अर्थजगत: Infosys को 7.3% का घाटा और चीनी वाहनों का उत्पादन-बिक्री पहली बार 3 करोड़ के पार

इन्फोसिस का चालू वित्त वर्ष 2023-24 की दिसंबर, 2023 में समाप्त तीसरी तिमाही का नेट प्रॉफिट 7.3 प्रतिशत घटकर 6,106 करोड़ रुपये रहा और चीनी वाहनों का उत्पादन और बिक्री पहली बार 3 करोड़ के पार पहुंचा है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

इन्फोसिस का तीसरी तिमाही का नेट प्रॉफिट 7.3 प्रतिशत घटकर 6,106 करोड़ रुपये रहा

सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) कंपनी इन्फोसिस (Infosys Share) का चालू वित्त वर्ष 2023-24 की दिसंबर, 2023 में समाप्त तीसरी तिमाही का नेट प्रॉफिट 7.3 प्रतिशत घटकर 6,106 करोड़ रुपये रहा है। एक साल पहले समान तिमाही में कंपनी ने 6,586 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ कमाया था। समीक्षाधीन तिमाही में कंपनी की ऑपरेटिंग इनकम हालांकि 1.3 प्रतिशत बढ़कर 38,821 करोड़ रुपये हो गई, जो पिछले वित्त वर्ष की इसी अवधि में 38,318 करोड़ रुपये थी। इन्फोसिस ने चालू वित्त वर्ष के लिए अपने रेवन्यू ग्रोथ के अनुमान को संशोधित कर 1-2.5 प्रतिशत से 1.5-2 प्रतिशत कर दिया है।

कंपनी के अनुसार, उसके निदेशक मंडल ने बेंगलुरु स्थित सेमीकंडक्टर डिजाइन सेवा प्रदाता इनसेमी का करीब 280 करोड़ रुपये में अधिग्रहण करने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। इन्फोसिस ने शेयर बाजार को दी जानकारी में बताया कि इनसेमी का अधिग्रहण वित्त वर्ष 2023-24 की चौथी तिमाही तक पूरा होने की उम्मीद है। गुरुवार को इंफोसिस के शेयर बीएसई में 1.62 प्रतिशत की गिरावट के साथ 1495 रुपये के लेवल पर बंद हुआ था। बीते 6 महीने के दौरान इंफोसिस के शेयरों की कीमतों में 14 प्रतिशत से अधिक की तेजी देखने को मिली है। हालांकि, पोजीशनल निवेशकों को 1 साल में 2.63 प्रतिशक का ही लाभ हुआ है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

ओला इलेक्ट्रिक ने दिसंबर 2023 तक अपनी मूल कंपनी को 8 हजार से ज्यादा ई-स्कूटर बेचे : रिपोर्ट

भविश अग्रवाल के नेतृत्व वाली ओला इलेक्ट्रिक ने दिसंबर 2023 तक अपनी मूल कंपनी एएनआई टेक्नोलॉजीज को 8,200 से अधिक स्कूटर बेचे, जो कई भारतीय शहरों में अपनी इलेक्ट्रिक बाइक टैक्सी सेवा शुरू और विस्तार करने की योजना बना रही है। मिंट की रिपोर्ट के अनुसार, हालांकि कंपनी ने अपने डीआरएचपी में 7,000 करोड़ रुपये से अधिक के आईपीओ के लिए संबंधित पार्टी लेनदेन का खुलासा नहीं किया, जो पिछले साल दिसंबर में दायर किया गया था। ड्राफ्ट पेपर्स में 30 जून 2023 तक ओला इलेक्ट्रिक के वित्तीय विवरण शामिल थे। ओला इलेक्ट्रिक के प्रवक्ता के हवाले से कहा गया है कि अब तक 8,206 ओला इलेक्ट्रिक स्कूटरों को ई-बाइक, पार्सल और अन्य डिलीवरी सेवाओं के लिए एएनआई टेक्नोलॉजीज के तहत पंजीकृत किया गया है। कुल मिलाकर, अब तक कुल पंजीकरण का 2.17 प्रतिशत एएनआई टेक्नोलॉजीज के तहत हुआ है।

इसके अलावा, रिपोर्ट में सूत्रों के हवाला से कहा गया, ''अप्रैल 2022 और दिसंबर 2023 के बीच ओला कैब्स की मूल कंपनी और उसकी सहायक कंपनियों को बेचे गए ई-स्कूटर की संख्या लगभग 12,000 यूनिट से भी अधिक थी।'' इस बीच, ओला ने वित्तीय वर्ष 2022-23 में 2,800 करोड़ रुपये का राजस्व अर्जित किया है, जबकि अपने घाटे में लगभग 50 प्रतिशत की कटौती करने का प्रबंधन किया है। ओला की वेबसाइट पर उपलब्ध ऑडिटेड वित्तीय परिणामों के अनुसार, एएनआई टेक्नोलॉजीज ने वित्त वर्ष 2022 में 1,970 करोड़ रुपये की तुलना में वित्त वर्ष 2023 में 42 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 2,799 करोड़ रुपये का राजस्व अर्जित किया। कंपनी का वित्त वर्ष 2022 में 1,522 करोड़ रुपये के मुकाबले वित्त वर्ष 2023 में घाटा लगभग 50 प्रतिशत कम होकर 772 करोड़ रुपये रह गया। ओला मनी ने 54.6 करोड़ रुपये के घाटे के साथ 85.5 करोड़ रुपये का राजस्व दर्ज किया।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

इंफोसिस 280 करोड़ रुपये में सेमीकंडक्टर डिजाइन कंपनी इनसेमी का अधिग्रहण करेगी

सॉफ्टवेयर प्रमुख इंफोसिस लिमिटेड ने गुरुवार को कहा कि कंपनी 280 करोड़ रुपये में सेमीकंडक्टर डिजाइन और एम्बेडेड सर्विस प्रोवाइडर इनसेमी का अधिग्रहण करेगी।

एक रेगुलेटरी फाइलिंग में इंफोसिस ने कहा, ''153.6 करोड़ रुपये के राजस्व वाली इनसेमी का अधिग्रहण वित्तीय वर्ष 2024 की चौथी तिमाही पूरा होने की उम्मीद है। हालांकि, कंपनी को इसके लिए कुछ शर्तों को पूरा करना है।''

इंफोसिस ने कहा, "280 करोड़ रुपये में सेमीकंडक्टर डिजाइन और एम्बेडेड सर्विस प्रोवाइडर इनसेमी का अधिग्रहण करेगी।"

बेंगलुरु मुख्यालय वाली इनसेमी में कर्मचारियों की संख्या 900 से अधिक है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

चीनी वाहनों का उत्पादन और बिक्री पहली बार 3 करोड़ के पार

चीनी वाहन उद्योग संघ द्वारा गुरुवार को जारी आंकड़ों के अनुसार, साल 2023 में चीन का वाहन उत्पादन और बिक्री पहली बार 3 करोड़ को पार कर गई, जो इतिहास में एक रिकॉर्ड ऊंचाई है। इनमें से 49 लाख 10 हज़ार वाहनों का निर्यात किया गया। चीन के दुनिया का सबसे बड़ा वाहन निर्यातक बनने की उम्मीद है। साल 2023 में, चीन ने 3 करोड़ 1 लाख 61 हज़ार वाहनों का उत्पादन किया, और 3 करोड़ 94 हज़ार वाहनों की बिक्री की, जिसमें साल 2022 की तुलना में क्रमशः 11.6% और 12% की वृद्धि हुई है।

साल 2022 में चीन दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा वाहन निर्यातक रहा। नई ऊर्जा वाहन चीन के ऑटोमोबाइल उद्योग के लिए एक महत्वपूर्ण फोकस के रूप में उभरे हैं। उनकी निर्यात-संचालित भूमिका तेजी से स्पष्ट हो रही है। साल 2023 में, चीन ने 12 लाख 3 हजार नई ऊर्जा वाहनों का निर्यात किया, जो साल-दर-साल 77.6% की पर्याप्त वृद्धि को दर्शाता है। इसके अतिरिक्त, चीन के स्वतंत्र ब्रांड बीवाईडी ने साल 2023 की चौथी तिमाही में दुनिया के सबसे बड़े शुद्ध इलेक्ट्रिक वाहन निर्माता का खिताब हासिल किया।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;