अर्थ जगत की 5 बड़ी खबरें: हफ्ते के पहले दिन ही शेयर बाजार धड़ाम और सस्ता हुआ सोना, चांदी की कीमतों में भी गिरावट

हफ्ते के पहले कारोबारी दिन बाजार गिरावट के साथ बंद हुए हैं। कमजोर ग्लोबल संकेतों के साथ-साथ आज बैंकिग सेक्टर में बड़ी बिकवाली देखने को मिली और सोने की कीमत में सोमवार के पहले दिन ही धड़ाम हो गया। सोने के भाव में 19 जुलाई को फिर से गिरावट आई।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

शेयर बाजार में बड़ी गिरावट, सेंसेक्स-निफ्टी 1 फीसदी से ज्यादा टूटे

हफ्ते के पहले कारोबारी दिन बाजार गिरावट के साथ बंद हुए हैं। कमजोर ग्लोबल संकेतों के साथ-साथ आज बैंकिग सेक्टर में बड़ी बिकवाली देखने को मिली। सेंसेक्स 586।66 अंक यानी 1।10 फीसदी टूटकर 52,553।40 के स्तर पर बंद हुआ। इसके अलावा निफ्टी इंडेक्स 171।00 अंक यानी 1।07 फीसदी की गिरावट के साथ 15,752।40 के स्तर पर बंद हुआ। आज के कारोबार में सेंसेक्स-निफ्टी में करीब 1 फीसदी से भी ज्यादा की गिरावट देखने को मिली है। सेंसेक्स के 30 में से 25 शेयर्स आज गिरावट के साथ बंद हुए हैं। आज के कारोबार में NTPC, नेस्ले इंडिया, डॉरेड्डी, सनफार्मा और अल्ट्रा केमिकल के शेयर्स में तेजी रही है। इसके अलावा गिरावट वाले शेयर्स की बात करें तो HDFC Bank 3।34 फीसदी की गिरावट के साथ टॉप लूजर्स की लिस्ट में रहा है। इसके अलावा Indusind Bank, HDFC, Axis Bank, Maruti, Bajaj finance, ICICI Bank, TechM, Tata Steel, Kotak Bank, Titan, LT, TCS और SBI समेत कई शेयर्स आज के कारोबार में फिसले हैं।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

हफ्ते के पहले दिन गिरा सोना, चांदी भी धड़ाम, जानिए कीमत

सोने की कीमत में सोमवार के पहले दिन ही धड़ाम हो गया। सोने के भाव में 19 जुलाई को फिर से गिरावट आई। सर्राफा बाजार में सोने-चांदी की कीमत में आज बड़ा बदलाव देखने को मिला। सोना जहां 123 रुपए सस्ता हो गया, वहीं चांदी की कीमत में 1223 रुपए की गिरावट देखने को मिली है। सोना और चांदी दोनों आज सस्ते हो गए। सर्राफा बाजार में सोने-चांदी के भाव में आज बड़ा बदलाव देखने को मिला। जहां सोने की कीमत गिरकर 48150 रुपए प्रति 10 ग्राम पर पहुंच गई तो वहीं चांदी के दाम में 1223 रुपए की भारी गिरावट देखने को मिली। अगर सोने-चांदी की रेट पर विस्तार से नजर डाले तो इंडिया बुलियन एंड ज्वैलर्स एसोसिएशन द्वारा जारी ताजा रेट्स के मुताबिक 24 कैरट शुद्धता वाले सोने की कीमत जहां गिरकर 48150 रुपए प्रति 10 ग्राम पर पहुंच गई तो वहीं 23 कैरेट वाले सोने की कीमत 47957 रुपए प्रति 10 ग्राम पर पहुंच गया। जबकि 22 कैरेट वाले गोल्ड की कीमत 44105 रुपए प्रति 10 ग्राम पर ट्रेंड कर रहा है। वहीं 18 कैरेट वाले सोने के दाम 36113 रुपए प्रति 10 ग्राम पर पहुंच गए। वहीं सोमवार को चांदी की कीमत 67689 रुपए प्रति किलोग्राम पर पहुंच गया।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

HCL टेक को जून तिमाही में 3,205 करोड़ रुपए का प्रॉफिट

घरेलू IT कंपनी HCL टेक्नोलॉजीज ने सोमवार को जून तिमाही के नतीजे कर दिए। कंपनी का प्रॉफिट अप्रैल-जून के दौरान 9.9% बढ़कर 3,205 करोड़ रुपए हो गया, जो सालभर पहले समान तिमाही में 2,931 करोड़ रुपए था। कंपनी का रेवेन्यू भी 17,842 करोड़ रुपए से 12.5% बढ़कर 20,068 करोड़ रुपए का रहा। जारी बयान में कंपनी ने कहा कि अप्रैल-जून के दौरान उसने 7,522 नई नौकरियां दीं। इसके बाद कंपनी में काम करने वाले कुल कंर्मचारियों की संख्या 1 लाख 76 हजार 499 हो गई है। शेयरहोल्डर्स के लिए कंपनी 6 रुपए प्रति शेयर डिविडेंड का भी ऐलान किया है। HCL टेक्नोलॉजीज लिमिटेड के CEO सी विजयकुमार ने कहा कि कॉन्स्टेंट करेंसी में कंपनी का रेवेन्यू ग्रोथ साल भर पहले से 11.7% बढ़ा है। हमें इस साल आगे भी तिमाही आधार पर अच्छी ग्रोथ की संभावना है। जून तिमाही में हमने 7500 से ज्यादा नई नौकरियां दीं।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

AGR मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने फैसला सुरक्षित रखा

एडजस्टेड ग्रॉस रेवेन्यू के मामले में सुप्रीम कोर्ट ने टेलीकॉम कंपनियों को बड़ी राहत दी है। सुप्रीम कोर्ट ने भारती एयरटेल, वोडाफोन, आइडिया और टाटा की याचिका पर फैसला सुरक्षित रखा है। टेलीकॉम कंपनियों ने कहा है कि AGR बकाया की गणना गलत तरीके से की गई है, इसलिए इसकी सही गणना करने के आदेश दिए जाएं। कोर्ट ने AGR बकाया चुकाने के लिए कंपनियों को 10 साल का समय दिया है। कोर्ट ने कहा कि टेलीकॉम कंपनियों को बकाया राशि का 10 फीसदी एडवांस में चुकाना होगा। फिर हर साल समय पर किस्त चुकानी होगी। इसके लिए कोर्ट ने 7 फरवरी समय तय किया था। सभी कंपनियों को हर साल इसी तारीख पर बकाया रकम की किस्त चुकानी होगी। यदि वे किस्त समय पर नहीं देती हैं तब उन्हें ब्याज देना होगा। AGR बकाया 1.69 लाख करोड़ रुपए का है, जबकि अभी तक 15 टेलीकॉम कंपनियों ने सिर्फ 30,254 करोड़ रुपए चुकाए हैं। टेलीकॉम कंपनियों ने AGR बकाए के लिए 15 साल का समय मांगा था। सुप्रीम कोर्ट ने AGR की बकाया रकम पर अपना पहला फैसला 24 अक्टूबर, 2019 को सुनाया था। इसके बाद वोडाफोन-आइडिया ने कहा था कि अगर उसे बेलआउट नहीं किया गया तो उसे भारत में अपना कामकाज बंद करना होगा।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

टाइगर ग्लोबल के नेतृत्व में यूज्ड कार रिटेल प्लेटफॉर्म स्पिनी ने 108 मिलियन डॉलर जुटाए

यूज्ड कार रिटेलिंग प्लेटफॉर्म स्पिनी ने बताया है कि, उसने प्रमुख निवेश फर्म टाइगर ग्लोबल के नेतृत्व में नए और मौजूदा निवेशकों से सीरीज डी राउंड में 108 मिलियन डॉलर जुटाए हैं। कंपनी ने कहा कि ग्राहकों के अनुभव को बढ़ाने, प्रौद्योगिकी और उत्पाद क्षमताओं को मजबूत करने, मौजूदा बाजारों में बाजार की प्रवेश को बढ़ाने और विभिन्न कार्यों में टीम बनाने के लिए नए फंड लगाए जाएंगे। लेटेस्ट राउनड में 105 मिलियन रुपये का प्राथमिक पैसों का निवेश और सिलेक्टेड एंगल और शुरूआती चरण के निवेशकों द्वारा 3 मिलियन डॉलर की द्वितीयक बिक्री शामिल है। नए दौर में एक नया निवेशक न्यूयॉर्क स्थित एवेनियर ग्रोथ है। स्पिनी के संस्थापक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी नीरज सिंह ने कहा, हमारा फास्ट फोकस ग्राहकों के ²ष्टिकोण पर रहा है। और हम अपनी गुणवत्ता और अनुभव नियंत्रण क्षमताओं में सुधार पर ध्यान देना जारी रखेंगे। इसके साथ, स्पिनी, जिसकी स्थापना 2015 में हुई थी, ने अब तक 230 मिलियन डॉलर जुटाए हैं। स्पिनी प्री-ओन्ड कारों की पूरी वैल्यू चेन में काम करती है, ग्राहकों को प्रीमियम अनुभव देने के लिए बेहतर तकनीक और प्रक्रियाओं को एम्बेड करती है। वर्तमान में, कंपनी के पास 15 कार हब हैं जो आठ शहरों में काम करते हैं। टाइगर ग्लोबल का यूएस मार्केट लीडर कारवाना में भी एक महत्वपूर्ण निवेश है जो एक समान मॉडल के साथ काम करता है। स्पिनी के पिछले दौर के 6.5 करोड़ रुपये का नेतृत्व अप्रैल में जनरल कैटालिस्ट ने किया था।

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia