अर्थ जगत की 5 बड़ी खबरें: IPO लाने की तैयारी में स्नैपडील! और इस साल इलेक्ट्रिक कार पेश कर सकता है टेस्ला

देश के आईपीओ बाजार में बहार है। खबर है कि ई-कॉमर्स कंपनी स्नैपडील भी आईपीओ लाने की तैयारी कर रही है और एलोन मस्क ने कथित तौर कहा है कि ऑटोमेकर 2023 में अपनी पहली 25,000 डॉलर की इलेक्ट्रिक कार को पेश करने की योजना बना रहा है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

आईपीओ लाने की तैयारी में Snapdeal!

ब्लूमबर्ग की एक रिपोर्ट के मुताबिक, ई-कॉमर्स कंपनी स्नैपडील भी आईपीओ लाने की तैयारी कर रही है। खबरों के मुताबिक दिग्गज निवेशक सॉफ्टबैंक कॉर्प समर्थित स्नैपडील कंपनी लगभग 40 करोड़ डॉलर की पूंजी जुटाने के लिए आईपीओ लाने वाली है। रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि यह योजना अभी शुरुआती दौर में है। हालांकि स्नैपडील और सॉफ्टबैंक ने इस बारे में अभी कोई बयान जारी नहीं किया है। सूत्रों के मुताबिक, यह आईपीओ जल्द से जल्द अगले साल आ सकता है। गौरतलब है कि स्नैपडील का मुख्यालय गुड़ग्राम में है। इसकी स्थापना साल 2010 में हुई थी। फिलहाल इस प्लेटफॉर्म पर 800 कैटेगरीज के करीब 6 करोड़ प्रोडक्ट रजिस्टर्ड हैं। कंपनी देश में 6 हजार से ज्यादा शहरों और कस्बों में डिलीवरी करती है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

जनरल इंश्योरेंस कारोबार से बाहर होगी भारती एक्सा

प्राइवेट सेक्टर की जनरल इंश्योरेंस कंपनी आईसीआईसीआई लोम्बार्ड ने शुक्रवार को कहा कि इंश्योरेंस सेक्टर के रेगुलेटर आईआरडीएआई ने भारती एक्सा जनरल इंश्योरेंस के जनरल इंश्योरेंस कारोबार को उससे अलग कर उसके साथ मिलाने की योजना को अंतिम मंजूरी दे दी है। आईसीआईसीआई लोम्बार्ड ने रेगुलेटरी फाइलिंग में यह जानकारी दी। आईसीआईसीआई लोम्बार्ड ने कहा कि इस संबंध में कंपनी को तीन सितंबर 2021 को आईआरडीएआई से प्रस्तावित योजना को लेकर अंतिम मंजूरी का पत्र प्राप्त हुआ है। इस योजना के लिए प्रभावी तिथि एक अप्रैल 2020 रखी गई थी। ICICI Lombard ने कहा कि जनरल इंश्योरेंस कारोबार को अलग करने और उसके ट्रांसफर की अंतिम मंजूरी मिलने की तारीख से तीन दिन के भीतर सौदा प्रभावी हो जाएगा जैसा की योजना में कहा गया था। आईआरडीएआई ने आईसीआईसीआई बैंक को आईसीआईसीआई लोम्बार्ड में अपनी हिस्सेदारी कम करके 30 फीसदी पर लाने को भी मंजूरी दे दी है। हालांकि यह काम बीमा कानून 1938 के अनुपालन और जरूरी नियमनों पर निर्भर होगा।

फोटो: IANS
फोटो: IANS

टेस्ला 2023 में इलेक्ट्रिक कार को कर सकता है पेश

एलोन मस्क ने कथित तौर कहा है कि ऑटोमेकर 2023 में अपनी पहली 25,000 डॉलर की इलेक्ट्रिक कार को पेश करने की योजना बना रहा है। इलेक्ट्रेक की रिपोर्ट के अनुसार, सीईओ ने संकेत दिया कि यह स्टीयरिंग व्हील नहीं होगा। मस्क ने पहले उल्लेख किया था कि यह नया मूल्य बिंदु टेस्ला की नई बैटरी सेल और बैटरी निर्माण प्रयास के माध्यम से हासिल किया गया है, जिससे बैटरी की लागत 50 प्रतिशत से कम हो सकता है। 25,000 डॉलर की टेस्ला इलेक्ट्रिक कार एक नई इलेक्ट्रिक हैचबैक होने की उम्मीद है। जिसे ब्रांड चीन में गिगाफैक्ट्री शंघाई में उत्पादन करने और विश्व स्तर पर निर्यात करने का लक्ष्य है। टेक्सास के सार्वजनिक उपयोगिता आयोग के साथ दायर एक आवेदन मे ईवी निर्माता ने अपनी सहायक टेस्ला एनर्जी वेंचर्स के तहत खुदरा इलेक्ट्रिक प्रदाता (आरईपी) बनने का अनुरोध किया है। टेस्ला वर्तमान में ऑस्ट्रेलिया और यूके में एक रिटेल इलेक्ट्रिक प्लान पेश किया है, जो घरेलू ऊर्जा भंडारण को एकीकृत करने पर केंद्रित है। ऑटो-टेक वेबसाइट इलेक्ट्रेक के अनुसार, ऑटोमेकर ने हाल ही में पूर्ण टेस्ला एनर्जी इकोसिस्टम की पेशकश करने के लिए तीसरे पक्ष के इंस्टॉलरों को सौर पैनल, पावरवॉल होम बैटरी पैक और इलेक्ट्रिक वाहन चार्जर के साथ अपना पूर्ण ऊर्जा पारिस्थितिकी तंत्र प्रदान करना शुरू किया है।

