अर्थ जगत: राजनीतिक अनिश्चितता के कारण पाक शेयर बाजार में हाहाकार और तीसरी तिमाही में बीएचईएल को भारी घाटा

पाकिस्तान स्टॉक एक्सचेंज (पीएसएक्स) में आम चुनाव के बाद मंगलवार को लगातार तीसरे सत्र में गिरावट जारी रही। भारत हेवी इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड ने मंगलवार को चालू वित्त वर्ष की अक्टूबर-दिसंबर तिमाही में 163 करोड़ रुपए का शुद्ध घाटा दर्ज किया।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

राजनीतिक अनिश्चितता के बीच पाक शेयर बाजार में लगातार तीसरे सत्र में गिरावट

पाकिस्तान स्टॉक एक्सचेंज (पीएसएक्स) में आम चुनाव के बाद मंगलवार को लगातार तीसरे सत्र में गिरावट जारी रही। चुनावों के बाद राजनीतिक स्पष्टता की कमी के कारण बेंचमार्क केएसई-100 सूचकांक करीब 1,400 अंक गिर गया।

इंट्रा-डे ट्रेडिंग के दौरान केएसई-100 इंडेक्स 1,391 अंक या 2.28 प्रतिशत की गिरावट के साथ 59,674.31 पर था। जियो न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, पिछले तीन सत्रों में सूचकांक 4,017 अंक या 6.2 प्रतिशत नीचे गिरा है।

पाक-कुवैत इन्वेस्टमेंट कंपनी के शोध प्रमुख समीउल्लाह तारिक ने कहा कि यह नुकसान "सरकार के गठन को लेकर अनिश्चितता" के कारण हुआ। इस बीच, टॉपलाइन सिक्योरिटीज के सीईओ मुहम्मद सोहेल ने भी इस तर्क का समर्थन किया कि गिरावट "अप्रत्याशित" चुनाव परिणामों के कारण है।

तीसरी तिमाही में बीएचईएल को 163 करोड़ रुपए का शुद्ध घाटा

अर्थ जगत: राजनीतिक अनिश्चितता के कारण पाक शेयर बाजार में हाहाकार और तीसरी तिमाही में बीएचईएल को भारी घाटा

भारत हेवी इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड ने मंगलवार को चालू वित्त वर्ष की अक्टूबर-दिसंबर तिमाही में 163 करोड़ रुपए का शुद्ध घाटा दर्ज किया। पिछले साल की समान तिमाही में कंपनी को 31 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हुआ था।

हालांकि, चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही के दौरान परिचालन से सार्वजनिक क्षेत्र की दिग्गज कंपनी का स्टैंडअलोन रेवेन्यू 4.5 प्रतिशत बढ़कर 5,504 करोड़ रुपए हो गया, जो पिछले वर्ष की समान अवधि में 5,264 करोड़ रुपए था।

बीएचईएल ने 2022-2023 की चौथी तिमाही में अपने तिमाही लाभ में गिरावट दर्ज की थी और तब से हर तिमाही में घाटा हुआ है। यह स्टील, तांबा और रबर जैसे प्रमुख कच्चे माल की उच्च लागत से जूझ रही है।


नॉर्डेन कम्युनिकेशन ने सी-डैक के साथ किया समझौता

अर्थ जगत: राजनीतिक अनिश्चितता के कारण पाक शेयर बाजार में हाहाकार और तीसरी तिमाही में बीएचईएल को भारी घाटा

नॉर्डेन कम्युनिकेशन ने एआई-बेस्ड जनरल पर्पस थर्मल कैमरे विकसित करने के लिए सेंटर फॉर डेवलपमेंट एंड एडवांस्ड कंप्यूटिंग (सी-डैक) के साथ समझौता किया है। सी-डैक इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के तहत एक अनुसंधान और विकास (आरएंडडी) संगठन है।

नॉर्डेन कम्युनिकेशन ने मंगलवार को एक बयान में कहा कि कंपनी ने 'सामान्य प्रयोजन थर्मल कैमरा' (जनरल पर्पस थर्मल कैमरे) के डेवलपमेंट के लिए टेक्नोलॉजी ट्रांसफर (टीओटी) पर आधारित एक विशेष साझेदारी की है।

नॉर्डेन कम्युनिकेशन के भारत और सार्क के निदेशक प्रशांत ओबेरॉय ने कहा, "यह सहयोग निगरानी प्रौद्योगिकी में आगे बढ़ने का एक अवसर है और 'मेक इन इंडिया' पहल के एक हिस्से के रूप में राष्ट्रीय सुरक्षा के प्रति अटूट समर्पण को दर्शाता है।"

भारतीय घरेलू एयरलाइन उद्योग वित्त वर्ष 2024 में 20 प्रतिशत से अधिक परिचालन लाभ करेगा अर्जित : क्रिसिल रेटिंग्स

अर्थ जगत: राजनीतिक अनिश्चितता के कारण पाक शेयर बाजार में हाहाकार और तीसरी तिमाही में बीएचईएल को भारी घाटा

क्रेडिट रेटिंग एजेंसी क्रिसिल रेटिंग्स लिमिटेड ने कहा कि वित्त वर्ष 2024 में परिचालन लाभ लगभग तीन गुना होने के बाद, घरेलू एयरलाइन उद्योग का परिचालन लाभ अगले वित्त वर्ष में 20 प्रत‍िशत से अधिक हो जाएगा।

क्रिसिल रेटिंग्स ने कहा,“घरेलू एयरलाइन उद्योग का परिचालन लाभ अगले वित्त वर्ष में 20 प्रति‍शत से अधिक बढ़ जाएगा। इस वित्तीय वर्ष में लगभग तीन गुना होने के बाद, यात्री यातायात में मजबूत सुधार, यात्रियों के लिए अस्थिर ईंधन की कीमतों को पारित करने की क्षमता और विदेशी मुद्रा में उतार-चढ़ाव में कमी आई है।“

यह उनके क्रेडिट मेट्रिक्स का समर्थन करेगा, बावजूद इसके कि इस और अगले वित्तीय वर्ष में बेड़े में बढ़ोतरी के लिए ऋण में उल्लेखनीय वृद्धि होने की उम्मीद है। तीन एयरलाइनों का विश्लेषण, जो भारत के हवाई यातायात का दो-तिहाई हिस्सा है, इतना ही संकेत देता है।


भारत में लगभग 30 करोड़ रुपये मूल्य के नकली एचपी उत्पाद जब्त किए गए : रिपोर्ट

नवंबर 2022 और अक्टूबर 2023 के बीच 30 करोड़ मूल्य के एचपी के नकली उत्पाद जैसे टोनर और स्याही कार्ट्रिज बरामद किया गया। मंगलवार को जारी एक रिपोर्ट से इसकी पुष्टि हुई।

एचपी एंटी-जालसाज़ी और धोखाधड़ी (एसीएफ) रिपोर्ट के अनुसार, भारत में कानून प्रवर्तन अधिकारियों ने एचपी की जालसाजी विरोधी पहल के समर्थन से लगभग 4.4 लाख अवैध वस्तुओं को बाजार से सफलतापूर्वक हटा दिया है। इस तरह की अधिकांश कार्रवाई मुंबई में हुई, जहां तकरीबन 1 लाख के अवैध सामान जब्त किए गए।

मुंबई में अधिकारियों ने पिछले साल फरवरी में लक्षित प्रवर्तन कार्रवाई करते हुए एचपी प्रिंटर के लिए नकली कार्ट्रिज बनाने और उन्हें ऑनलाइन बेचने की योजना को रोक दिया था। रिपोर्ट में कहा गया है कि उन्होंने नकली कार्ट्रिज और घटकों सहित लगभग 25,000 अवैध वस्तुएं जब्त की।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;