहे हैं।"

स्विगी में छंटनी की खबर सबसे पहले द इकोनॉमिक टाइम्स ने दी थी।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;