अर्थजगत की खबरें: स्टरलाइट कॉपर संयंत्र बेचने का स्थानीय लोगों ने किया विरोध, 52 हजार रुपए के पार हुआ सोना

ब्लूमबर्ग बिलयनेयर्स इंडेक्स के अनुसार इस साल अब तक दुनिया के 500 सबसे अमीर लोगों ने 110 लाख करोड़ रुपये गंवा दिए हैं। केंद्र ने वायरलेस जैमर और बूस्टर/रिपीटर्स के उपयोग पर निर्देश के साथ ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म्स को वायरलेस जैमर की बिक्री पर चेतावनी दी है।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

स्टरलाइट कॉपर संयंत्र बेचने के खिलाफ सड़क पर उतरे स्थानीय लोग

तमिलनाडु में स्टरलाइट कॉपर के थूथुकुडी संयंत्र को बेचे जाने की घोषणा से स्थानीय लोगों को आजीविका की चिंता सताने लगी है, जिसकी वजह से जिले के 14 से अधिक गांवों में इसे लेकर भारी विरोध प्रदर्शन हुआ। इन गांवों के लोग संयंत्र को दोबारा शुरू करने और वेदांता से संयंत्र बेचने के निर्णय पर पुनर्विचार करने की मांग कर रहे हैं। संयंत्र को दोबारा शुरू करने के संबंध में इन लोगों ने मुख्यमंत्री और राज्य के संबंधित कार्यालयों में कई आवेदन भी दिए हैं।

पर्यावरण प्रदूषण के आरोप में थूथुकुडी संयंत्र को 2018 में बंद कर दिया गया था। इस संयंत्र में स्थाई रूप से काम करने वाले कर्मचारी अन्य संयंत्रों में भेज दिए गए, लेकिन अस्थायी कर्मचारी और वेंडर्स की आजीविका का एकमात्र सहारा बंद हो गया। ये लोग ही संयंत्र को दोबारा शुरू करने की मांग कर रहे हैं। हालांकि, यह संयंत्र स्थानीय लोगों के विरोध के बाद ही बंद किया गया था। प्रदूषण मानकों का उल्लंघन करने के कारण स्थानीय लोग इससे खफा थे।

52 हजार रुपए के पार हुआ सोना, अभी जारी रह सकती है तेजी

सोने के भाव में तेजी जारी है। आज 4 जुलाई को सोना दो महीने के उच्चतम स्तर को पार करते हुए एक बार फिर 52,000 रुपए प्रति 10 ग्राम के पार निकल गया। इंडिया बुलियन एंड ज्वैलर्स एसोसिएशन की वेबसाइट के मुताबिक, सर्राफा बाजार में सोना 548 रुपए महंगा होकर 52,339 रुपए पर पहुंच गया है।

देश में यह सोने का दो महीने का उच्चतम स्तर है। इससे पहले 22 मार्च को सोना 52,474 रुपए पर पहुंचा था। इसके बाद इसके दामों में गिरावट देखने को मिली थी। वायदा बाजार की बात करें तो एमसीएक्स पर दोपहर 1 बजे सोना 212 रुपए की गिरावट के साथ 52,129 रुपए पर ट्रेड कर रहा था।


इस साल दुनिया के 500 सबसे अमीरों ने गंवाए 111 लाख करोड़ रुपए

दुनिया के अमीरों के लिए साल 2022 अच्छा नहीं रहा है। ब्लूमबर्ग बिलनियर्स इंडेक्स के अनुसार इस साल के अब तक के 6 महीने में ही दुनिया के 500 सबसे अमीर लोगों ने 1.4 ट्रिलियन डॉलर (110 लाख करोड़ रुपये) गंवा दिए हैं। इस दौरान दुनिया के सबसे अमीर आदमी यानी टेस्ला के मालिक एलन मस्क ने 4.73 लाख करोड़ रुपये गंवाए हैं। वहीं दुनिया के दूसरे सबसे अमीर आदमी ई-कॉमर्स कंपनी अमेजन के मालिक जेफ बेजोस की सम्पत्ति 4.68 लाख करोड़ रुपए कम हुई है।

इस साल दुनिया के 10 सबसे अमीरों लोगों में से 10 की संपत्ति में भारी गिरावट आई है। सबसे अमीर 500 लोगों में से सिर्फ एक की सम्पत्ति मे गिरावट नहीं आई है और वो हैं अडाणी ग्रुप के मालिक गौतम अडाणी। दुनिया के छठे सबसे अमीर आदमी गौतम अडाणी की संपत्ति इस साल अब तक 1.76 लाख करोड़ रुपये बढ़ी है।

केंद्र ने ऑनलाइन प्लेटफॉर्मो को वायरलेस जैमर की बिक्री को लेकर चेताया

केंद्र सरकार ने सोमवार को वायरलेस जैमर और बूस्टर/रिपीटर्स के उचित उपयोग पर निर्देश देने के साथ-साथ ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म्स को वायरलेस जैमर की अवैध बिक्री के लिए चेतावनी दी। दूरसंचार विभाग ने कहा कि सेल्युलर सिग्नल जैमर, जीपीएस ब्लॉकर या अन्य सिग्नल जैमिंग डिवाइस का इस्तेमाल आम तौर पर अवैध है। इसके इस्तेमाल के लिए सरकार से विशेष अनुमति जरूरी है।

इनकी ऑनलाइन बिक्री से चिंतित विभाग ने सभी ई-कॉमर्स कंपनियों को अपने ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर वायरलेस जैमर की बिक्री या बिक्री की सुविधा देने से आगाह किया। निजी संगठन या व्यक्ति भारत में जैमर की खरीद और उसका उपयोग नहीं कर सकते हैं। दूरसंचार विभाग ने कहा, "दिशानिर्देशों के तहत दी गई अनुमति के अलावा, भारत में सिग्नल जाम करने वाले उपकरणों का विज्ञापन, बिक्री, वितरण, आयात अवैध है।


क्रिप्टो लेंडिंग प्लेटफॉर्म सेल्सियस ने 150 कर्मचारियों को निकाला

अमेरिकी और इजरायली क्रिप्टोकरेंसी लेंडिंग प्लेटफॉर्म सेल्सियस ने अपने 150 कर्मचारियों को काम से निकाल दिया है। अंतर्राष्ट्रीय क्रिप्टो बाजार मंदी के दौर से गुजर रहा है, जिसे देखते हुए सेल्सियस ने अपने एक चौथाई कर्मचारियों को बाहर का रास्ता दिखा दिया है। इसने पिछले महीने 'अत्यधिक खराब बाजार परिदृश्य' का हवाला देते हुए क्रिप्टो की सभी निकासी पर भी रोक लगा दी थी।

इजराइली मीडिया कंपनी कैल्कलिस्ट के अनुसार सेल्सियस ने एक ब्लॉगपोस्ट में लिखा, "हम जितनी जल्दी हो सके तरलता और संचालन को स्थिर करने के लिए काम कर रहे हैं। हम इस चुनौतीपूर्ण समय में पूरे समुदाय और सभी ग्राहकों को ध्यान में रखते हुए काम कर रहे हैं।" पिछले महीने क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज वॉल्ड ने अपने करीब 30 प्रतिशत कर्मचारियों की छंटनी का निर्णय लिया था। सिंगापुर स्थित क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज बाईबिट ने भी 2,000 कर्मचारियों की छंटनी की है। कॉइनबेस, जेमिनी, क्रिप्टो डॉट कॉम और अन्य क्रिप्टो एक्सचेंज ने भी कर्मचारियों की छंटनी की घोषणाएं की हैं।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;