अर्थ जगत: बिजनेसमैन कपल ने स्पाइसजेट में 19 फीसदी हिस्सेदारी ली और फोर्ड इंडिया के चेन्नई प्लांट पर सस्पेंस जारी

मुंबई स्थित व्यवसायी हरिहर महापात्रा और उनकी पत्नी प्रीति ने स्पाइसजेट एयरलाइन में 1,100 करोड़ रुपये के बड़े निवेश की घोषणा की है। फोर्ड इंडिया प्राइवेट लिमिटेड के प्लांट को लेकर सस्पेंस जारी है।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

2024 में 100 मिलियन से अधिक जेनेरिक एआई स्मार्टफोन की होगी शिपमेंट

एक रिपोर्ट में यह बात सामने आई है कि जेनेरिक एआई-संचालित स्मार्टफोन की शिपमेंट अगले साल 100 मिलियन यूनिट से अधिक तक पहुंचने की संभावना है। काउंटरप्वाइंट रिसर्च के अनुसार, 2027 तक जेनएआई स्मार्टफोन शिपमेंट 83 प्रतिशत सीएजीआर से बढ़ते हुए 522 मिलियन यूनिट तक पहुंचने की संभावना है।

2023 में जेनेरिक एआई स्मार्टफोन की हिस्सेदारी बाजार में 4 प्रतिशत होगी और अगले साल इसकी दोगुनी होने की संभावना है। अनुसंधान निदेशक तरुण पाठक ने कहा, "समग्र स्मार्टफोन बाजार में जेनएआई स्मार्टफोन की हिस्सेदारी अगले साल तक एकल अंक में होगी। लेकिन, ये संख्याएं उस उत्साह और विपणन अतिशयोक्ति को सटीक रूप से प्रतिबिंबित नहीं करेंगी, जो हम देखने की उम्मीद कर रहे हैं।"

उन्होंने कहा, "अगला साल सीखने का है और हम उम्मीद करते हैं कि जेनएआई स्मार्टफोन 2026 में एक महत्वपूर्ण मोड़ पर पहुंच जाएंगे, क्योंकि ये डिवाइस व्यापक मूल्य खंडों में प्रवेश कर जाएंगे।"

मुंबई बिजनेसमैन कपल ने स्पाइसजेट में 19 फीसदी हिस्सेदारी ली, 1,100 करोड़ का निवेश

फोटो: IANS
फोटो: IANS

स्पाइसजेट की वित्तीय स्थिति को मजबूत करने और विकास को गति देने के लिए एक रणनीतिक कदम में, मुंबई स्थित व्यवसायी हरिहर महापात्रा और उनकी पत्नी प्रीति ने एयरलाइन में 1,100 करोड़ रुपये के बड़े निवेश की घोषणा की है। एयरलाइन द्वारा स्टॉक एक्सचेंज फाइलिंग में ये बात बताई गई है, इस अधिग्रहण से दंपति को स्पाइसजेट में 19 प्रतिशत हिस्सेदारी मिल गई है।

निवेश योजना में तीन प्रतिशत हिस्सेदारी वाले एरीज अपॉर्चुनिटीज फंड और अधिकार के रूपांतरण के माध्यम से आठ प्रतिशत हिस्सेदारी हासिल करने वाली एलारा कैपिटल की भागीदारी शामिल है।

इससे पहले, स्पाइसजेट के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स ने सर्वसम्मति से 2,250 करोड़ रुपये से अधिक की नई पूंजी डालने को मंजूरी दी थी। इस कदम में वित्तीय संस्थानों, विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई), बड़ी आय वाले व्यक्तियों (एचएनआई) और निजी निवेशकों को इक्विटी शेयर जारी करना शामिल है।


फोर्ड इंडिया के चेन्नई प्लांट पर सस्पेंस जारी

फोटो: IANS
फोटो: IANS

फोर्ड इंडिया प्राइवेट लिमिटेड के प्लांट को लेकर सस्पेंस जारी है। अटकलें हैं कि अमेरिकी ऑटो कंपनी अपने भारतीय परिचालन के बारे में पुनर्विचार कर रही है। चेन्नई और गुजरात में भारतीय विनिर्माण परिचालन बंद करने के बाद फोर्ड इंडिया अपने चेन्नई संयंत्र के लिए खरीदार की तलाश कर रही थी। फोर्ड इंडिया ने इससे पहले अपना गुजरात प्लांट टाटा ग्रुप को बेच दिया था।

सूत्रों ने आईएएनएस को बताया था कि कई लोगों ने चेन्नई प्लांट का दौरा किया था, लेकिन कुछ भी ठोस नतीजा नहीं निकला। रिपोर्ट्स के मुताबिक, इच्छुक पार्टियों में से एक सज्जन जिंदल के नेतृत्व वाले जेएसडब्ल्यू ग्रुप के साथ बातचीत अधूरी रह गई है।

इस साल नवंबर में, भारत के 23 बिलियन डॉलर राजस्व वाले जेएसडब्ल्यू ग्रुप और 110 बिलियन डॉलर राजस्व वाली ऑटोमोबाइल निर्माता एसएआईसी मोटर, चीन ने भारत में एमजी मोटर को बदलने और विकसित करने के लिए एक रणनीतिक संयुक्त उद्यम में प्रवेश किया।

समझौते के अनुसार, हस्ताक्षरित जेएसडब्ल्यू की भारतीय संयुक्त उद्यम परिचालन में 35 प्रतिशत हिस्सेदारी होगी। दोनों ग्रुप्स ने एक बयान में कहा, एसएआईसी मोबिलिटी सॉल्यूशन देने के लिए टेक्नोलॉजी और प्रोडक्ट्स के साथ संयुक्त उद्यम का समर्थन करना जारी रखेगा।

2030 तक तीन गुणा हो जायेगा देश का डिजिटल मीडिया और मनोरंजन उद्योग

फोटो: IANS
फोटो: IANS

 देश के डिजिटल मीडिया और मनोरंजन उद्योग का आकार 2030 तक तीन गुना होने की संभावना है, जिसका मूल्य वर्तमान में 12 अरब डॉलर है। बुधवार को एक रिपोर्ट में यह बात कही गई है।

रेडसीर रिसर्च के अनुसार, इंटरनेट यूजरों की बढ़ती परिपक्वता के साथ-साथ डिजिटल मीडिया पर बढ़ते खर्च से अन्य व्यापक चुनौतियों जैसे डिजिटल विज्ञापन खर्च में गिरावट के कारण बाजार में आई हालिया मंदी से इस क्षेत्र को उबरने में मदद मिलने की उम्मीद है।

पिछले दो वर्षों में, नॉन-रियल मनी गेमिंग (आरएमजी) और ओटीटी वीडियो के बढ़ते चलन ने डिजिटल विज्ञापन खर्च में मंदी के बावजूद इस क्षेत्र के विकास पथ में प्रमुख योगदान दिया है।

वित्त वर्ष 2022-23 में डिजिटल मीडिया और मनोरंजन के सभी क्षेत्रों में पेड यूजरों की संख्या में वृद्धि देखी गई, जिसमें ओटीटी ऑडियो का योगदान सबसे ज्यादा रहा।


इंटेल इस साल 235 कर्मचारियों की करेगा छंटनी

फोटो: IANS
फोटो: IANS

चिप जायंट इंटेल इस साल नौकरी में कटौती के पांचवें राउंड में 235 कर्मचारियों की छंटनी कर रहा है और 2024 में कंपनी में और ज्यादा कर्मचारियों की छंटनी करेगा।

सैन फ्रांसिस्को क्रॉनिकल की रिपोर्ट के अनुसार, सांता क्लारा-मुख्यालय वाली कंपनी ने कहा कि वह फॉल्सम (सैक्रामेंटो काउंटी) में अपने रिसर्च एंड डेवलपमेंट फैसिलिटी में 235 कर्मचारियों को नौकरी से निकालने की योजना बना रही है। छंटनी 31 दिसंबर से शुरू होने वाली है और दो सप्ताह तक चलेगी। कंपनी के एक प्रवक्ता के हवाले से कहा गया, "इंटेल कंपनी भर में कुछ बिजनेस और फंक्शन-स्पेसिफिक वर्कप्लेस कटौती सहित लागत कम करते हुए अपनी रणनीति में तेजी लाने के लिए काम कर रही है।"

प्रवक्ता ने बताया कि नए साल में अतिरिक्त कटौती हो सकती है।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;