अर्थ जगत: भारत की आर्थिक वृद्धि दर को लेकर संयुक्त राष्ट्र की बड़ी भविष्यवाणी और आईफोन ला रहा कमाल का वॉयस फीचर

संयुक्त राष्ट्र ने मंगलवार को कहा कि कई सकारात्मकताओं के साथ, इस वर्ष भारत की आर्थिक वृद्धि दर 5.8 प्रतिशत रहने की उम्मीद है। एप्पल द्वारा डिजाइन किए गए नए फीचर्स में उन लोगों के लिए पर्सनल वॉयस फीचर शामिल है।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

आईफोन ला रहा पर्सनल वॉयस फीचर, 15 मिनट में यूजर्स की आवाज में बोलना करेगा शुरू

अर्थ जगत: भारत की आर्थिक वृद्धि दर को लेकर संयुक्त राष्ट्र की बड़ी भविष्यवाणी और आईफोन ला रहा कमाल का वॉयस फीचर

एप्पल द्वारा डिजाइन किए गए नए फीचर्स में उन लोगों के लिए पर्सनल वॉयस फीचर शामिल है। यह फीचर आईफोन या आईपैड पर 15 मिनट के अंदर यूजर्स की आवाज में बोलना शुरू कर देगा। ऐप्पल के अनुसार, यूजर्स आईफोन या आईपैड पर 15 मिनट का ऑडियो रिकॉर्ड करने के लिए रेंडमाइज सेट के जरिए एक पर्सनल वॉयस बना सकते हैं। बोर्ड के सदस्य और टीम ग्लीसन गैर-लाभकारी संस्था में ए एल एस अधिवक्ता फिलिप ग्रीन ने कहा, सबसे महत्वपूर्ण बात दोस्तों और परिवार के साथ बातचीत करने में सक्षम होना है।

कंपनी ने कहा कि यह फीचर यूजर्स की जानकारी को निजी और सुरक्षित रखने के लिए ऑन-डिवाइस मशीन लर्निंग का इस्तेमाल करता है और लाइव स्पीच के साथ सहजता से एकीकृत होता है, ताकि यूजर्स अपने प्रियजनों के साथ जुड़ते समय अपनी पर्सनल वॉयस के साथ बात कर सकें।

इस साल भारत की आर्थिक वृद्धि 5.8 प्रतिशत : संयुक्त राष्ट्र

संयुक्त राष्ट्र ने मंगलवार को कहा कि कई सकारात्मकताओं के साथ, इस वर्ष भारत की आर्थिक वृद्धि दर 5.8 प्रतिशत रहने की उम्मीद है। अंतरराष्ट्रीय संगठनों के मुताबिक प्रमुख अर्थव्यवस्थाओं में भारत में सबसे तेजी से विकास होगा।

संयुक्त राष्ट्र की विश्व आर्थिक स्थिति और संभावनाओं की रिपोर्ट के मिडइयर अपडेट ने अगले साल के सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) को लचीली घरेलू मांग द्वारा समर्थित 6.7 प्रतिशत पर रखने का अनुमान लगाया है। रिपोर्ट को जारी करते हुए संयुक्त राष्ट्र की वैश्विक आर्थिक निगरानी शाखा के प्रमुख, हामिद राशिद ने कहा कि भारत विश्व अर्थव्यवस्था में चमकदार स्थान पर बना हुआ है, जिसमें कई सकारात्मक चीजें शामिल हैं। मुद्रास्फीति में उल्लेखनीय रूप से लगभग 5.5 प्रतिशत की कमी आई है।


नया ईवी पहले से ही निर्माण प्रक्रिया में है: मस्क

ट्विटर के सीईओ एलन मस्क ने अपने वार्षिक शेयरधारकों की बैठक के दौरान दो नए इलेक्ट्रिक वाहनों (ईवी) को लेकर कहा कि एक नया ईवी पहले से ही निर्माण प्रक्रिया में है। टेकक्रंच की रिपोर्ट के अनुसार, नए वाहनों में से एक 25,000 डॉलर की हैचबैक हो सकता है, जिसका जि़क्र मस्क ने 2020 में कंपनी के बैटरी डे के दौरान किया था।

मस्क ने सोमवार देर रात ऑस्टिन, टेक्सास में कहा, मैं केवल इस बात पर जोर देना चाहता हूं कि हम वास्तव में एक नया प्रोडक्ट बना रहे हैं। हम वास्तव में एक नया प्रोडक्ट डिजाइन कर रहे हैं। हम यहां हाथ पर हाथ धरे बैठे नहीं हैं। उन्होंने कहा, प्रोडक्ट्स के डिजाइन और निर्माण तकनीक दोनों ही उद्योग में मौजूद किसी भी चीज से ऊपर हैं। टेस्ला ने पहले मार्च में इंवेस्टर डे पर दो नए मॉडल पेश किए थे।

मनी ट्रांसफर सर्विस जेप्ज 420 कर्मचारियों की करेगा छंटनी

फिनटेक यूनिकॉर्न जेप्ज 26 प्रतिशत यानी 420 कर्मचारियों की छंटनी कर रहा है और प्रभावित लोगों को सूचित करना शुरू कर दिया है। सीएनबीसी के मुताबिक, लंदन बेस्ड मनी ट्रांसफर सर्विस प्रोवाइडर, जो वेस्टर्न यूनियन प्रतिद्वंद्वी है, में छंटनी मुख्य रूप से जेप्ज के कस्टमर केयर और इंजीनियरिंग टीमों को प्रभावित करेगी।

जेप्ज ने कहा कि यह वल्र्डरेमिट के साथ सेंडवेव के संयोजन के बाद डुप्लिकेट की गई भूमिकाओं को ध्यान में रखते हुए वर्कफोर्स ऑप्टीमाइजेशन को लागू किया जा रहा है। जेप्ज और सेंडवेव का इस्तेमाल 150 देशों में 11 मिलियन से अधिक यूजर्स द्वारा किया जा रहा है।


10 में से 7 भारतीयों ने स्टार्टअप जॉब छोड़ी, बड़े कॉर्पोरेट्स के लिए कतार में

मौजूदा आर्थिक अनिश्चितताओं और स्टार्टअप इकोसिस्टम के सामने आने वाली हालिया चुनौतियों को देखते हुए 10 में से 7 (73 फीसदी) नौकरी चाहने वाले अब भारत में स्टार्टअप्स के बजाय बड़े कार्पोरेट कंपनियों को तरजीह दे रहे हैं, मंगलवार को एक नई रिपोर्ट में यह बात सामने आई है। अग्रणी जॉब्स और प्रोफेशनल नेटवर्किं ग प्लेटफॉर्म अपना डॉट को के अनुसार, जॉब सीकर्स अब स्टार्टअप्स के बजाय संगठन के साथ काम करने और बढ़ने के लिए स्थिर और स्थापित कंपनियों को तरजीह दे रहे हैं।

केवल 27 प्रतिशत कर्मचारी अभी भी कैरियर के विकास के लिए स्टार्टअप पर स्विच करने पर विचार करेंगे। अपना डॉट को के संस्थापक और सीईओ निरमित पारिख ने कहा, नौकरी चाहने वालों की बदलती प्राथमिकताओं के साथ भारत का नौकरी बाजार तेजी से विकसित हो रहा है, ऐसे में नौकरी चाहने वाले अब बेहतर कैरियर की संभावनाओं के लिए स्थिर और स्थापित कंपनियों की ओर अधिक झुकाव रखते हैं।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;