अर्थ जगत की 5 बड़ी खबरें: 610 रुपये महंगा हुआ सोना और कोरोना की दूसरी लहर के बीच इंश्योरेंस कंपनियों की हुई चांदी!

सोने की कीमतों में शनिवार को थोड़ा इजाफा देखा गया है। इसके साथ ही चांदी के दाम में भी उछाल देखने को मिला और कोरोना की दूसरी लहर के कारण अप्रैल में बीमा की मांग बढ़ी है। यही कारण है कि अप्रैल में इंश्योरेंस कंपनियों के न्यू बिजनेस प्रीमियम में 45% की ग्रोथ रही है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

RBI ने मिलथ को-ऑपरेटिव बैंक पर लगे प्रतिबंधों को 3 महीने आगे बढ़ाया

भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने कर्नाटक स्थित मिलथ को-ऑपरेटिव बैंक पर लगे प्रतिबंधों को 8 अगस्त, 2021 तक तीन महीने के लिए बढ़ा दिया है। भारतीय रिजर्व बैंक के निदेशरें के अनुसार, सहकारी बैंक आरबीआई के पूर्व अनुमोदन के बिना किसी भी प्रकार के ऋण या इसे रिन्यू नहीं कर सकेगा। इसके साथ ही यह कोई भी निवेश नहीं करेगा और न ही धनराशि उधार ले पाएगा और न ही नए जमा की स्वीकृति दे पाएगा। इसे किसी भी प्रकार के संवितरण की अनुमति भी नहीं है। आरबीआई के निदेशरें के अनुसार, बैंक किसी भी समझौते या व्यवस्था में प्रवेश नहीं करेगा और न ही अपनी किसी भी संपत्ति की बिक्री या हस्तांतरण कर सकेगा। इसके अलावा, केंद्रीय ने इस बैंक में प्रत्येक बचत या चालू खाते के साथ ही किसी भी अन्य जमा खाते से 1,000 रुपये की निकासी सीमा भी लगाई है। प्रतिबंधों को पहली बार मई 2019 में लगाया गया था, मगर उसके बाद इन्हें बढ़ा दिया गया। इसे अंतिम बार 7 मई, 2021 तक बढ़ाया गया था।

माइक्रोसॉफ्ट कथित तौर पर विडोंज 10एक्स को करेगा सम्मिलित :रिपोर्ट

माइक्रोसॉफ्ट अपने विंडोज 10 एक्स ऑपरेटिंग सिस्टम के वैरिएंट को बाजार में नहीं लाएगी क्योंकि अब इसे विंडोज 10 में सुधार करने के पक्ष में रखा गया है। द वर्ज के मुताबिक, पेट्री का हवाला देते हुए, विंडोज 10 एक्स अब इस साल शिप नहीं होगा और ओएस संभवत अपने वर्तमान स्वरूप में नहीं आएगा। कंपनी मूल रूप से विंडोज 10 देने की योजना बना रही थी, विंडोज का अधिक हल्का और सरलीकृत संस्करण, सर्फेस नियो जैसे नए दोहरे स्क्रीन उपकरणों के साथ। ऐसा महामारी के हिट होने से पहले था, और माइक्रोसॉफ्ट ने इसके बजाय सिंगल-स्क्रीन लैपटॉप के लिए विंडोज 10 को प्राथमिकता देने का फैसला किया। क्रोम ओएस प्रतियोगी के रूप में विंडोज 10 को बदलने के लिए स्विच को डिजाइन किया गया था। विंडोज 10 एक्स में एक सरलीकृत इंटरफेस, लाइव टाइल्स के बिना एक अपडेटेड स्टार्ट मेनू, मल्टीटास्किंग सुधार और प्रदर्शन और सुरक्षा के लिए एक विशेष ऐप कंटेनर शामिल था। 10 के साथ माइक्रोसॉफ्ट का समग्र लक्ष्य विंडोज के एक स्ट्रिप्ड-बैक, सुव्यवस्थित और आधुनिक क्लाउड-संचालित संस्करण बनाना था।

610 रुपये महंगा हुआ सोना, चांदी में भी आया उछाल

सोने की कीमतों में शनिवार को थोड़ा इजाफा देखा गया है। गुड रिटर्न वेबसाइट के अनुसार सोने की दर 5,100 रुपये प्रति 100 ग्राम ज्यादा हो गई है, वहीं प्रति 10 ग्राम सोने की दर 510 रुपये बढ़ी, जिसके बाद भारत में 22 कैरेट सोने के 10 ग्राम मूल्य 44,900 रुपये है, वहीं 24 कैरेट सोने की कीमत 45,900 रुपये हैवेबसाइट के मुताबिक, कल सोने की कीमत 44,290 रुपये प्रति 10 ग्राम थीसोने में पिछले कुछ दिनों से बढ़ोतरी देखी जा रही है। हालांकि, सोना अभी भी अगस्त के उच्च स्तर 9,000 रुपये से नीचे 56,200 रुपये पर चल रहा है। वहीं दिल्ली में 71,500 रुपये प्रति 1 किलोग्राम है। मुंबई में 71,500 रुपये प्रति 1 किलोग्राम है। चेन्नई में 76,100 रुपये प्रति 1 किलोग्राम है। कोलकाता में यह दर 71,500 रुपये प्रति 1 किलोग्राम है।

6 महीने बाद फिर से FII ने पैसा निकालना शुरू किया

भारतीय इक्विटी बाजार में आगे गिरावट आ सकती है। कारण साफ है कि एक तो कोरोना की दूसरी लहर में तेजी और साथ ही विदेशी निवेशकों (FII) का इक्विटी बाजार से लगातार पैसा निकालना। 6 महीने बाद विदेशी निवेशकों ने पैसा निकालना शुरू किया है। आंकड़े बताते हैं कि अप्रैल में भारतीय इक्विटी बाजार से FII ने 9,659 करोड़ रुपए निकाले थे। मई में 5,936 करोड़ रुपए निकाले हैं। हालांकि इस कैलेंडर साल यानी जनवरी से मई में अब तक इन्होंने 40,147 करोड़ रुपए का निवेश ही किया है। पर अप्रैल से लगातार निकासी बाजार को प्रभावित कर सकती है।

अप्रैल में इंश्योरेंस कंपनियों के न्यू बिजनेस प्रीमियम में 45% की ग्रोथ

कोरोना की दूसरी लहर के कारण अप्रैल में बीमा की मांग बढ़ी है। यही कारण है कि अप्रैल में इंश्योरेंस कंपनियों के न्यू बिजनेस प्रीमियम में 45% की ग्रोथ रही है। इरडा के डाटा के मुताबिक, पिछले महीने इंश्योरेंस कंपनियों का न्यू बिजनेस प्रीमियम 9,738.79 करोड़ रुपए रहा है। अप्रैल 2020 में सभी 24 बीमा कंपनियों का न्यू बिजनेस प्रीमियम 6,727.24 करोड़ रुपए रहा था। इरडा के डाटा के मुताबिक, इस साल अप्रैल में सबसे बड़ी बीमा कंपनी लाइफ इंश्योरेंस कंपनी यानी एलआईसी के न्यू बिजनेस प्रीमियम में 35.6% की ग्रोथ रही है। इस अवधि में कंपनी का फर्स्ट ईयर प्रीमियम 4.856.76 करोड़ रुपए रहा है। एक साल पहले समान अवधि में एलआईसी का न्यू बिजनेस प्रीमियम 3,581.65 करोड़ रुपए रहा था। अन्य प्राइवेट इंश्योरेंस कंपनियों के न्यू बिजनेस प्रीमियम में संयुक्त रूप से 55% की ग्रोथ रही है। इन कंपनियों का न्यू बिजनेस प्रीमियम 4,882.04 करोड़ रुपए रहा है। एक साल पहले समान अवधि में प्राइवेट कंपनियों का संयुक्त प्रीमियम 3,146.09 करोड़ रुपए रहा था।

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia