अर्थ जगत की खबरें: चीन पर कोरोना वायरस का कहर, खाने-पीने की चीजें 20 फीसदी हुई महंगी, क्रूड में फिसलन जारी

खतरनाक कोरोना वायरस के चलते चीन में महंगाई दर 8 साल से अधिक के ऊपरी स्तर पर पहुंच गई। यही नहीं, जनवरी में खाद्य वस्तुओं की खुदरा महंगाई दर 20.6 फीसदी पर पहुंच गई है। वहीं कोरोना वायरस संकट से क्रूड में फिसलन जारी है।

फोटो: सोशल मीडिया 
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

कोरोना वायरस का कहर अब अर्थव्यवस्था पर भारी पड़ रहा है। खतरनाक कोरोना वायरस के चलते चीन में महंगाई दर 8 साल से अधिक के ऊपरी स्तर पर पहुंच गई। यही नहीं, जनवरी में खाद्य वस्तुओं की खुदरा महंगाई दर 20.6 फीसदी पर पहुंच गई है। सोमवार को जारी चीन के आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक चीन में खुदरा महंगाई दर जनवरी में 5.4 फीसदी रही, जो दिसंबर 4.5 फीसदी थी। खुदरा महंगाई की यह दर अक्टूबर 2011 के बाद सबसे ज्यादा है, जब यह दर 5.5 फीसदी पर थी।

कोरोना वायरस संकट से क्रूड में फिसलन जारी

कोरोना वायरस संकट से क्रूड में फिसलन जारी है। ब्रेंट क्रूड 54 डॉलर के करीब कारोबार कर रहा है। वहीं नेचुरल गैस भी 4 साल के निचले स्तर पर पहुंच गया है। कोरोना संकट से क्रूड पर दबाव बरकरार है। कोरोना संकट से डिमांड घटने की आशंका जताई गई है। OPEC के प्रोडक्शन कट प्रस्ताव से भी सहारा नहीं मिल पाया है। OPEC के प्रस्ताव पर रुस का रुख साफ नहीं है।

सेंसेक्स 162 अंक नीचे

देश के शेयर बाजारों में सोमवार को गिरावट दर्ज की गई। प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 162.23 अंकों की गिरावट के साथ 40,979.62 पर और निफ्टी 66.85 अंकों की गिरावट के साथ 12,031.50 पर बंद हुआ। बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सुबह 24.87 अंकों की तेजी के साथ 41,166.72 पर खुला और 162.23 अंकों या 0.39 फीसदी की गिरावट के साथ 40,979.62 पर बंद हुआ। दिन भर के कारोबार में सेंसेक्स ने 41,172.06 के ऊपरी स्तर और 40,798.98 के निचले स्तर को छुआ।

बीएसई के मिडकैप व स्मॉलकैप सूचकांक में गिरावट रही। बीएसई का मिडकैप सूचकांक 0.78 अंकों की गिरावट के साथ 15,904.71 पर और स्मॉलकैप सूचकांक 0.43 अंकों की गिरावट के साथ 14,776.33 पर बंद हुआ। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी 4.00 अंकों की मामूली तेजी के साथ 12,102.35 पर खुला और 66.85 अंकों या 0.55 फीसदी की गिरावट के साथ 12,031.50 पर बंद हुआ। दिन भर के कारोबार में निफ्टी ने 12,103.55 के ऊपरी और 11,990.75 के निचले स्तर को छुआ।

बीएसई के सभी 19 सेक्टरों में गिरावट रही-धातु (3.14 फीसदी), ऑटो (2.37 फीसदी), बिजली (1.66फीसदी), उपभोक्ता टिकाऊ वस्तुएं (1.64 फीसदी)व यूटीलिटीज (1.25फीसदी) प्रमुख रहे।

लगातार पांचवें दिन घटे पेट्रोल, डीजल के दाम

पेट्रोल और डीजल के दाम में लगातार पांचवें दिन सोमवार को गिरावट का सिलसिला जारी रहा। पेट्रोल का भाव फिर दिल्ली और मुंबई में 13 पैसे जबकि कोलकाता में 18 पैसे और चेन्नई में 14 पैसे प्रति लीटर सस्ता हो गया है। वहीं, डीजल का दाम दिल्ली और कोलकाता में 20 पैसे जबकि मुंबई और चेन्नई में 21 पैसे प्रति लीटर घट गया है। बीते पांच दिनों में पेट्रोल का दाम दिल्ली, कोलकाता, मुंबई और चेन्नई में क्रमश: 88 पैसे, 91 पैसे, 87 पैसे और 93 पैसे प्रति लीटर कम हो गया है जबकि डीजल की कीमत चारों महानगरों में क्रमश: 97 पैसे, 1.02 रुपये, 1.03 पैसे और 1.04 पैसे प्रति लीटर घट गई है।

इंडियन ऑयल की वेबसाइट के अनुसार, दिल्ली, कोलकता, मुंबई और चेन्नई में पेट्रोल का दाम घटकर क्रमश: 72.10 रुपये, 74.74 रुपये, 77.76 रुपये और 74.90 रुपये प्रति लीटर हो गया है।वहीं, चारों महानगरों में डीजल की कीमत भी घटकर क्रमश: 65.07 रुपये, 67.39 रुपये, 68.19 रुपये और 68.72 रुपये प्रति लीटर हो गई है।

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

लोकप्रिय