‘अच्छे दिन का भोंपू बजाने वाली बीजेपी सरकार ने अर्थव्यवस्था को किया पंचर’

प्रियंका गांधी ने अर्थव्यवस्था को मुद्दा बनाते हुए मोदी सरकार पर बड़ा हमला बोला है। प्रियंका गांधी ने कहा कि जीडीपी विकास दर से साफ है कि अच्छे दिन का भोंपू बजाने वाली बीजेपी सरकार ने अर्थव्यवस्था की हालत पंचर कर दी है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

केंद्र की मोदी सरकार आर्थिक मोर्चे पर पूरी तरह से नाकाम दिख रही है। जीडीपी में भारी गिरावट दर्ज की जा रही है। नौकरियों का अकाल है। लगभग सभी सेक्टर में मंंदी की आहट है। ऐसे में विपक्षी दल के नेता मोदी सरकार की नीतियों पर सवाल खड़े कर रहे हैं। कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी और पार्टी के प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने मोदी सरकार की आर्थिक नीतियों को कटघरे में खड़ा कर दिया है।

प्रियंका गांधी ने अर्थव्यवस्था को मुद्दा बनाते हुए मोदी सरकार पर बड़ा हमला बोला है। प्रियंका गांधी ने कहा कि जीडीपी विकास दर से साफ है कि अच्छे दिन का भोंपू बजाने वाली बीजेपी सरकार ने अर्थव्यवस्था की हालत पंचर कर दी है। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि, “न जीडीपी ग्रोथ है न रुपए की मजबूती। रोजगार गायब है। अब तो साफ करो कि अर्थव्यवस्था को नष्ट कर देने की ये किसकी करतूत है?”

वहीं कांग्रेस के प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने भी शनिवार सुबह ट्वीट कर मोदी सरकार की आर्थिक नीतियों को लेकर निशाना साधा। सुरजेवाला ने पिछली 6 तिमाही से जीडीपी में दर्ज की जा रही गिरावट के ग्राफ को ट्वीट कर मोदी सरकार से पूछा है कि अर्थव्यवस्था की जो दुर्दशा हुई है क्या यही नया भारत है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा, “बीजेपी सरकार में ‘अर्थव्यवस्था की दुर्दशा’! क्या ये है ‘नया भारत’?”

बता दें कि आर्थिक मोर्चे पर मोदी सरकार को जबरदस्त झटका लगा है। विकास दर सात साल के न्यूनतम स्तर पर पहुंच चुकी है। मौजूदा वित्तीय वर्ष की पहली तिमाही में जीडीपी 5 फीसदी पर पहुंच चुकी है जबकि पिछले यह 5.8 फीसदी पर था। गिरते विकास दर को लेकर कांग्रेस ने मोदी सरकार को घेरा है और 5 फीसदी के आंकड़े पर भी सवाल उठाए हैं।