अर्थजगत की 5 बड़ी खबरें:धनतेरस के दिन शेयर बाजार में आई गिरावट, सोना-चांदी भी हुआ महंगा और OLA को पहली बार हुआ फायदा

धनतेरस के दिन एक ओर जहां भारतीय शेयर बाजारों में मामूली गिरावट देखने को मिली, वहीं सोना और चांदी की कीमतों में वृद्धि दर्ज की गई और ओला ने बताया कि उसे वित्‍त वर्ष 2021 के दौरान पहली बार फायदा हुआ।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

धनतेरस के दिन सोना-चांदी हुआ महंगा

धनतेरस के दिन कीमती धातुओं सोना और चांदी की कीमतों में बृद्धि दर्ज की गई। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में जहां सोना मंगलवार को 53 रुपये की तेजी के साथ 46,844 रुपये प्रति 10 ग्राम हो गया। पिछले कारोबारी दिन सोमवार को सोना 46,791 रुपये प्रति 10 ग्राम पर बंद हुआ था। चांदी भी 45 रुपये की मामूली तेजी के साथ 63,333 रुपये प्रति किलोग्राम हो गई, जो पिछले कारोबार में 63,288 रुपये प्रति किलोग्राम पर थी। अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोना और चांदी के सपाट भाव से क्रमश: 1,793 अमेरिकी डॉलर प्रति औंस और 23.95 अमेरिकी डॉलर प्रति औंस पर कारोबार कर रहे थे। एचडीएफसी सिक्योरिटीज के सीनियर एनालिस्ट (कमोडिटीज) तपन पटेल ने कहा कि मंगलवार को कॉमेक्स ट्रेडिंग फ्लैट में हाजिर भाव के साथ सोना 1,793 डॉलर प्रति औंस पर स्थिर रहा।

धनतेरस पर सेंसेक्‍स और निफ्टी मामूली गिरावट के साथ हुए बंद

भारतीय शेयर बाजारों में धनतेरस पर आज मामूली गिरावट देखने को मिली। बंबई शेयर बाजार का संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 109.40 अंक यानी 0.18 फीसदी की गिरावट के साथ 60,029.06 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं, नेशनल स्‍टॉक एक्‍सजेंच का निफ्टी भी आज 40.70 अंक यानी 0.23 फीसदी की मामूली कमी के साथ 17,889.00 के स्‍तर पर बंद हुआ। शेयर बाजारों के लाल निशान में बंद होने के बाद भी आज बैंकिंग सेक्‍टर के स्‍टॉक्‍स में तेजी दर्ज की गई। निफ्टी बैंक और ऑटो के शेयरों में आज तेजी दर्ज की गई है. निफ्टी बैंक 174.65 अंक की बढ़त के साथ 39,938.40 के स्‍तर पर बंद हुआ। निफ्टी ऑटो में 0.88 फीसदी यानी 100.30 अंक की तेजी दर्ज की गई और ये 11521.30 के स्‍तर पर बंद हुआ। वहीं, निफ्टी आईटी 112.65 अंक घटकर 35177.30 के स्‍तर पर पहुंच गया। वहीं, बीएसई स्‍मॉलकैप में आज तेजी का रुख देखने को मिला. ये 1.11 फीसदी यानी 312.65 अंक बढ़कर 28,605.70 के स्‍तर पर बंद हुआ, जबकि बीएसई मिडकैप 0.55 फीसदी की बढ़त के साथ 25,860.41 अंक पर बंद हुआ।

OLA को 10 साल में पहली बार हुआ मुनाफा

मोबाइल ऐप के जरिये कैब सर्विस मुहैया कराने वाली कंपनी ओला ने करीब 10 साल पहले काराबार शुरू किया था। इन 10 सालों में उसे कभी भी मुनाफा नहीं हुआ। कंपनी ने बताया कि उसे वित्‍त वर्ष 2021 के दौरान पहली बार फायदा हुआ। कंपनी ने बताया कि मार्च 2021 में खत्म हुए वित्त वर्ष में उसका परिचालन मुनाफा या अर्निंग बिफोर इंटरेस्ट, टैक्स, डेप्रिसिएशन एंड एमॉर्टाइजेशन 89।82 करोड़ रुपये रहा। इसके पिछले वित्त वर्ष में कंपनी को 610.18 करोड़ रुपये का परिचालन घाटा हुआ था। जापान के सॉफ्टबैंक ग्रुप के निवेश वाली ओला ने बताया कि लॉकडाउन के दौरान राइड-शेयरिंग की डिमांड कम रहने के चलते कंपनी के रेवेन्यू में पिछले वित्त वर्ष के मुकाबले 65 फीसदी गिरावट आई। इस दौरान कंपनी का रेवेन्‍यू 689.61 करोड़ रुपये रहा। इसके बाद भी ओला को लागत में बड़ी कटौती और वर्कफोर्स की छंटनी से लाभ दर्ज करने में मदद मिली। ओला को 2010 में भावीश अग्रवाल ने शुरू किया था। ओला अगले कुछ महीनों में पब्लिक ऑफर के जरिये 1 अरब डॉलर जुटाने की तैयारी कर रही है।

