IMF ने घटाया भारत का GDP ग्रोथ तो शेयर बाजार हुआ धड़ाम! सेंसेक्स 220 अंक गिरा, निफ्टी भी फिसला 

कमजोर कारोबारी रुझानों के बीच मंगलवार को सेंसेक्स और निफ्टी पिछले सत्र के मुकाबले गिरावट के साथ खुले। दोनों प्रमुख सूचकांकों में लाल निशान के साथ कारोबार चल रहा था। आंरभिक कारोबार में सेंसेक्स 220 अंक से ज्यादा लुढ़का और निफ्टी भी 60 अंक से ज्यादा फिसला।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

आईएमएफ द्वारा भारत के लिए चालू वित्त वर्ष के जीडीपी ग्रोथ रेट अनुमान को घटाकर 4.8 प्रतिशत बताने के बाद इसका असर भारतीय शेयर बाजार पर दिखा है। शेयर बाजार में गिरावट देखने को मिली है। शुरुआती कारोबार में सेंसेक्‍स 220 अंक तक लुढ़क गया और यह 41 हजार 400 अंक के नीचे आ गया। वहीं निफ्टी 60 अंक से ज्यादा की गिरावट रही और यह 12 हजार 200 अंक के नीचे कारोबार करता दिखा। बता दें कि अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) द्वारा भारत के आर्थिक विकास दर अनुमान में कटौती करने से बाजार में कारोबारी रुझान कमजोर था।

बंबई स्टॉक एक्सचेंज का प्रमुख संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सुबह 9.46 बजे पिछले सत्र से 23.65 अंक नीचे 41,505.26 पर बना हुआ था। जबकि इससे पहले सेंसेक्स पिछले सत्र से 41.34 अंकों की गिरावट के साथ 41,487.57 पर खुला और 41,301.63 तक लुढ़का।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) के 50 शेयरों पर आधारित सूचकांक निफ्टी पिछले सत्र के मुकाबले 12.05 अंकों की कमजोरी के साथ 12,212.50 पर कारोबार कर रहा था। इससे पहले निफ्टी पिछले सत्र से 29.15 अंकों की गिरावट के साथ 12,195.30 पर खुला और 12,162.45 तक लुढ़का।

अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) ने चालू वित्त वर्ष में भारत की आर्थिक विकास दर के अपने अनुमान को 6.1 फीसदी से घटाकर 4.8 फीसदी कर दिया है। आईएमएफ ने कहा कि घरेलू मांग सुस्त रहने और गैर-बैंकिंग क्षेत्र के दबाव में रहने के कारण चालू वित्त वर्ष में भारत में आर्थिक गतिविधियां कमजोर रह सकती है, लेकिन अगले साल आर्थिक सुस्ती दूर होने की उम्मीद है।

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

लोकप्रिय