अर्थ जगत: RBI की नीति घोषणा से पहले बाजार सतर्क और एडब्ल्यूजी ने भारत को किया डाउनग्रेड

सपाट शुरुआत के बाद निफ्टी ने वीकली एक्सपायरी पर उतार-चढ़ाव भरा कारोबार किया और सत्र 20,901.15 पर बंद हुआ। वैश्विक निगरानी समूह एविएशन वर्किंग ग्रुप (एडब्ल्यूजी) ने गुरुवार को भारत की रेटिंग "सकारात्मक" से घटाकर "नकारात्मक" कर दी।

फोटो : सोशल मीडिया
फोटो : सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

माइक्रोसॉफ्ट इंडिया ने 1 फरवरी से बिजनेस सॉफ्टवेयर पर 6 प्रतिशत बढ़ोतरी की घोषणा की

 माइक्रोसॉफ्ट इंडिया ने 1 फरवरी से अपने कमर्शियल ऑन-प्रिमाइसेस सॉफ्टवेयर और ऑनलाइन सर्विसेस के लिए कीमतों में 6 प्रतिशत बढ़ोतरी की घोषणा की है, जिसमें माइक्रोसॉफ्ट 365 और डायनेमिक्स 365 शामिल हैं।

भारत में माइक्रोसॉफ्ट द्वारा बढ़ोतरी का लगातार तीसरा वर्ष होगा। माइक्रोसॉफ्ट ने एक ब्लॉग पोस्ट में कहा, ''1 फरवरी 2024 से भारत में क्लाउड प्रोडक्ट्स के लिए आईएनआर कीमतें 6 प्रतिशत बढ़ जाएंगी और ऑन-प्रिमाइसेस सॉफ़्टवेयर भी 6 प्रतिशत बढ़ जाएगा।''

हालांकि, इन परिवर्तनों का उन प्रोडेक्ट्स के लिए थोक लाइसेंसिंग समझौतों के तहत कमर्शियल ग्राहकों द्वारा की गई मौजूदा खरीदारी पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा, जो मूल्य संरक्षण के अधीन हैं। महामारी के दौरान, छोटे और मध्यम आकार के उद्यमों (एसएमई) द्वारा अपनाने में अचानक बढ़ोतरी के कारण, भारत में माइक्रोसॉफ्ट के बिजनेस सूट की पेशकशों को महत्वपूर्ण रूप से अपनाया गया।

गो फर्स्ट से विमान वापस पाने में पट्टेदार रहे विफल, एडब्ल्यूजी ने भारत को किया डाउनग्रेड

 वैश्विक निगरानी समूह एविएशन वर्किंग ग्रुप (एडब्ल्यूजी) ने गुरुवार को भारत की रेटिंग "सकारात्मक" से घटाकर "नकारात्मक" कर दी। विदेशी पट्टेदार वाडिया समूह की बंद पड़ी एयरलाइन गो फर्स्ट से अपने विमान वापस नहीं ले पाए हैं। सात महीने पहले गो फर्स्ट को दिवालिया घोषित किया गया था।

एडब्ल्यूजी के डाउनग्रेड से भारत की वाणिज्यिक एयरलाइनों जैसे एयर इंडिया, इंडिगो, स्पाइसजेट और अकासा के लिए विमानों को पट्टे पर लेने की लागत बढ़ने की संभावना है।

सरकार द्वारा 3 अक्टूबर, 2023 को एक अधिसूचना जारी करने के बाद एडब्ल्यूजी ने अपने सीटीसी अनुपालन सूचकांक में भारत के स्कोर में अनुमानित वृद्धि के साथ एक सकारात्मक निगरानी सूची नोटिस जारी किया था। अधिसूचना में प्रावधान किया गया था कि दिवाला और दिवालियापन संहिता, 2016 के तहत अधिस्थगन विमान, विमान इंजन, एयरफ्रेम और हेलीकॉप्टर पर पर लागू नहीं होगा।


आरबीआई की नीति घोषणा से पहले बाजार सतर्क

सपाट शुरुआत के बाद निफ्टी ने वीकली एक्सपायरी पर उतार-चढ़ाव भरा कारोबार किया और सत्र 20,901.15 पर बंद हुआ। दूसरी ओर बैंक निफ्टी ने 46,500 के करीब समर्थन हासिल किया और शुक्रवार को वित्तीय वर्ष 2023-24 की आरबीआई की पांचवीं मौद्रिक नीति से पहले हरे रंग में 46,841.40 पर बंद होने में कामयाब रहा। च्वाइस ब्रोकिंग के रिसर्च एनालिस्ट देवेन मेहता ने ये बात कही है।

उधर सेंसेक्स 0.19 फीसदी की गिरावट के साथ 69,521.69 पर बंद हुआ और निफ्टी 0.17 फीसदी की गिरावट के साथ 20,901.15 पर बंद हुआ। बैंक निफ्टी 0.01 फीसदी की तेजी के साथ सपाट 46,841.40 पर बंद हुआ।

उन्होंने कहा कि सेक्टरों में निफ्टी ऑटो, निफ्टी पीएसयू बैंक और निफ्टी फार्मा हरे निशान पर बंद हुए, जबकि निफ्टी आईटी, निफ्टी एफएमसीजी और निफ्टी मेटल नीचे बंद हुए।

अपने कर्मचारियों को नवंबर का वेतन देने में विफल रहा डंज़ो : रिपोर्ट

अर्थ जगत: RBI की नीति घोषणा से पहले बाजार सतर्क और एडब्ल्यूजी ने भारत को किया डाउनग्रेड

किराना डिलीवरी करने वाला डंज़ो इस साल की शुरुआत में राजस्व वित्तपोषण फर्म वनटैप के साथ साझेदारी करने के बावजूद अपने मौजूदा कर्मचारियों को नवंबर का वेतन देने में विफल रहा है। मीडिया रिपोर्ट में गुरुवार को यह जानकारी दी गई।

मनीकंट्रोल की रिपोर्ट के अनुसार, इस हफ्ते की शुरुआत में, कंपनी ने कर्मचारियों से कहा था कि निवेशकों से आश्वासन मिला है कि अपेक्षित धनराशि उन्हें अगले सप्ताह की शुरुआत तक भेज दी जाएगी और कर्मचारियों को भरोसा दिया कि नवंबर का वेतन उन्हें जारी कर दिया जाएगा। डंज़ो ने इस वर्ष अपने कर्मचारियों के वेतन में कई बार देरी की है।


टाटा पावर के शेयर 12 फीसदी बढ़े

अर्थ जगत: RBI की नीति घोषणा से पहले बाजार सतर्क और एडब्ल्यूजी ने भारत को किया डाउनग्रेड

 ब्रोकरेज द्वारा अपग्रेड किए जाने के बाद गुरुवार को टाटा पावर के शेयर में 12 फीसदी की बढ़ोतरी हुई। बीएसई पर टाटा पावर 12 फीसदी बढ़कर 329 रुपये पर कारोबार कर रहा है।

जेएम फाइनेंशियल इंस्टीट्यूशनल सिक्योरिटीज ने एक शोध में कहा कि टाटा पावर की पुनर्निर्धारित रणनीति में उच्च मार्जिन वाले समूह कैप्टिव आरई (नवीकरणीय) अवसरों का दोहन, कम मूल्य वाले व्यवसायों से बाहर निकलना, ब्राउनफील्ड पंप हाइड्रो स्टोरेज में घुसना और वितरण से परे ट्रांसमिशन व्यवसाय का विस्तार करना शामिल है।

इससे मुंद्रा मुद्दे का समाधान हुआ जिससे कंपनी का त्वरित विकास हुआ। हम वित्त वर्ष 23-26 में 15 फीसदी/23 फीसदी/32 फीसदी के राजस्व का अनुमान लगाते हैं, जो बढ़ते परिसंपत्ति आधार और बेहतर मार्जिन प्रोफ़ाइल द्वारा समर्थित है।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;