मॉडल वर्ष 2022 से मॉडल 3 और मॉडल वाई की रेंज बढ़ाएगी टेस्ला

एलन मस्क के स्वामित्व वाली इलेक्ट्रिक वाहन कंपनी टेस्ला ने 2022 मॉडल वर्ष के साथ मॉडल 3 और मॉडल वाई रेंज को अपडेट किया है और उनमें से अधिकांश को उच्च रेंज में शामिल किया है, हालांकि यह पहियों पर निर्भर करती है। अपने ऑनलाइन कॉन्फिगरेटर को रात भर के अपडेट में, टेस्ला ने अपने कई सबसे लोकप्रिय मॉडल 3 और मॉडल वाई ट्रिम्स की श्रेणियों को बदल दिया। इलेक्ट्रेक की रिपोर्ट के अनुसार, अपडेट 2022 मॉडल वर्ष में टेस्ला के उत्पादन को स्थानांतरित करने के साथ मेल खाता है। मॉडल वर्ष टेस्ला के साथ उतना बड़ा सौदा नहीं है जितना कि अधिकांश अन्य वाहन निर्माताओं के साथ है क्योंकि इलेक्ट्रिक ऑटोमेकर अपने वाहनों में बदलाव को लागू करने के लिए एक नए मॉडल वर्ष की प्रतीक्षा नहीं करता है। रिपोर्ट में कहा गया है कि यह उत्पादन के लिए तैयार होने के साथ-साथ पूरे वर्ष में लगातार नई सुविधाओं और परिवर्तनों को पेश करता है। हालांकि, कुछ मॉडल वर्ष बड़े बदलावों के साथ मेल खाते हैं। 2022 मॉडल वर्ष के लिए, टेस्ला ने ऐसे बदलाव किए हैं जो मॉडल 3 और मॉडल वाई वाहनों की श्रेणी को प्रभावित करते हैं। मॉडल 3 स्टैंडर्ड रेंज प्लस के लिए, रेंज एक बार चार्ज करने पर 262 से 272 मील तक चली गई। यह 'स्टैंडर्ड' 18-इंच के पहियों पर है, जो कि कीमत में केवल स्टैंडर्ड हैं, जो कि सस्ती है, क्योंकि टेस्ला के पास अब 19-इंच के पहिये हैं जो रिपोर्ट के अनुसार ऑनलाइन कंफीगुरेटर पर डिफॉल्ट रूप से चुने गए हैं। 19 इंच के पहियों के साथ, रेंज 267 मील तक गिरती है।

इसके अलावा, टेस्ला बेस मॉडल 3 को 'स्टैंडर्ड रेंज प्लस' के रूप में संदर्भित नहीं करता है। अब यह केवल इसे 'रियर-व्हील ड्राइव' के रूप में संदर्भित करता है और विभिन्न बैटरी पैक केवल मॉडल 3 ड्यूल मोटर द्वारा विभेदित होते हैं जिन्हें 'लॉन्ग रेंज' भी कहा जाता है। मॉडल 3 लॉन्ग रेंज 18 इंच के पहियों के साथ 353 से 358 मील तक जाती है। 19 इंच के पहियों के साथ, रेंज एक बार चार्ज करने पर 334 मील तक जाती है। मॉडल वाई लॉन्ग रेंज को भी टक्कर मिली है। यह 326 से 330 मील की रेंज में चली गई है। हालांकि, जब मॉडल 3 स्टैंडर्ड रेंज की बात आती है, जिसे अब 'स्टैंडर्ड रेंज' नहीं कहा जा रहा है, तो टेस्ला ने हाल ही में घोषणा की कि वह सभी 'स्टैंडर्ड रेंज' वाहनों को एलएफपी बैटरी में स्थानांतरित कर रही है।

एप्पल का 2022 का मिक्स्ड रियलिटी हेडसेट वाई-फाई 6ई को करेगा सपोर्ट : रिपोर्ट

एप्पल अपने अघोषित मिश्रित रियलिटी हेडसेट के लिए सबसे उन्नत चिप्स पर काम कर रहा है। अब एक नई रिपोर्ट में दावा किया गया है कि डिवाइस उच्च बैंडविड्थ, कम विलंबता कनेक्टिविटी की पेशकश करने के लिए वाई-फाई 6ई को शामिल करेगा। एप्पल विश्लेषक मिंग-ची कू के अनुसार, वायरलेस अनुभव को बेहतर बनाने के लिए लेटेस्ट वाई-फाई विनिर्देश को अपनाना हेड-माउंटेड डिस्प्ले (एचएमडी) के लिए एक बुनियादी आवश्यकता है। मैकरियूमर्स की रिपोर्ट के अनुसार, मेटा, एप्पल और सोनी के नए एचएमडी 2022 में वाई-फाई 6/6ई को अपनाएंगे। कुओ बताते हैं, "वाई-फाई 6 ट्रांसमिशन गति और बिजली की खपत में वाई-फाई 5 की तुलना में काफी बेहतर है, इसलिए मेटा का नवीनतम ओकुलस क्वेस्ट 2 वाई-फाई 6 का समर्थन करता है। वाई-फाई 6 ओकुलस एयर लिंक को अधिक मजबूती से संचालित करने में मदद करता है और 120 हट्र्ज तक की डिस्प्ले रिफ्रेश दर (वाई-फाई 5 के लिए 72 हट्र्ज या 90 हट्र्ज की तुलना में) की अनुमति देता है।"

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia