अर्थ जगत की 5 बड़ी खबरें: Paytm की एक और उपलब्धि! और ICICI Bank के नेट प्रॉफिट में आया 78 फीसदी का उछाल

डिजिटल पेमेंट एंड फाइनेंशियल सर्विसेज कंपनी पेटीएम ने कहा है कि पेटीएम पेमेंट्स बैंक के प्लेटफॉर्म पर 15.5 करोड़ यूपीआई हैंडल्स/आईडी हैं और प्राइवेट सेक्टर के आईसीआईसीआई बैंक ने शनिवार को चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही के नतीजे जारी कर दिए।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

Paytm ने ऑनलाइन ट्रांजैक्शन के लिए बनाए 15.5 करोड़ UPI हैंडल्स

डिजिटल पेमेंट एंड फाइनेंशियल सर्विसेज कंपनी पेटीएम ने कहा है कि पेटीएम पेमेंट्स बैंक के प्लेटफॉर्म पर 15.5 करोड़ यूपीआई हैंडल्स/आईडी हैं। कंपनी के आईपीओ के सिलसिले में मार्केट रेगुलेटर सेबी के पास जमा कराए गए विवरण के अुनसार पेटीएम यूपीआई हैंडल्स पेटीएम पेमेंट्स बैंक द्वारा बनाए गए हैं। बता दें कि यूपीआई हैंडल्स/आईडी का उपयोग पैसा भेजने और प्राप्त करने के लिए किया जाता है। पेटीएम पेमेंट्स बैंक एनपीसीआई से सर्टिफाइड पेमेंट सर्विस पोवाइडर और यूपीआई ट्रांजैक्शन के लिए जारीकर्ता बैंक है। कंपनी ने हाल में आईपीओ के लिए सेबी के पास जमा डीआरएचपी का हवाला देते हुए एक बयान में कहा, ''पेटीएम पेमेंट्स बैंक के प्लेटफॉर्म पर 15.5 करोड़ यूपीआई हैंडल्स हैं। डिजिटल पेमेंट में तेजी के साथ खुदरा और बड़े व्यापारियों की दुकानों पर यूपीआई के जरिए पेमेंट में बढ़ोतरी हो रही है।''

व्यापार सुविधा रैंकिंग में भारत ने लगाई बड़ी छलांग

केंद्रीय अप्रत्यक्ष कर बोर्ड यानी सीबीआईसी के तहत विशेष रूप से सीमा शुल्क विभाग सहित विभिन्न विभागों द्वारा किए गए सुधारों के कारण भारत की व्यापार सुविधा रैंकिंग बेहतर हुई है। वित्त मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि डिजिटल एवं टिकाऊ व्यापार सुविधा पर संयुक्त राष्ट्र के वैश्विक सर्वेक्षण में भारत की स्थिति में उल्लेखनीय सुधार हुआ है। बयान के मुताबिक भारत ने ताजा सर्वेक्षण में 90.32 फीसदी अंक हासिल किए, जबकि इससे पहले 2019 में उसे 78.49 फीसदी अंक मिले थे। दुनिया भर की 143 अर्थव्यवस्थाओं के मूल्यांकन के बाद 2021 के सर्वेक्षण में भारत की स्थिति पारदर्शिता, संस्थागत व्यवस्था एवं सहयोग, कागज रहित व्यापार सहित कई लिहाज से बेहतर हुई। सर्वेक्षण में कहा गया कि दक्षिण एवं दक्षिण पश्चिम एशिया क्षेत्र और एशिया प्रशांत क्षेत्र की तुलना में भारत का प्रदर्शन बेहतर रहा। बयान में कहा गया कि भारत की रैंकिंग फ्रांस, ब्रिटेन, कनाडा, नॉर्वे, फिनलैंड आदि कई ओईसीडी देशों से बेहतर पाई गई।

ICICI Bank Q1 रिजल्ट्स: नेट प्रॉफिट 52 फीसदी बढ़कर 4747 करोड़ रुपये रहा

प्राइवेट सेक्टर के आईसीआईसीआई बैंक ने शनिवार को चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही के नतीजे जारी कर दिए। बैंक का चालू वित्त वर्ष की जून में समाप्त पहली तिमाही का कॉन्सलिटेड नेट प्रॉफिट 52 फीसदी बढ़कर 4,747।42 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। संपत्ति के लिहाज से प्राइवेट सेक्टर के इस दूसरे सबसे बड़े बैंक ने स्टैंडअलोन बेसिस पर पहली तिमाही में 4,616।02 करोड़ रुपये का नेट प्रॉफिट कमाया है जो इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही से 77 फीसदी ज्यादा है। शेयर बाजारों को भेजी सूचना में बैंक ने कहा कि तिमाही के दौरान उसकी कुल आय घटकर 24,379 करोड़ रुपये रह गई, जो इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में 26,067 करोड़ रुपये रही थी। तिमाही के दौरान बैंक का कुल प्रावधान 2,852 करोड़ रुपये रहा, जो एक साल पहले समान अवधि में 7,594 करोड़ रुपये रहा था

गो फस्र्ट ने जम्मू से दिल्ली के लिए पहली रात की उड़ान संचालित की

बजट एयरलाइन गो फस्र्ट ने जम्मू से दिल्ली के लिए पहली रात की उड़ान का संचालन किया है। इस एयरलाइन को पहले गोएयर के नाम से जाना जाता था। तदनुसार, उड़ान 'जी8 196' ने रात 8 बजे उड़ान भरी। शुक्रवार को और एयरबस ए320नियो पर संचालित किया गया था। गो फस्र्ट आगे बढ़ते हुए जम्मू से दिल्ली और श्रीनगर के लिए निर्धारित उड़ान संचालित करेगी। "यह केंद्र शासित प्रदेश के लिए एक नए युग की शुरुआत है, जिसने लंबे समय से देश के बाकी हिस्सों के साथ बेहतर कनेक्टिविटी के लिए रात की उड़ानों की शुरुआत की वकालत की है।" विशेष रूप से, एयरलाइन, सोमवार, मंगलवार, गुरुवार और शनिवार को जम्मू से दिल्ली के लिए सप्ताह में चार उड़ानें और जम्मू से बुधवार, शुक्रवार और रविवार को श्रीनगर के लिए तीन उड़ानें संचालित करेगी। गो फस्र्ट के मुख्य कार्यकारी अधिकारी कौशिक खोना के अनुसार, "यह पहल कृषक समुदाय की सहायता करेगी और पर्यटन क्षेत्र को भी मजबूत करेगी, जो क्षेत्र के आर्थिक विकास में एक प्रमुख भूमिका निभाता है।" उन्होंने कहा, "हम बेहतर कनेक्टिविटी प्रदान करना जारी रखेंगे और जम्मू-कश्मीर के आर्थिक विकास में भूमिका निभाएंगे। गो फस्र्ट जम्मू और कश्मीर के केंद्र शासित प्रदेशों में जम्मू से दिल्ली और श्रीनगर के लिए उड़ानों की संख्या को बढ़ाकर नेटवर्क को मजबूत कर रहा है।"

बृहस्पति के लिए स्पेसएक्स की ओर से निर्मित फाल्कन हेवी रॉकेट से उड़ान भरेगा नासा का अंतरिक्ष यान

अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा का यूरोपा क्लिपर अंतरिक्ष यान, जो अक्टूबर 2024 में बृहस्पति के बफीर्ले चंद्रमा के प्रक्षेपण के लिए तैयार है, स्पेसएक्स की ओर से निर्मित फाल्कन हेवी रॉकेट से उड़ान भरेगा। अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी स्पेसएक्स को लॉन्च सेवाओं के लिए लगभग 17।8 करोड़ डॉलर का भुगतान करेगी। अंतरिक्ष एजेंसी ने शुक्रवार को एक बयान में यह जानकारी दी। यूरोपा क्लिपर यूरोपा का विस्तृत सर्वेक्षण करेगा और यह जांचने के लिए विज्ञान उपकरणों के एक परिष्कृत सूट का उपयोग करेगा कि इस बफीर्ले चंद्रमा पर जीवन के लिए उपयुक्त स्थितियां हैं या नहीं। नासा ने कहा, मिशन - 45 टाइम्स फ्लाई बाय द मून (45 बार चंद्रमा से उड़ना) - यूरोपा की सतह की उच्च-रिजॉल्यूशन तस्वीरों का उत्पादन करना, इसकी संरचना का निर्धारण करना, हाल ही में या चल रही भूवैज्ञानिक गतिविधि के संकेतों की तलाश करना, चंद्रमा के बफीर्ले खोल की मोटाई को मापना, उपसतह झीलों की खोज करना है। इसके साथ ही इसका यूरोपा के महासागर की गहराई और लवणता का निर्धारण करना भी उद्देश्य है। 2015 में नासा द्वारा बृहस्पति के बफीर्ले चंद्रमा यूरोपा के मिशन को मंजूरी दी गई थी।

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia