अर्थ जगत की 5 बड़ी खबरें: आम आदमी को झटका! अभी कम नहीं होगी महंगाई और यस बैंक ने लौटाया RBI का कर्ज

रिपोर्ट के मुताबिक अगस्त में खुदरा महंगाई का आंकड़ा 7 फीसदी या उससे ऊपर जा सकता है और दिसंबर के बाद ही महंगाई में कुछ राहत मिल सकती है और यस बैंक ने भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा उपलब्ध करायी गई 50,000 करोड़ रुपये की विशेष ऋण सुविधा के पूरे बकाये का भुगतान कर दिया है।

फोटो: Getty Images
फोटो: Getty Images
user

नवजीवन डेस्क

7 फीसदी से ऊपर जा सकती है खुदरा मुद्रास्फीति

अगस्त में खुदरा महंगाई का आंकड़ा 7 फीसदी या उससे ऊपर जा सकता है और दिसंबर के बाद ही महंगाई में कुछ राहत मिल सकती है। भारतीय स्टेट बैंक इकोरैप की रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई है। रिपोर्ट में कहा गया है कि कोरोना संकट की वजह से आपूर्ति चेन के टूटने और सरकार की ओर से की गयी भारी खरीद की वजह से अगस्त में महंगाई बढ़ी है। गौरतलब है कि सरकार द्वारा सोमवार को आधिकारिक आंकड़ा जारी किया जाएगा। जुलाई में खुदरा महंगाई की दर 6.93 प्रतिशत थी, जबकि पिछले साल जुलाई में यह आंकड़ा सिर्फ 3.15 फीसदी था।

यस बैंक ने लौटाया RBI का कर्ज

यस बैंक ने भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा उपलब्ध करायी गई 50,000 करोड़ रुपये की विशेष ऋण सुविधा के पूरे बकाये का भुगतान कर दिया है। यस बैंक के चेयरमैन सुनील मेहता ने इसकी जानकारी देते हुए कहा कि वित्त वर्ष 2020-21 बैंक के लिए एक बदलाव का साल है। भारतीय स्टेट बैंक के नेतृत्व में 10,000 करोड़ रुपये के अभूतपूर्व राहत पैकेज ने यस बैंक को नया जीवनदान दिया है। बता दें कि आरबीआई कानून, 1934 की धारा 17 के तहत केंद्रीय बैंक किसी भी बैंक को शेयर कोष और प्रतिभूतियों (अचल संपत्तियों को छोड़कर) को गिरवी रखकर कर्ज के रूप में नकदी की सुविधा उपलब्ध करा सकता है। इसी कानून के तहत यस बैंक को सुविधा मिली है।

सस्ता हुआ सोना, चांदी के दाम में भी गिरावट

हफ्ते के आखिरी कारोबारी दिन सोने-चांदी के रेट में बड़ी गिरावट दर्ज की गई है। बाजार में गुरुवार के मुकाबले आज सोने की गिरावट में 493 अंकों की गिरावट दर्ज की गई। सर्राफा बाजार खुलने के साथ ही आज सोने की कीमत में गिरावट दर्ज की गई। शुक्रवार को सोने की कीमत सुबह बाजार खुलते ही 343 रुपए नीचे लुढ़क गया। ये गिरावट बढ़कर 493 अंकों तक पहुंच गई। वहीं चांदी की कीमत में 1200 रुपए तक की गिरावट आई। शुक्रवार को सोना खुलते ही लुढ़ककर 51431 रुपए प्रति 10 ग्राम पर पहुंच गया। सोने की कीमत में गिरावट बढ़कर 493 अंकों तक पहुंच गई और सोने की कीमत 51281 के न्यूनतम स्तर पर पहुंच गया।

अगस्त में घरेलू यात्री वाहनों की बिक्री में दिखी तेजी

त्योहारी सीजन के कारण मांग में वृद्धि के साथ अगस्त में साल-दर-साल आधार पर घरेलू यात्री वाहनों की बिक्री में इजाफा देखने को मिला। शुक्रवार को जारी उद्योग के आंकड़ों के अनुसार, घरेलू बाजार में कुल 2,15,916 यात्री वाहन बेचे गए, जो पिछले साल की तुलना में 14.16 प्रतिशत की वृद्धि दर्शाते हैं। 2019 में इसी अवधि में 1,89,129 यूनिट बेचे गए थे। इसी तरह, सोसाइटी ऑफ इंडियन ऑटोमोबाइल मैन्युफैक्चर्स (एसआईएएम) द्वारा जारी आंकड़ों से अगस्त के दौरान बिक्री में क्रमिक वृद्धि देखी गई। जुलाई में, घरेलू यात्री वाहनों की बिक्री पिछले वर्ष के इसी महीने के दौरान बेची गई 1,90,115 यूनिट के मुकाबले 3.86 प्रतिशत घटकर 182,779 यूनिट रह गई थी। सियाम के मुताबिक इसमें टाटा मोटर्स जैसे कुछ प्रमुख प्लेअर्स की हिस्सेदारी शामिल नहीं है।

पेट्रोल, डीजल के दाम स्थिर, 40 डॉलर प्रति बैरल पर बेंट क्रूड

पेट्रोल और डीजल के दाम में एक दिन की कटौती के बाद फिर स्थिरता बनी हुई। तेल विपणन कंपनियों ने शुक्रवार को पेट्रोल और डीजल के दाम में कोई बदलाव नहीं किया। अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम में भी बीते सत्र की गिरावट के बाद तरीबन स्थिरता के साथ कारोबार चल रहा था। बेंट्र क्रूड का भाव पिछले सत्र में टूटने के बाद 40 डॉलर प्रति बैरल पर बना हुआ था। इंडियन ऑयल की वेबसाइट के अनुसार, दिल्ली, कोलकाता, मुंबई और चेन्नई में पेट्रोल के दाम बिना किसी बदलाव के क्रमश: 81.99 रुपये, 83.49 रुपये, 88.64 रुपये और 84.96 रुपये प्रति लीटर पर बने हुए हैं। डीजल की कीमतें भी 73.05 रुपये, 76.55 रुपये, 79.57 रुपये और 78.38 रुपये प्रति लीटर पर स्थिर बनी हुई है।

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

लोकप्रिय
next