अर्थजगत की खबरें: आम आदमी को महंगाई से जल्द मिलेगी राहत! और भारतीय सर्राफा बाजार में सोना की साप्ताहिक कीमतों में तेजी

RBI गवर्नर शक्तिकांत दास ने उम्मीद जताई है कि अगले सप्ताह आने वाले अक्टूबर महंगाई के आंकड़ों में मुद्रास्फीति की दर 7 प्रतिशत से नीचे रहने की संभावना है और भारतीय सर्राफा बाजार में सोना की साप्ताहिक कीमतों में तेजी आई है।

फोटो: Getty Images
फोटो: Getty Images
user

नवजीवन डेस्क

अक्टूबर में 7% से नीचे रह सकती है मुद्रास्फीति की दर: RBI

RBI गवर्नर शक्तिकांत दास ने उम्मीद जताई है कि अगले सप्ताह आने वाले अक्टूबर महंगाई के आंकड़ों में मुद्रास्फीति की दर 7 प्रतिशत से नीचे रहने की संभावना है। आरबीआई गवर्नर ने कहा है कि 4 से 6 फीसदी की मुद्रास्फीति दर अर्थव्यवस्था के लिए अनुकूल है, जबकि इंफ्लेशन रेट का 6 प्रतिशत से ऊपर रहना भारत के विकास के लिए हानिकारक हो सकता है। उन्होंने आगे कहा, “आरबीआई की आंतरिक समिति ने एक विस्तृत विश्लेषण किया और पाया कि +/-2% के बैंड के साथ 4 प्रतिशत मुद्रास्फीति लक्ष्य केंद्रीय बैंक को नीति निर्माण राहत दे सकता है।” रूस-यूक्रेन युद्ध के बाद से भारत में महंगाई की दर 6.3 प्रतिशत और 7.3 प्रतिशत के बीच रही है।

आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि दुनियाभर की तमाम अर्थव्यवस्थाएं तनाव के दौर से गुजर रही है। इसके लिए उन्होंने मुख्य रूप से 3 कारणों को जिम्मेदार बताया है। उन्होंने कहा कि कोविड महामारी, यूक्रेन-रूस युद्ध और वित्तीय बाजार की वजह से उभरे संकट की वजह से भारत समेत दुनियाभर की इकोनॉमी पर दबाव है। आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि इस समय भी हमारा विदेशी मुद्रा भंडार बहुत बेहतर स्थिति में है। हालांकि, वैश्विक स्तर पर बदलते हालात और इससे जुड़ी चुनौतियों के भारतीय रुपये कमजोरी देखने को मिली है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

पोर्टल व स्मार्टवॉच प्रोजेक्ट को बंद करने की योजना बना रहा मेटा

मेटा ने अपने वीडियो कॉलिंग स्मार्ट डिस्प्ले 'पोर्टल' और इसके दो स्मार्टवॉच प्रोजेक्ट, जो अभी रिलीज नहीं हुए है, को बंद करने की योजना बनाई है। कंपनी ने 11,000 कर्मचारियों को बर्खास्त कर दिया है। द वर्ज की रिपोर्ट के अनुसार मेटा के अधिकारियों ने घोषणा की कि कंपनी ने पोर्टल और वियरेबल्स दोनों को समाप्त करने की योजना बनाई है। टेक दिग्गज ने अन्य व्यवसायों के लिए पोर्टल वीडियो कॉलिंग हार्डवेयर की पेशकश करने की अपनी योजना को भी समाप्त कर दिया है। रिपोर्ट में कहा गया है कि सबसे एडवांस स्मार्टवॉच, कोड-नेम 'मिलान', जिसे 2023 में लगभग 349 डॉलर में लॉन्च करने की उम्मीद थी और वीडियो कॉलिंग के लिए दो बिल्ट-इन कैमरों की सुविधा देने की संभावना थी, मेटा द्वारा स्थगित कर दिया गया।

हाल ही में मेटा ने अगले साल एक और कंज्यूमर-ग्रेड वर्चुअल रियलिटी हेडसेट लॉन्च करने की योजना की घोषणा की थी। मेटा संस्थापक और सीईओ मार्क जुकरबर्ग ने कहा कि नया हाई-एंड वीआर हेडसेट यूजर्स को बेहतर अनुभव देने के लिए हाई-रिजॉल्यूशन प्रदान करेगा। जुकरबर्ग ने कहा, अगले कई सालों में क्वेस्ट प्रो लाइन के लिए हमारा लक्ष्य अधिक से अधिक लोगों को वर्चुअल और मिक्स्ड में अपना काम पीसी पर बेहतर तरीके से करने में सक्षम बनाना है।

अर्थजगत की खबरें: आम आदमी को महंगाई से जल्द मिलेगी राहत! और भारतीय सर्राफा बाजार में सोना की साप्ताहिक कीमतों में तेजी

मस्क के वकील ने ट्विटर के कर्मचारियों से कहा, 'वे जेल नहीं जाएंगे'

एलन मस्क के एक वकील ने ट्विटर के कर्मचारियों को आश्वस्त किया है कि अगर कंपनी ने फेडरल ट्रेड कमिशन (एफटीसी) के डिक्री की आवश्यकताओं का उल्लंघन किया तो उन पर कोई आंच नहीं आएगी, वे जेल नहीं जाएंगे। मस्क के वकील एलेक्स स्पिरो ने कर्मचारियों को एक ईमेल भेजा, जिसमें कहा गया, एफटीसी के डिक्री का उल्लंघन करने पर व्यक्तिगत रूप से कर्मचारी नहीं, ब्लकि ट्विटर कंपनी उत्तरदायी होगी। 2011 में, ट्विटर ने यूजर डेटा का दुरुपयोग करने के बाद अमेरिकी नियामक के साथ एक डिक्री पर हस्ताक्षर किए। एफटीसी ने इस सप्ताह कहा कि कोई भी सीईओ या कंपनी कानून से ऊपर नहीं है।

स्पिरो ने ईमेल में कहा कि यह कंपनी की बाध्यता है। उन्होंने लिखा, ट्विटर पर ऐसे कई कर्मचारी हैं, जो एफटीसी मामले पर काम भी नहीं करते हैं। ऐसे में उन्हें डर हैं कि अगर वे इसका अनुपालन नहीं करेंगे, तो वे जेल जा सकते हैं। लेकिन मैं समझता हूं कि यह कंपनी का दायित्व है। यह कंपनी की देनदारी है। वकील ने कहा कि वे सहमति डिक्री के अनुपालन में रहेंगे। इस बीच, जब से मस्क ने ट्विटर खरीदा है, ट्विटर पर नस्लीय गतिविधि की घटनाएं बढ़ गई हैं। दावा किया जा रहा है कि उन्होंने नफरत की गतिविधियों को कम कर दिया है। सेंटर फॉर काउंटरिंग डिजिटल हेट के शोधकर्ताओं ने पाया कि मस्क द्वारा ट्विटर की खरीद के बाद के सप्ताह में, कई अलग-अलग नस्लीय गतिविधियों में ट्वीट्स की संख्या में वृद्धि हुई है।

अर्थजगत की खबरें: आम आदमी को महंगाई से जल्द मिलेगी राहत! और भारतीय सर्राफा बाजार में सोना की साप्ताहिक कीमतों में तेजी

सोना ₹1,323 मजबूत, चांदी में ₹1,109 का उछाल

भारतीय सर्राफा बाजार में सोना की साप्ताहिक कीमतों में तेजी आई है। वहीं चांदी भी महंगी हुई है। इस कारोबारी हफ्ते में सोने के भाव में 1,323 रुपये प्रति 10 ग्राम की तेजी दर्ज की गई है जबकि चांदी के भाव में 1,109 रुपये प्रति किलोग्राम का उछाल आया है। इंडिया बुलियन एंड ज्वेलर्स एसोसिएशन यानी आईबीजीए की वेबसाइट के मुताबिक, इस बिजनेस वीक (7 से 11 नवंबर) की शुरुआत में यानी 7 नवंबर को 24 कैरेट सोने का रेट 50,958 था, जो शुक्रवार तक बढ़कर 52,281 रुपये प्रति 10 ग्राम हो गया है। वहीं, 999 शुद्धता वाली चांदी की कीमत 60,245 से बढ़कर 61,354 रुपये प्रति किलोग्राम हो गई है। उल्लेखनीय है कि आईबीजीए की ओर से जारी कीमतों से अलग-अलग शुद्धता के सोने के स्टैंडर्ड भाव की जानकारी मिलती है। ये सभी दाम टैक्स और मेकिंग चार्ज के पहले के हैं. आईबीजीए द्वारा जारी किए गए दरें देशभर में सर्वमान्य हैं लेकिन इसकी कीमतों में जीएसटी शामिल नहीं होती है।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;