अर्थजगत की 5 बड़ी खबरें: जनवरी से रेडिमेड कपड़ा खरीदना होगा महंगा! और एलन मस्क ने बेचे 9 अरब डॉलर के Tesla के शेयर

डिमेड कपड़े, टेक्सटाइल और फुटवियर खरीदना जनवरी 2022 से महंगा हो जाएगा और इलेक्ट्रिक कार निर्माता कंपनी टेस्ला के मुख्य कार्यकारी अधिकारी और दुनिया के सबसे अमीर शख्स एलन मस्क ने एक बार फिर टेस्ला के शेयरों की बिक्री की है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

जनवरी से रेडिमेड कपड़ा खरीदना होगा महंगा

डिमेड कपड़े, टेक्सटाइल और फुटवियर खरीदना जनवरी 2022 से महंगा हो जाएगा। दरअसल, सरकार ने रेडिमेड कपड़ों, टेक्सटाइल और फुटवियर जैसे फिनिस्ड प्रोडक्टर पर जीएसटी दरें 5 फीसदी से बढ़ाकर 12 फीसदी कर दी है जो कि जनवरी 2022 से लागू होगी। सेंट्रल बोर्ड ऑफ इनडायरेक्ट टैक्स एंड कस्टम्स यानी सीबीआईसी ने इस बारे में 18 नवंबर को नोटिफिकेशन जारी कर जानकारी दी है।

फैब्रिक्स पर जनवरी 2022 से जीएसटी दरें 5 फीसदी 12 फीसदी हो जाएगी। इसी तरह किसी भी मूल्य के बने बनाए कपड़े पर जीएसटी की दरें भी 12 फीसदी हो जाएगी। बता दें कि पहले 1000 रुपये से ज्यादा मूल्य के कपड़ों पर 5 फीसदी जीएसटी लगता था। इसी तरह दूसरे टेक्सटाइल (बुने हुए कपड़े, सेन्थेटिक यार्न, पाइल फैब्रिक्स, ब्लैंकेट्स, टेंट, टेबल क्लोथ जैसे दूसरे टेक्सटाइल) पर भी जीएसटी दर 5 फीसदी से बढ़ाकर 12 फीसदी कर दी गई है। इसके साथ ही किसी भी मूल्य के फुटवेयर पर लागू जीएसटी दर भी 12 फीसदी कर दी गई है। गौरतलब है कि पहले 1000 रुपये से ज्यादा मूल्य के फूटवेयर पर 5 फीसदी की दर से जीएसटी लगता था।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

एलन मस्क ने बेचे 9 अरब डॉलर के Tesla के शेयर

इलेक्ट्रिक कार निर्माता कंपनी टेस्ला के मुख्य कार्यकारी अधिकारी और दुनिया के सबसे अमीर शख्स एलन मस्क ने एक बार फिर टेस्ला के शेयरों की बिक्री की है। इस बार एलन मस्क ने 9 अरब डॉलर की कीमत के शेयरों की बिक्री की है। एलन मस्क ने अपने ट्विटर पोल के बाद लगभग 9 बिलियन डॉलर यानी 9 अरब डॉलर के टेस्ला के शेयर बेचे। ट्विटर पर पोल करने के बाद मस्क ने दूसरी बार टेस्ला के शेयर बेचे हैं। बताया जा रहा है कि टैक्स का भुगतान करने के लिए एलन मस्क ने टेस्ला के शेयरों की बिक्री की है।

मस्क ने 2.2 अरब डॉलर के 21 लाख शेयर हासिल किए थे। लेकिन टैक्स का भुगतान करने के लिए इनमें से करीब 9 अरब डॉलर की कीमत के 9,34,091 शेयरों की बिक्री कर डाली। एलन के इस कदम के बाद टेस्ला के शेयरों में गिरावट देखने को मिली थी। टेस्ला का शेयर बीते 15 नवंबर को 1013 डॉलर पर ट्रेड कर रहा था। हालांकि इस गिरावट के बाद शेयर ने ऊंचाई का रुख किया है। वर्तमान में टेस्ला का शेयर 1137 डॉलर (लगभग 84,491 रुपये प्रति शेयर) पर ट्रेड कर रहा है। नवंबर की शुरूआत में टेस्ला का शेयर भाव 1230 डॉलर के आसपास था।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

नया माइक्रोसॉफ्ट विंडोज एक्सबॉक्स ऐप गेम इंस्टॉल की समस्या का करेगा समाधान

टेक दिग्गज माइक्रोसॉफ्ट ने टेस्टर्स को विंडोज के लिए एक नया एक्सबॉक्स ऐप एक्सेस करने की अनुमति देना शुरू कर दिया है जो विंडोज स्टोर से गेम इंस्टाल प्रक्रिया में काफी सुधार करता है। द वर्ज के अनुसार, अपडेटेड ऐप पीसी गेमर्स को गेम फाइलों तक अप्रतिबंधित एक्सेस के साथ अपनी पसंद के किसी भी फोल्डर में टाइटल इंस्टॉल करने की अनुमति देता है। इससे पहले, माइक्रोसॉफ्ट ने गेम को ड्राइव के रूट पर विंडोजएप्स फोल्डर में स्थापित करने के लिए मजबूर किया था और इसे लॉक कर दिया गया था ताकि कोई फाइलों को संशोधित न कर सके।

एक्सबॉक्स ऐप अपडेट अंतत: पीसी के लिए एक्सबॉक्स गेम पास से गेम इंस्टॉल करने के एक बड़े दर्द बिंदु को संबोधित करेगा, जहां खिलाड़ी माइक्रोसॉफ्ट स्टोर, प्रतिबंधित विंडोजएप्स फोल्डर, या गेम इंस्टॉल किए जाने पर पूरी तरह से नियंत्रित करने में असमर्थता के साथ समस्याओं में भाग लेंगे। जबकि माइक्रोसॉफ्ट ने पहले माइक्रोसॉफ्टस्टोर में कुछ शीर्षकों के लिए मॉड्स का समर्थन किया है। गेम के लिए फोल्डर एक्सेस को खोलने से अब अधिक गेम को मॉड का सपोर्ट करने में सक्षम होगा, बिना खिलाड़ियों को इसे गेम में सक्षम करने की आवश्यकता होगी। रिपोर्ट में कहा गया है कि माइक्रोसॉफ्ट स्टोर ने पारंपरिक रूप से विंडोज-आधारितफोल्डर अनुमतियों का उपयोग करके गेम इंस्टॉल किए जाने तक पहुंच प्रतिबंधित कर दी है, जिससे बैकअप गेम या उन्हें स्वतंत्र रूप से स्थानांतरित करना मुश्किल हो जाता है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

क्रिप्टो में एक रुपये का निवेश नहीं किया -आनंद महिंद्रा

भारतीय कारोबारी आनंद महिंद्रा ने कहा कि उन्होंने क्रिप्टोकरेंसी में एक भी रुपया निवेश नहीं किया है। अरबपति ने कुछ स्क्रीन ग्रैब शेयर किए, जिसमें दावा किया गया कि उन्होंने क्रिप्टोक्यूरेंसी में निवेश कर के बहुत पैसा कमाया है। रिपोर्ट के स्क्रीनशॉट में कहा गया है कि क्रिप्टो सिक्कों के ऑटो-ट्रेडिंग प्रोग्राम बिटकॉइन एरा का उपयोग करके पैसा कमाया। आनंद महिंद्रा ने कहा, "किसी ने इसे ऑनलाइन देखा और मुझे सचेत किया। मुझे लोगों को जागरूक करने की जरूरत है कि यह पूरी तरह से मनगढ़ंत और धोखाधड़ी है। यह एक फर्जी खबर है। विडंबना यह है कि मैंने क्रिप्टो में एक भी रुपया निवेश नहीं किया है।" फर्जी रिपोर्ट में कहा गया कि आनंद महिंद्रा ने एक टीवी शो के दौरान कहा था कि "धन की कमी" 3-4 महीनों में किसी को भी करोड़पति में बदल सकती है। उन्होंने कहा, "मैं खुश हूं कि कुछ लोगों का मानना है कि मेरे बयानों को उद्धृत किया जा सकता है और मैंने हमेशा सोशल मीडिया की शक्ति में सूचनाओं को लोकतांत्रिक बनाने और ज्ञान साझा करने में विश्वास किया है। "

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

नए कोरियाई कानून के तहत एप्पल और गूगल पर 2 प्रतिशत तक का जुर्माना

दक्षिण कोरिया के दूरसंचार नियामक ने कहा कि ऐप स्टोर संचालकों को डेवलपर्स को अपने स्वयं के इन-ऐप भुगतान सिस्टम का उपयोग करने के लिए मजबूर करने पर दो प्रतिशत तक का जुर्माना भरना पड़ेगा। कोरिया संचार आयोग (केसीसी) के अनुसार, गूगल और अन्य ऐप स्टोर ऑपरेटरों के प्रभुत्व को रोकने के उद्देश्य से संशोधित कानून के प्रवर्तन डिक्री के तहत, ऐसे ऐप स्टोर ऑपरेटरों को ऐप्स की समीक्षा में देरी के लिए अपने राजस्व का एक प्रतिशत का भुगतान करना होगा। अगस्त में, दक्षिण कोरिया ने दूरसंचार व्यापार अधिनियम में संशोधन किया, वैश्विक तकनीकी दिग्गजों की इन-ऐप बिलिंग नीतियों पर इस तरह के प्रतिबंध लगाने वाला पहला देश बन गया। योनहाप समाचार एजेंसी की रिपोर्ट, यह कदम गूगल और एप्पल के खिलाफ बढ़ती वैश्विक जांच के बीच आया है, जो मोबाइल पारिस्थितिकी तंत्र पर मजबूत पकड़ बनाए रखते हैं, क्योंकि डेवलपर्स को अपने ऐप स्टोर पर अपने मालिकाना भुगतान सिस्टम का उपयोग करने की आवश्यकता होती है, जो उपयोगकर्ताओं द्वारा ऐप्स के भीतर डिजिटल सामान खरीदने पर 30 प्रतिशत तक शुल्क लेते हैं।

दुनिया भर के डेवलपर्स ने ऐप मार्केट ऑपरेटरों की इन-ऐप भुगतान प्रणालियों पर सवाल उठाया है, उनके अपेक्षाकृत उच्च कमीशन का विरोध किया है और मांग की है कि वे अन्य प्रणालियों का स्वतंत्र रूप से उपयोग करने में सक्षम हों। कोरिया मोबाइल इंटरनेट बिजनेस एसोसिएशन के अनुसार, दक्षिण कोरिया एक मजबूत मोबाइल ऐप अर्थव्यवस्था का घर है, जिसमें पिछले साल गूगल के प्ले स्टोर से लगभग 5 ट्रिलियन (4.23 बिलियन डॉलर) की कुल बिक्री हुई थी और ऐप्पल के ऐप स्टोर की 1.6 ट्रिलियन जीती थी।

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia