अर्थ जगत की 5 बड़ी खबरें: फिर महंगा हुआ सोना, चांदी ने भी लगाई छलांग और शेयर बाजार में दिखी मामूली बढ़त!

भारतीय बाजार में लगातार ग‍िरावट के बाद आज फिर सोने के भाव में तेजी देखी गई है और आज शेयर बाजार में मामूली बढ़त देखने को मिली। एक ओर सेंसेक्स 49,766 पर बंद हुआ तो वहीं निफ्टी 14,892 पर बंद हुई।

फोटो: Getty Images
फोटो: Getty Images
user

नवजीवन डेस्क

महंगा हुआ सोना, चांदी ने भी लगाई छलांग

सोना-चांदी खरीदने का इस समय अच्छा मौका है। शादियों का सीजन शुरू होते ही इसके भाव में उतार-चढ़ाव लगातार जारी है। भारतीय बाजार में लगातार ग‍िरावट के बाद आज फिर सोने के भाव में तेजी देखी गई है। सोने की कीमत कीमत में लगातार दूसरे दिन गिरावट आई है। 29 अप्रैल, गुरुवार को सर्राफा बाजारों में सोने की चमक जहां पहले से बढ़ी है वहीं चांदी भी मजबूत हुई है। सोने की घरेलू वायदा कीमतों में मंगलवार को शुरुआती कारोबार में गिरावट देखने को मिली है। सोना एवं चांदी के हाजिर भाव में गुरुवार को तेजी देखने को मिली। सर्राफा बाजारों में 24 कैरेट गोल्ड का रेट 47000 के करीब आ गया है। जबक‍ि चांदी की कीमत 69000 रु नीचे है। आज 24 कैरेट से लेकर 14 कैरेट तक के सोने के दाम में बदलाव देखने को मिली है। बात करें अगर सोना के ऑल टाइम हाई रेट से तो 9270 रुपए तक गिर चुका है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

शेयर बाजार में दिखी मामूली बढ़त! सेंसेक्स 49,766 पर तो निफ्टी 14,892 पर बंद

गुरुवार सुबह शेयर बाजार ने निवेशकों को खुश कर दिया जब मार्केट सेंसेक्स 50 हजार के पार खुला था और निफ्टी 15 हजार के पार. हालांकि बाद में बाजार की तेजी पर ब्रेक लगता गया है और अंत में बाजार मामूली बढ़त के साथ बंद हुआ। गुरुवार 29 अप्रैल को BSE का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक Sensex 32 यानी .06% बढ़त के साथ 49,765 पर बंद हुआ। वहीं NSE Nifty भी 17 प्वाइंट बढ़कर 14,881 पर बंद हुआ। बता दें कि सुबह BSE Sensex 578 अंकों की बढ़त के साथ 50,312.16 के ऊपरी स्तर पर ओपन हुआ था। NSE Nifty भी 381 अंक चढ़कर 15,034 के आकंड़ा को छू लिया था. बीएसई पर 30 इंडेक्स में से 29 हरे निशान के साथ ओपेन हुए थे।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

HUL को मार्च तिमाही में हुआ इतने करोड़ का प्रॉफिट

कंज्यूमर कंपनी HUL ने मार्च तिमाही के शानदार नतीजे जारी किए हैं। साल दर साल आधार पर मार्च तिमाही में कंपनी का मुनाफा 44.8 फीसदी बढ़कर 2,190 करोड़ रुपए रहा। एक साल पहले इसी तिमाही में कंपनी का प्रॉफिट 1,512 करोड़ रुपए था। वित्त वर्ष 2021 की चौथी तिमाही में HUL की आय 12,433 करोड़ रुपए पर रही है जबकि इस अवधि में कंपनी की आय 12,020 करोड़ रुपए रहने का अनुमान था। बता दें कि वित्त वर्ष 2020 की चौथी तिमाही में HUL की आय 9,211 करोड़ रुपए रही थी। सालाना आधार पर चौथी तिमाही में HUL का EBITDA 3,043 करोड़ रुपए रहा है। इसके 2,925 करोड़ रुपए पर रहने का अनुमान किया गया था। वहीं, वित्त वर्ष 2020 की चौथी तिमाही में HUL का EBITDA 2,100 करोड़ रुपए पर रहा था। सालाना आधार पर चौथी तिमाही में HUL का EBITDA मार्जिन 24।5 फीसदी रहा है। जबकि इसके 24।3 फीसदी पर रहने का अनुमान किया गया था। वहीं, वित्त वर्ष 2020 की चौथी तिमाही में HUL का EBITDA मार्जिन 22।8 फीसदी पर रहा था।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

टेस्ला ने किया 2.48 अरब डॉलर का बिटकॉइन निवेश

अमेरिका स्थित इलेक्ट्रिक वाहन निर्माता और बिटकॉइन की बड़ी समर्थक फर्म टेस्ला ने बताया है कि कंपनी के पास 31 मार्च तक 2.48 अरब डॉलर बाजार मूल्य का बिटकॉइन था। कंपनी ने संकेत दिया है कि इस बिटकॉइन निवेश से बाहर लगभग 1 अरब डॉलर बनाया जा सकता था जिसे नकदी में बदल दिया गया था। इस साल की शुरुआत में ही कंपनी के फाउंडर और सीईओ एलन मस्क ने टेस्ला के क्रिप्टोकरेंसी बिटकॉइन में 1.5 अरब डॉलर निवेश का ऐलान किया था। इलेक्ट्रिक कार बनाने वाली टेस्ला को ऑटो इंडस्ट्री का सबसे बड़ा उभरता खिलाड़ी माना जा रहा है। कंपनी ने कहा है "उसने पहली तिमाही के अंत तक 1.5 अरब डॉलर के बिटकॉइन खरीदें हैं या प्राप्त किए। इसने अपनी नियमित रिपोर्ट में दोहराया कि इसने तिमाही के दौरान अपनी स्थिति को 10% तक कम कर दिया है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

इस दिन से 15 दिनों तक बंद रहेंगे होंडा मोटरसाइकिल के मैन्युफैक्चरिंग प्लांट

होंडा मोटरसाइकिल एंड स्कूटर इंडिया (HMSI) ने 1 मई से अपने सभी मैन्युफैक्चरिंग प्लांट्स को बंद करने का फैसला किया है। यह प्लांट 15 दिनों तक बंद रहेंगे। कंपनी का कहना है कि कोविड-19 के बढ़ते केसों और विभिन्न शहरों में लॉकडाउन के चलते यह फैसला लिया गया है। कंपनी का कहना है कि इस अवधि के दौरान सभी प्लांट्स में वार्षिक मेंटेनेंस का कार्य किया जाएगा। HMSI ने बयान में कहा है कि कोविड-19 के हालात और मार्केट रिकवरी की समीक्षा के आधार पर कंपनी बाद के महीने में प्रोडक्शन प्लान पर फैसला करेगी। कंपनी के मुताबिक, मैन्युफैक्चरिंग प्लांट्स के बंद रहने के दौरान ग्राहकों और बिजनेस पार्टनर्स की मदद के लिए होंडा के सभी ऑफिस एसोसिएट्स वर्क फ्रॉम होम करेंगे। केवल आवश्यक स्टाफ ही कंपनी के प्लांट और देशभर में फैले विभिन्न कार्यालयों में काम करेगा। कंपनी की देश में 4 राज्यों में प्रोडक्शन फैसेलिटी है। यह फैसेलिटी हरियाणा के मानेसर, राजस्थान के तापूकारा, कर्नाटक के नर्सापुरा और गुजरात के विट्ठलपुर में स्थित हैं। इन सभी प्रोडक्शन फैसेलिटी की सालाना मैन्युफैक्चरिंग क्षमता 64 लाख यूनिट है।

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia