अर्थ जगत: जोमैटो, स्विगी को 500 करोड़ रुपये का जीएसटी नोटिस! और ओपनएआई में लौट आए सैम ऑल्टमैन

ऑनलाइन फूड डिलीवरी प्लेटफॉर्म जोमैटो और स्विगी को डिलीवरी शुल्क पर 500 करोड़ रुपये के जीएसटी नोटिस मिले हैं। सैम ऑल्टमैन ने बुधवार को कहा कि वह नए बोर्ड और माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ सत्या नडेला के समर्थन के साथ चैटजीपीटी विकासशील कंपनी में लौट रहे हैं।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

भारत के कैग संयुक्त राष्ट्र के लेखा परीक्षक पैनल के उपाध्यक्ष चुने गये

फोटो: IANS
फोटो: IANS

 भारत के नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (कैग) गिरीश चंद्र मुर्मू को वर्ष 2024 के लिए संयुक्त राष्ट्र लेखा परीक्षक पैनल का उपाध्यक्ष चुना गया है। कैग ने कहा, "यह मान्यता बाहरी ऑडिट के उच्चतम मानकों के प्रति भारत की प्रतिबद्धता और वैश्विक ऑडिट परिदृश्य को आकार देने में उसकी सक्रिय भागीदारी को रेखांकित करती है।"

मुर्मू ने 20-21 नवंबर 2023 को न्यूयॉर्क में संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय में आयोजित बाहरी लेखा परीक्षकों के पैनल के 63वें सत्र में भाग लिया था। बाहरी लेखा परीक्षकों का पैनल जिसमें वैश्विक स्तर पर 12 सर्वोच्च लेखा परीक्षा संस्थानों (एसएआई) के प्रमुख शामिल हैं, संयुक्त राष्ट्र सचिवालय, निधियों और कार्यक्रमों और विशेष एजेंसियों के बाहरी लेखा परीक्षा की देखरेख करते हैं।

इस स्वतंत्र निकाय में कनाडा, चिली, चीन, फ्रांस, जर्मनी, भारत, इंडोनेशिया, इटली, फिलीपींस, रूस, स्विट्जरलैंड और ब्रिटेन के प्रतिनिधि शामिल हैं। यह संयुक्त राष्ट्र संस्थाओं के वित्तीय, प्रदर्शन और अनुपालन का ऑडिट करता है।

डीजीसीए ने यात्री-केंद्रित मानदंडों की अनदेखी के लिए एयर इंडिया पर 10 लाख रुपये का जुर्माना लगाया

फोटो: IANS
फोटो: IANS

देश के विमानन नियामक डीजीसीए ने यात्री-केंद्रित नियमों का अनुपालन न करने के लिए टाटा समूह की विमान सेवा कंपनी एयर इंडिया पर 10 लाख रुपये का जुर्माना लगाया है। डीजीसीए ने कहा कि उसने नियमों में निर्धारित प्रावधानों के अनुसार सभी अनुसूचित विमान सेवा कंपनियों द्वारा यात्रियों को प्रदान की जाने वाली सुविधाओं/मुआवजे से संबंधित दायित्वों के निर्वहन का पता लगाने के लिए के मई और सितंबर में दिल्ली, कोच्चि और बेंगलुरु हवाई अड्डों पर निरीक्षण किया।

डीजीसीए के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, "एयरलाइनों के निरीक्षण के दौरान यह पाया गया कि एयर इंडिया प्रासंगिक नागरिक उड्डयन आवश्यकता (सीएआर) के प्रावधानों का अनुपालन नहीं कर रहा था। तदनुसार, 3 नवंबर को एयर इंडिया को एक कारण बताओ नोटिस जारी किया गया था, जिसमें उसकी प्रतिक्रिया मांगी गई थी।


ओपनएआई में लौट आए सैम ऑल्टमैन

फोटो: IANS
फोटो: IANS

ओपनएआई कथा के अंतिम मोड़ पर सैम ऑल्टमैन ने बुधवार को कहा कि वह नए बोर्ड और माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ सत्या नडेला के समर्थन के साथ चैटजीपीटी विकासशील कंपनी में लौट रहे हैं। एक्स पर एक पोस्ट में, ऑल्टमैन ने कहा कि उन्हें ओपनएआई पसंद है और पिछले कुछ दिनों में उन्होंने जो कुछ भी किया है वह इस टीम और इसके मिशन को एक साथ रखने की सेवा में है।

उन्होंने पोस्ट किया, "जब मैंने रविवार शाम को माइक्रोसॉफ्ट में शामिल होने का फैसला किया, तो यह स्पष्ट था कि यह मेरे और टीम के लिए सबसे अच्छा रास्ता था।"

उन्होंने कहा, "नए बोर्ड और नडेला के समर्थन के साथ, मैं ओपनएआई में लौटने और माइक्रोसॉफ्ट के साथ हमारी मजबूत साझेदारी को आगे बढ़ाने की उम्मीद कर रहा हूं।"

ज़ोमैटो, स्विगी को 500 करोड़ रुपये का जीएसटी नोटिस: रिपोर्ट

फोटो: IANS
फोटो: IANS

ऑनलाइन फूड डिलीवरी प्लेटफॉर्म जोमैटो और स्विगी को डिलीवरी शुल्क पर 500 करोड़ रुपये के जीएसटी नोटिस मिले हैं। बुधवार को मीडिया रिपोर्टों में यह जानकारी दी गई। दोनों ऑनलाइन फूड डिलीवरी प्लेटफॉर्म ग्राहकों से डिलीवरी फीस के नाम पर कुछ पैसे वसूलते हैं।

रिपोर्ट्स के मुताबिक टैक्स अधिकारियों और फूड डिलीवरी ऐप्स के बीच डिलीवरी फीस को लेकर अक्सर विवाद होता रहता है, जिसमें करीब 1000 करोड़ रुपये का विवाद होता है।ज़ोमैटो ने संपर्क करने पर टिप्‍पणी से इनकार कर दिया। स्विगी ने भी कोई टिप्पणी नहीं की।

ज़ोमैटो और स्विगी के अनुसार, 'डिलीवरी चार्ज' कुछ और नहीं बल्कि डिलीवरी पार्टनर्स द्वारा वहन की जाने वाली लागत है जो घर-घर खाना पहुंचाने जाते हैं। कंपनियां बस ग्राहकों से वह लागत वसूलती हैं और इसे डिलीवरी पार्टनर्स को दे देती हैं। लेकिन, रिपोर्ट के मुताबिक टैक्स अधिकारी इससे सहमत नहीं हैं।


आरबीआई गवर्नर ने एनबीएफसी की बैंक ऋणों पर अधिक निर्भरता पर जताई चिंता

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया

 भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के गवर्नर शक्तिकांत दास ने बुधवार को एनबीएफसी द्वारा अपने ऋण परिचालन के वित्तपोषण के लिए बैंकों से लिए जा रहे ऋण पर गंभीर चिंता व्यक्त की और कहा कि यह सिस्‍टम में एक "जोखिम" के रूप में उभरा है। "

एफआईबीएसी 2023 सम्मेलन को संबोधित करते हुए, दास ने कहा कि एनबीएफसी को अन्य स्रोतों से धन जुटाने और उच्च "इंटरकनेक्टेडनेस" के कारण जोखिम को कम करने के लिए बैंकों पर अपनी निर्भरता कम करने की आवश्यकता है।

उन्होंने यह भी कहा कि कई ऋणदाता अपने निर्णय लेने के लिए एल्गोरिदम पर बहुत अधिक निर्भर हैं और निवेश निर्णय लेने से पहले डेटा का अधिक सावधानीपूर्वक विश्लेषण करने की आवश्यकता है।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;