अर्थ जगत: गूगल ने अब चीन में कर्मचारियों की छंटनी शुरू की और निकाले गए टेक कर्मचारियों को कम सैलरी दे रही छोटी कंपनियां

गूगल अब चीन में वरिष्ठ पदों और उच्च वेतन वाले कर्मचारियों को बाहर का रास्ता दिखा रहा है। निकाले गए लाखों बिग टेक कर्मचारी छोटी टेक फर्मो में आवेदन कर रहे हैं जहां उनसे कहा जा रहा है कि 'हम आपको उतना पैसा नहीं दे सकते।'

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

गूगल को अलविदा कहने की अब मेरी बारी है : बर्खास्त भारतीय कर्मचारी

फोटो: IANS
फोटो: IANS

गूगल इंडिया के एक बर्खास्त कर्मचारी ने लिंक्डइन पर अपनी कहानी साझा करते हुए कहा, "गूगल को अलविदा कहने की मेरी बारी है।" गूगल ने पिछले महीने भारत में 400 से अधिक कर्मचारियों को निकाल दिया है और विश्व स्तर पर टेक दिग्गज ने लगभग 12,000 कर्मचारियों को पिंक स्लिप सौंपी है।

लगभग दो वर्षो तक गुरुग्राम में एक विज्ञापन समाधान वास्तुकार के रूप में गूगल के लिए काम करनेवाले दीपक जैन ने लिंक्डइन पर लिखा, "आज लगभग 2 साल बाद गूगल को अलविदा कहने की मेरी बारी है। पूरी तरह आनंद लिया! मेरी भूमिका, भारत में कई अन्य गूगलर्स के साथ, बड़े पैमाने पर वैश्विक छंटनी से भी प्रभावित हुई थी।"

टेस्ला ने फिर से अमेरिका में ईवी की कीमतें घटाईं

फोटो: IANS
फोटो: IANS

एलन मस्क के स्वामित्व वाली टेस्ला ने दूसरी बार अमेरिका में अपने ईवीएस की कीमतों में कमी की है, जो तिमाही के अंत से पहले बिक्री को बढ़ावा देने के प्रयास में हो सकती है।
टेकक्रंच के मुताबिक, कंपनी ने अपनी मॉडल एस सेडान और मॉडल एक्स एसयूवी की कीमतों में कमी की है।

मॉडल एस ऑल-व्हील ड्राइव अब 89,990 डॉलर में उपलब्ध है, जो 94,990 डॉलर से 5.2 प्रतिशत या लगभग 5,000 डॉलर कम है, जबकि मॉडल एस प्लेड 1,14,990 डॉलर से 4.3 प्रतिशत कम होकर 1,09,990 डॉलर पर है।

रिपोर्ट में कहा गया कि इसके अलावा, मॉडल एक्स ऑल-व्हील ड्राइव अब 99,990 डॉलर में उपलब्ध है, जो 109,990 डॉलर से 9.1 प्रतिशत या 10,000 डॉलर कम है, जबकि प्लेड की कीमत अब 1,09,990 डॉलर है, जो 1,19,990 डॉलर से 8.3 प्रतिशत कम है।


लाखों व्यापारियों, स्ट्रीट वेंडर्स को सशक्त बनाने के लिए आंध्र सरकार के साथ पेटीएम ने किया समझौता

फोटो: IANS
फोटो: IANS

 प्रमुख भुगतान और वित्तीय सेवा कंपनी पेटीएम का मालिक वन97 कम्युनिकेशंस लिमिटेड ने सोमवार को घोषणा की कि उसने वित्तीय समावेशन, सार्वजनिक स्वास्थ्य और साइबर सुरक्षा में पहल करने और लाखों व्यापारियों, सड़क विक्रेताओं और फेरीवालों को सशक्त बनाने के लिए आंध्र प्रदेश सरकार के साथ एक समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए हैं। आंध्र प्रदेश 'ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट 2023' के मौके पर राज्य सरकार में आईटी, इलेक्ट्रॉनिक्स और संचार, सचिव, सौरभ गौर और पेटीएम के प्रबंध निदेशक और सीईओ, संस्थापक, विजय शेखर शर्मा की उपस्थिति में समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए गए।

शर्मा ने कहा, "समावेशी विकास के जरिए सतत विकास की यात्रा में आंध्र प्रदेश सरकार के साथ साझेदारी कर हमें खुशी हो रही है। हम अंतिम मील तक वित्तीय समावेशन को चलाने के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध हैं और यह साझेदारी उसी दिशा में एक कदम है।" उन्होंने कहा, "हम मोबाइल भुगतान और विभिन्न वित्तीय सेवाओं तक पहुंच के साथ लाखों छोटे व्यवसायों को सक्षम कर आंध्र प्रदेश के लोगों को सशक्त बनाना जारी रखेंगे।"

छोटी टेक फर्मो ने छंटनी वाले बिग टेक कर्मचारियों से कहा- हम आपको उतना पैसा नहीं दे सकते

फोटो: IANS
फोटो: IANS

निकाले गए लाखों बिग टेक कर्मचारी जल्द से जल्द नौकरी पाने की होड़ में हैं। वो छोटी टेक फर्मो में आवेदन कर रहे हैं जहां उनसे कहा जा रहा है कि 'हम आपको उतना पैसा नहीं दे सकते।' द सिएटल टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, एक पूर्व अमेजन सॉफ्टवेयर इंजीनियर एरिक 200,000 डॉलर से अधिक के वेतन और स्टॉक पैकेज पर था, जब उसे निकाल दिया गया।

जब एक छोटी टेक फर्म ने एरिक को अमेजन से कम की पेशकश की और उन्होंने बातचीत करने की कोशिश की, तो उन्हें 'सपाट रूप से कहा गया' वे उन्हें उतना पैसा नहीं दे सकते और उन्होंने 'आखिरकार नौकरी स्वीकार कर ली जो उनके पिछले वेतन से कम की नौकरी है।

सात से 15 साल के अनुभव वाला एक वरिष्ठ सॉफ्टवेयर इंजीनियर बिग टेक फर्म से 300,000 डॉलर से 450,000 डॉलर तक की उम्मीद करता है। मेटा, गूगल, माइक्रोसॉफ्ट, ट्विटर, सेल्सफोर्स और अन्य जैसी बड़ी टेक फर्मो में छंटनी होने पर अब इस पैकेज में गिरावट साफ देखी जा रही है।


गूगल ने अब चीन में कर्मचारियों की छंटनी शुरू की

फोटो: IANS
फोटो: IANS

मीडिया ने सोमवार को बताया कि गूगल अब चीन में उन कर्मचारियों की छंटनी कर रहा है, जिन्होंने वैश्विक घोषणा के हिस्से के रूप में वरिष्ठ पदों और उच्च वेतन वाले कर्मचारियों को बाहर का रास्ता दिखा दिया है।

पेनडेली की रिपोर्ट के मुताबिक, कंपनी का उद्देश्य 'वेतन मानक को रीसेट करना और समग्र कार्य कुशलता में सुधार करते हुए परिचालन लागत को कम करना' है। रिपोर्ट के अनुसार, मुआवजे में स्टॉक और वार्षिक अवकाश छूट और नकद और चिकित्सा बीमा में 30,000 युआन (4,339 डॉलर) शामिल हैं और ये लाभ केवल 10 मार्च से पहले कंपनी छोड़ने के समझौते पर हस्ताक्षर करके प्राप्त किए जा सकते हैं।

"इसके अलावा, गूगल ने हटाए गए कर्मचारियों के लिए तीन महीने की बफर अवधि प्रदान की है, जिसके दौरान वे काम नहीं कर सकते हैं, लेकिन उन्हें सामान्य रूप से भुगतान किया जाता रहेगा।"

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;