3 ट्रिलियन डॉलर की कंपनी बनी माइक्रोसॉफ्ट, पहली बार यह मुकाम किया हासिल, लिस्ट में पहले नंबर पर Apple

टिम कुक के नेतृत्व वाली एप्पल ने लगभग दो साल पहले 3 ट्रिलियन डॉलर का मार्केट कैप हासिल किया था।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

माइक्रोसॉफ्ट 3 ट्रिलियन डॉलर के जबरदस्त आंकड़े तक पहुंच गया है और इसी के साथ, यह उपलब्धि हासिल करने वाली एप्पल के बाद दूसरी कंपनी बन गई है। माइक्रोसॉफ्ट अपने 48 साल के इतिहास में पहली बार 3 ट्रिलियन डॉलर मार्केट कैप तक पहुंचा। सत्या नडेला द्वारा संचालित कंपनी बुधवार देर रात नैस्डैक पर कारोबार के दौरान अपने शेयर के 1.5 प्रतिशत चढ़ने के बाद शानदार वैल्यूएशन पर पहुंच गया।

टिम कुक के नेतृत्व वाली एप्पल ने लगभग दो साल पहले 3 ट्रिलियन डॉलर का मार्केट कैप हासिल किया था। ओपनएआई के साथ-साथ आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई) को आगे बढ़ाने के बीच हाल के महीनों में माइक्रोसॉफ्ट के स्टॉक में तेजी रही है।

पिछले पांच सालों में, माइक्रोसॉफ्ट के शेयर की कीमत 107 डॉलर से बढ़कर वर्तमान कीमत लगभग 404 डॉलर हो गई है। द वर्ज की रिपोर्ट के अनुसार, नडेला के तहत माइक्रोसॉफ्ट ने कई एआई कंपनियों का भी अधिग्रहण किया है और ओपनएआई में 10 बिलियन डॉलर से अधिक का निवेश किया है।

नडेला ने लगभग 10 साल पहले कंपनी की कमान संभाली और माइक्राफ्पट डेवलपर मोजांग, लिंक्डइन, गिटहब और जामरीन का अधिग्रहण किया। इस महीने की शुरुआत में, माइक्रोसॉफ्ट थोड़े समय के लिए दुनिया की सबसे मूल्यवान सार्वजनिक कंपनी बनने के लिए एप्पल के मार्केट कैप को पीछे छोड़ दिया।

अब, यह अंततः 3 ट्रिलियन डॉलर का आंकड़ा पार कर गया है और वहीं रुका हुआ है। कंपनी के एआई-संचालित कार्यालय दस्तावेजों, माइक्रोसॉफ्ट 365 के लिए कोपायलट पर भारी कीमत की घोषणा के बाद कंपनी के स्टॉक में बड़ी उछाल देखी गई। तब से, कंपनी समय-समय पर नए एआई फीचर्स की घोषणा करती रही है।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;