फोटो: IANS
फोटो: IANS

एप्पल ने पूर्व-मर्सिडीज इंजीनियरों को 'एप्पल कार' टीम में तैनात किया : रिपोर्ट

एप्पल ने कथित तौर पर मर्सिडीज के दो पूर्व इंजीनियरों को काम पर रखा है, जिन्हें वाहनों के बड़े पैमाने पर उत्पादन, स्टीयरिंग, डायनेमिक्स, सॉफ्टवेयर और परियोजना प्रबंधन का अनुभव है। मैकर्यूमर्स के अनुसार, ये इंजीनियर अब एप्पल के स्पेशल प्रोजेक्ट्स ग्रुप में प्रोडक्ट डिजाइन इंजीनियर के रूप में काम कर रहे हैं। उन्हें संभवत: 'एप्पल कार' के लिए काम पर रखा गया है। मर्सिडीज ने पहले ही एप्पल के साथ काम किया है, क्योंकि यह कारप्ले और एप्पल म्यूजिक फीचर्स को अपनी रेंज में जोड़ता है। विश्वसनीय एप्पल विश्लेषक मिंग-ची कुओ ने पहले दावा किया था कि एप्पल कार की लॉन्चिंग 2025-2027 तक होने की संभावना नहीं है। कुओ ने एक रिसर्च नोट में कहा कि एप्पल कार विनिर्देर्शो को अभी तक अंतिम रूप नहीं दिया गया है। अगर वाहन के लॉन्च की समय सीमा को 2028 या उसके बाद भी आगे बढ़ाया जाए, तो उन्हें आश्चर्य नहीं होगा। कुओ ने एप्पल कार के साथ तीन मुख्य मुद्दों का हवाला दिया : लॉन्च समय के बारे में अनिश्चितता, आपूर्तिकर्ता और वाहन के विनिर्देशों के बारे में अनिश्चितता, और ईवी व सेल्फ-ड्राइविंग कार बाजार में एप्पल की प्रतिस्पर्धात्मकता के बारे में अनिश्चितता। आने वाले अपेल कैन में आई-ट्रैकिंग जैसी इन-केबिन एआई क्षमताओं के साथ ए12 बायोनिक प्रोसेसर पर आधारित 'सी1' चिप का उपयोग किए जाने की उम्मीद है। एप्पल को ऑटोमोटिव प्रक्रियाओं के लिए क्षमता के साथ एक चिप फाउंड्री की जरूरत होगी, जो सैमसंग या टीएसएमसी को एप्पल आपूर्ति कर सकता है।

फोटो: IANS
फोटो: IANS

RBI ने बॉम्बे मर्केंटाइल को-ऑपरेटिव बैंक पर लगाई 50 लाख रुपये की पेनाल्टी

भारतीय रिज़र्व बैंक ने मुंबई के बॉम्बे मर्केंटाइल को ऑपरेटिव बैंक पर नियमों के उल्लघंन को लेकर 50 लाख रुपये का जुर्माना लगाया है। RBI ने अपने ग्राहक को जानिए (केवाईसी) मानदंडों के कुछ प्रावधानों का पालन न करने के लिए अकोला जिला में स्थित केंद्रीय सहकारी बैंक लि।, अकोला (महाराष्ट्र) पर भी दो लाख रुपये का जुर्माना लगाया है। RBI ने एक बयान में कहा कि बॉम्बे मर्केंटाइल बैंक पर आरबीआई के (सहकारी बैंक जमा पर ब्याज दर) निर्देश, 2016 में निहित निर्देशों और पर्यवेक्षी कार्रवाई ढांचे (एसएएफ) के तहत निर्देशों का अनुपालन न करने को लेकर यह जुर्माना लगाया गया है। केंद्रीय बैंक ने एक अलग बयान में कहा कि केंद्रीय सहकारी बैंक की 31 मार्च, 2019 की वित्तीय स्थिति के आधार पर निरीक्षण रिपोर्ट में पाया गया कि बैंक संदिग्ध लेनदेन की प्रभावी पहचान और निगरानी के हिस्से के रूप में अलर्ट के लिए एक मजबूत प्रणाली स्थापित करने में विफल रहा है। इसलिए बैंक पर जुर्माना लगाया गया।

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia