अर्थ जगत: 'निकट अवधि में निफ्टी में मंदी के आसार' और फिडेलिटी ने मीशो में अपनी हिस्सेदारी का मूल्यांकन फिर घटाया

एलकेपी सिक्योरिटीज के वरिष्ठ तकनीकी विश्लेषक रूपक डे ने कहा, दैनिक चार्ट निकट अवधि में मंदी का संकेत दे रहा है। विश्व निवेश फर्म फिडेलिटी ने सोशल कॉमर्स प्लेटफॉर्म मीशो में अपनी हिस्सेदारी का मूल्यांकन घटाकर 3.5 बिलियन डॉलर कर दिया है।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

विश्लेषकों ने कहा, निकट अवधि में निफ्टी में मंदी के आसार

एलकेपी सिक्योरिटीज के वरिष्ठ तकनीकी विश्लेषक रूपक डे ने कहा कि निफ्टी में मंगलवार को पूरे दिन उतार-चढ़ाव रहा और मंदी का रुख बना रहा। जहां निफ्टी50 मंगलवार को 216 अंक या 0.99 प्रतिशत की गिरावट के साथ 21,522.10 पर बंद हुआ, वहीं सेंसेक्स 802 अंक या 1.11 प्रतिशत की गिरावट के साथ 71,139.90 पर बंद हुआ।

डे ने कहा, दैनिक चार्ट निकट अवधि में मंदी का संकेत दे रहा है। निचले सिरे पर समर्थन 21,500 पर स्थित है। इस स्तर से नीचे एक महत्वपूर्ण गिरावट संभावित रूप से बाजार में करेक्शन शुरू कर सकती है। इसके उलट, 21,500 से ऊपर के निरंतर व्यापार से बाजार में तेजी आ सकती है।

जियोजित फाइनेंशियल सर्विसेज के अनुसंधान प्रमुख विनोद नायर ने कहा कि निवेशकों ने उच्च मूल्यांकन और मध्य पूर्व में बढ़ते तनाव के बारे में लगातार चिंताओं के बीच आगामी एफओएमसी बैठक और अंतरिम बजट (1 फरवरी) की उम्मीद में सतर्क रुख अपनाते हुए रणनीति में बदलाव दिखाया है।

निफ्टी में पिछले 7 सत्रों में एक दिन ऊपर, एक दिन नीचे का पैटर्न

निफ्टी पिछले सात सत्रों से एक दिन ऊपर, एक दिन गिरावट का रुख दिखा रहा है। एचडीएफसी सिक्योरिटीज के रिटेल रिसर्च प्रमुख दीपक जसानी ने कहा, यह वोट ऑन अकाउंट और यूएस फेड मीटिंग से पहले निवेशकों के असमंजस को दिखाता है।

निफ्टी दैनिक चार्ट पर निकट अवधि में मंदी का संकेत दे रहा है। उन्होंने कहा कि अब इसे 21,813 पर प्रतिरोध का सामना करना पड़ सकता है जबकि 21,429 पर समर्थन मिल सकता है।

मंगलवार को उतार-चढ़ाव भरे सत्र में निफ्टी गिरावट के साथ बंद हुआ। निफ्टी 0.99 फीसदी या 215.5 अंक नीचे 21,522.1 पर बंद हुआ। एनएसई पर नकदी बाजार की मात्रा 1.24 लाख करोड़ रुपये के उच्च स्तर पर थी। जसानी ने कहा, मिडकैप इंडेक्स निफ्टी से कम गिरा और स्मॉलकैप इंडेक्स हरे निशान में समाप्त हुआ, भले ही अग्रिम गिरावट अनुपात 0.95:1 रहा।


एचपी भारत में नए एआई-इनेबल्ड स्पेक्टर लैपटॉप पेश करेगा

 एचपी कंटेम्परेरी और मॉर्डन यूजर्स को टारगेट करते हुए भारत में अपने लेटेस्ट प्रीमियम स्पेक्टर लैपटॉप पेश करने के लिए तैयार है। सूत्रों के मुताबिक, नये स्पेक्टर लैपटॉप की कीमत करीब 1.5 लाख रुपये होगी।

सूत्रों ने मंगलवार को आईएएनएस को बताया, ''स्पेक्टर लैपटॉप की यह नई सीरीज एक आकर्षक और स्टाइलिश डिजाइन के साथ पावर का संयोजन करने के लिए तैयार है। इसके अलावा, पोर्टफोलियो के एआई-संचालित और प्रीमियम होने की उम्मीद है, जो सीधे एप्पल के मैकबुक प्रो के साथ प्रतिस्पर्धा करेगा।''

यूजर्स के लिए बेहतर सहयोग, प्रदर्शन और गोपनीयता सक्षम करने के लिए लैपटॉप लेटेस्ट इंटेल प्रोसेसर के साथ आएंगे।

फिडेलिटी ने मीशो में अपनी हिस्सेदारी का मूल्यांकन घटाकर 3.5 बिलियन डॉलर किया

अर्थ जगत: 'निकट अवधि में निफ्टी में मंदी के आसार' और फिडेलिटी ने मीशो में अपनी हिस्सेदारी का मूल्यांकन फिर घटाया

विश्व निवेश फर्म फिडेलिटी ने सोशल कॉमर्स प्लेटफॉर्म मीशो में अपनी हिस्सेदारी का मूल्यांकन घटाकर 3.5 बिलियन डॉलर कर दिया है। फिडेलिटी ने हाल ही में यूएस सिक्योरिटीज एंड एक्सचेंज कमीशन (एसईसी) के साथ एक नियामक फाइलिंग में मीशो का मूल्यांकन 5 बिलियन डॉलर से घटाकर 4.1 बिलियन डॉलर कर दिया था।

टेकक्रंच के अनुसार, लेटेस्ट मूल्यांकन समायोजन पिछले साल के अंत में द्वितीयक बिक्री लेनदेन के बाद हुआ है। उस बिक्री में मीशो का मूल्य 3.5 बिलियन डॉलर था। कंपनी के एक प्रवक्ता ने कहा, "फिडेलिटी फाइलिंग, धारित शेयरों की संख्या और कुल बकाया पूरी तरह से डाइल्यूट शेयरों की वर्तमान संख्या के आधार पर, मूल्यांकन 3.5 बिलियन डॉलर आंका गया है।"


ग्रेटर नोएडा : बेव्यू प्रोजेक्ट्स एलएलपी, बोनी कपूर और भूटानी ग्रुप बनाएगा फिल्मसिटी

अर्थ जगत: 'निकट अवधि में निफ्टी में मंदी के आसार' और फिडेलिटी ने मीशो में अपनी हिस्सेदारी का मूल्यांकन फिर घटाया

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के ड्रीम प्रोजेक्ट फिल्म सिटी के प्रथम चरण के विकासकर्ता कंपनी का नाम मंगलवार को तय हो गया। फाइनेंसियल बिड खोलने के बाद यह तय हुआ है कि बेव्यू प्रोजेक्ट्स एलएलपी, बोनी कपूर और भूटानी ग्रुप फिल्म सिटी बनाएंगे।

यमुना अथॉरिटी के सेक्टर-21 में प्रस्तावित फिल्म सिटी के प्रथम चरण के लिए देश-विदेश की चार बड़ी कंपनियों ने अपना दावा पेश किया था। फिल्म सिटी के सभी चरणों की बात की जाए तो यह लगभग 10 हजार करोड़ रुपए का प्रोजेक्ट होगा।

बेव्यू प्रोजेक्ट्स एलएलपी, बोनी कपूर और भूटानी ग्रुप ने हाईस्ट बिड देकर पहले चरण का काम पाया है। अब, 155 एकड़ में फिल्मसिटी का ढांचा तैयार होगा और विकासकर्ता कंपनी को 90 साल का लाइसेंस मिलेगा।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;