अर्थ जगत: RBI की नीतिगत बैठक से पहले निफ्टी सपाट और जनवरी में वेज थाली की कीमतें बढ़ीं

निफ्टी बुधवार को हरे निशान में खुला, लेकिन जल्द ही चमक खोकर 21,931 के स्तर पर स्थिर होकर बंद हुआ। प्याज और टमाटर की कीमतों में क्रमशः 35% और 20% की वृद्धि के कारण शाकाहारी थाली की लागत में वृद्धि दर्ज की गई।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

आरबीआई की नीतिगत बैठक से पहले निफ्टी सपाट

निफ्टी बुधवार को हरे निशान में खुला, लेकिन जल्द ही चमक खोकर 21,931 के स्तर पर स्थिर होकर बंद हुआ। मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज के खुदरा अनुसंधान प्रमुख सिद्धार्थ खेमका ने कहा कि आईटी को छोड़कर, अन्य सभी सेक्टर हरे निशान में बंद हुए।

पीएसयू बैंक और रियल्टी सेक्टर में खरीदारी देखने को मिली। उन्होंने कहा कि रियल एस्टेट कंपनियों के तीसरी तिमाही के अच्छे आंकड़ों के बीच इस सेक्टर में तेजी थी, जबकि आईटी में पिछले कुछ सत्रों में तेजी के बाद मुनाफावसूली देखी गई।

उन्होंने कहा, कुल मिलाकर, गुरुवार को होने वाली आरबीआई नीतिगत बैठक के नतीजों से पहले बाजार सपाट रहा। आर्थिक मोर्चे पर, अमेरिकी खुदरा बिक्री डेटा और चीन का सीपीआई डेटा बुधवार को ही जारी किया जाएगा।

स्पेन यात्रा लाभदायक रही, 3,440 करोड़ के निवेश के समझौतों पर हस्ताक्षर किए : स्टालिन

अर्थ जगत: RBI की नीतिगत बैठक से पहले निफ्टी सपाट और जनवरी में वेज थाली की कीमतें बढ़ीं

तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एमके स्टालिन ने बुधवार को कहा कि उनकी आठ दिवसीय स्पेन यात्रा लाभदायक रही। यात्रा के दौरान 3,440 करोड़ रुपये के निवेश के समझौतों पर हस्ताक्षर किए गए।

स्टालिन ने चेन्नई अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर पत्रकारों से बातचीत में कहा कि उन्हें राज्य में और अधिक निवेश आने की उम्मीद है। जर्मन शिपिंग और कंटेनर परिवहन प्रमुख हापाग-लॉयड एजी ने 2,500 करोड़ रुपये के निवेश के लिए समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं।

तकनीकी शिक्षण, अनुसंधान उपकरण डिजाइन और निर्माण करने वाली स्पेन स्थित एडिबॉन ने 540 करोड़ रुपये के निवेश के लिए एक समझौता भी किया है। स्पेन की सैनिटरी कंपनी रोकाटो राज्य में 400 करोड़ रुपये का निवेश करेगी।


माइक्रोसॉफ्ट भारत को एआई वर्ल्ड लीडर बनने में मदद करेगा : सत्या नडेला

अर्थ जगत: RBI की नीतिगत बैठक से पहले निफ्टी सपाट और जनवरी में वेज थाली की कीमतें बढ़ीं

भारत अपनी आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई) यात्रा शुरू कर रहा है। ऐसे में माइक्रोसॉफ्ट के चेयरमैन और सीईओ सत्या नडेला ने बुधवार को कहा, ''कंपनी एआई वर्कफोर्स को बढ़ावा देकर और हर सेक्टर और इंडस्ट्री को एआई के साथ बदलने के लिए सशक्त बनाकर देश को आत्मनिर्भर बनने में मदद करेगा।''

अपने संबोधन के दौरान, नडेला ने घोषणा की कि माइक्रोसॉफ्ट 2025 तक भारत में 2 मिलियन लोगों को एआई स्किलिंग के अवसर प्रदान करेगा, ताकि एआई युग में भारत की क्षमता को मजबूत किया जा सके।

नडेला ने कहा, "भारत एआई के वादे को हकीकत में बदलने की स्थिति में है। हम देश के एआई स्किल्स गैप को कम करने और पूरे देश में नए अवसर पैदा करने में मदद करने के लिए पब्लिक और प्राइवेट सेक्टर में व्यापक रूप से साझेदारी करने के लिए प्रतिबद्ध हैं।''

टाटा कम्युनिकेशंस ने माइक्रोसॉफ्ट के साथ की साझेदारी

अर्थ जगत: RBI की नीतिगत बैठक से पहले निफ्टी सपाट और जनवरी में वेज थाली की कीमतें बढ़ीं

टाटा कम्युनिकेशंस ने भारत में उद्यमों के लिए माइक्रोसॉफ्ट टीम्स पर सहयोग और कनेक्टिविटी बढ़ाने के लिए माइक्रोसॉफ्ट के साथ साझेदारी की है। कंपनी ने यह घोषणा बुधवार को की।

कंपनी ने कहा, ''टाटा कम्युनिकेशंस ग्लोबलरैपिड प्लेटफॉर्म भारतीय उद्यम यूजर्स के साथ-साथ देश में मौजूद बहुराष्ट्रीय कंपनियों को ऑपरेटर कनेक्ट प्लेटफॉर्म का उपयोग कर दुनिया भर में कहीं भी, किसी भी टीम डिवाइस पर कैरियर-ग्रेड पीएसटीएन वॉयस कॉल करने और प्राप्त करने में सक्षम बनाएगा।''

यूनिफाइड कम्युनिकेशंस एंड कोलैबोरेशन के उपाध्यक्ष श्रीराम संपत ने कहा, "ऑपरेटर कनेक्ट फॉर टीम्स पर माइक्रोसॉफ्ट के साथ हमारा सहयोग उद्यमों के लिए कार्यबल उत्पादकता और दक्षता को और बढ़ाएगा जबकि उन्हें स्थानीय नियमों और अनुपालन का पालन करने में मदद करेगा।"


जनवरी में वेज थाली की कीमतें बढ़ीं, नॉन-वेज भोजन की कीमतें घटीं : रिपोर्ट

अर्थ जगत: RBI की नीतिगत बैठक से पहले निफ्टी सपाट और जनवरी में वेज थाली की कीमतें बढ़ीं

क्रिसिल मार्केट इंटेलिजेंस एंड एनालिटिक्स की एक रिपोर्ट के अनुसार, शाकाहारियों ने अपने घरों में प्याज, टमाटर, चावल और दालों के लिए अधिक कीमत चुकाने के कारण जनवरी 2023 की तुलना में जनवरी 2024 में प्रति थाली 5 प्रतिशत अधिक खर्च किया।

दूसरी ओर, जनवरी 2023 में प्रचलित दरों की तुलना में चिकन की कीमत में लगभग 26 प्रतिशत की कमी के कारण घर में पकाई गई मांसाहारी थाली की कीमत में पिछले महीने 13 प्रतिशत की कमी दर्ज की गई।

प्याज और टमाटर की कीमतों में क्रमशः 35% और 20% की वृद्धि के कारण शाकाहारी थाली की लागत में वृद्धि दर्ज की गई। रिपोर्ट में कहा गया है कि चावल (सब्जी थाली की लागत का 12% हिस्सा) और दालों (9%) की कीमतों में भी क्रमशः 14% और 21% की वृद्धि हुई है।

रिपोर्ट के मुताबिक, नॉन-वेज थाली की कीमत में कमी उच्च उत्पादन के बीच ब्रॉयलर की कीमतों में साल-दर-साल लगभग 26% की गिरावट के कारण हुई। शाकाहारी और मांसाहारी दोनों के लिए राहत की बात यह है कि दिसंबर 2023 की तुलना में जनवरी 2024 में उनकी थालियों की कीमत क्रमशः 6% और 8% गिर गई।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;