अर्थ जगत की 5 बड़ी खबरें: DFCCIL ने चीनी कंपनी को दिया बड़ा झटका और लगातार दूसरे दिन बढ़े डीजल के दाम

डीजल के दाम में शनिवार को लगातार दूसरे दिन वृद्धि दर्ज की गई, जबकि पेट्रोल की कीमत लगातार 19वें दिन स्थिर रही। 'डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर कॉर्पोरेशन इंडिया लिमिटेड' ने चीनी कंपनी के साथ अनुबंध समाप्त कर दिया है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

लगातार दूसरे दिन बढ़े डीजल के दाम, दिल्ली में पेट्रोल से 1 रुपया लीटर महंगा

डीजल के दाम में शनिवार को लगातार दूसरे दिन वृद्धि दर्ज की गई, जबकि पेट्रोल की कीमत लगातार 19वें दिन स्थिर रही। देश की राजधानी दिल्ली में डीजल अब पेट्रोल से 1.09 रुपये प्रति लीटर महंगा हो गया है। तेल विपणन कंपनियों ने डीजल के दाम में शनिवार को दिल्ली में 17 पैसे, कोलकाता में 18 पैसे, मुंबई में 15 पैसे जबकि चेन्नई में 13 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी की। हालांकि पेट्रोल की कीमत में इस महीने अब तक कोई बदलाव नहीं हुआ है।

इंडियन ऑयल की वेबसाइट के अनुसार, दिल्ली, कोलकाता, मुंबई और चेन्नई में पेट्रोल का दाम लगातार 19वें दिन पूर्ववत क्रमश: 80.43 रुपये, 82.10 रुपये, 87.19 रुपये और 83.63 रुपये प्रति लीटर बना रहा। लेकिन चारों महानगरों में डीजल की कीमत बढ़कर क्रमश: 81.52 रुपये, 76.67 रुपये, 79.71 रुपये और 78.50 रुपये प्रति लीटर हो गई।

ओआईएस टूल से लैस होसकता है सैमसंग गैलेक्सी ए सीरीज

मसंग अगले साल नए गैलेक्सी ए फोन में ऑप्टिकल इमेज स्टेबिलाइजेशन (ओआईएस) फीचर लाने की योजना बना रहा है। गिजमो चाइना की रिपोर्ट के अनुसार, इस मिड-रेंज स्मार्टफोन में ओआईएस जोड़ने के फैसले से सैमसंग को अपने प्रतिद्वंद्वियों पर बढ़त मिलेगी। अभी ओआईएस सामान्य रूप से गैलेक्सी एस और नोट सीरीज जैसे हाई-एंड प्रीमियम स्मार्टफोन में आता है।

रिपोर्ट के अनुसार, ओआईएस के साथ आने वाले स्मार्टफोन में एक सीरीज के पहले तीन प्रोडक्ट गैलेक्सी ए 71, गैलेक्सी ए 81 (गैलेक्सी नोट 10 लाइट), और गैलेक्सी ए 91 (गैलेक्सी एस 10 लाइट) होंगे। इन तीनों के अगले साल लॉन्च होने की उम्मीद है।

नेपाल ने उद्योगों को पुनर्जीवित करने मौद्रिक नीति घोषित की

नेपाल के केंद्रीय बैंक ने कोविड-19 महामारी से प्रभावित उद्योगों को राहत मुहैया करा कर उन्हें पुनर्जीवित करने के लिए कई सारे उपायों की घोषणा की है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, नेपाल राष्ट्र बैंक के गवर्नर महा प्रसाद अधिकारी ने 16 जुलाई से शुरू हुए वित्त वर्ष 2020-21 के लिए मौद्रिक नीति पेश करते हुए शुक्रवार को कहा कि ऋण किश्तों के पुनर्भुगतान की अंतिम समय सीमा अधिकतम एक साल तक बढ़ाई जाएगी, जो खास सेक्टर पर पड़े प्रभाव के परिमाण पर निर्भर होगी। बुरी तरह प्रभावित उद्योग मध्य जुलाई के किश्तों का भुगतान मध्य जुलाई 2021 तक कर सकते हैं।

जिन उद्योगों पर महामारी का मध्यम दर्जे का असर हुआ है, वे किश्तों का भुगतान अप्रैल मध्य 2021 तक कर सकते हैं। और जिन उद्योगों पर कोविड-19 का हल्का असर हुआ है, वे अगले साल मध्य जनवरी तक किश्त का भुगतान कर सकते हैं।

चीनी कंपनी के साथ अनुबंध समाप्त, डीएफसीसीआईएल भारतीय फर्म को देगी मौका

चीनी कंपनी के साथ अनुबंध समाप्त होने के बाद आत्मनिर्भर भारत को सपोर्ट करते हुए 'डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर कॉर्पोरेशन इंडिया लिमिटेड' पूर्वी समर्पित माल ढुलाई गलियारा (ईस्टर्न डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर) के 417 किलोमीटर लंबे मार्ग पर सिग्नलिंग का काम भारतीय कंपनियों को देगी। अधिकारियों ने शनिवार को यह जानकारी दी।

डीएफसीसीआईएल ने इस साल जुलाई के अंत तक या अगस्त में परियोजना के शेष भाग के लिए नए सिरे से निविदा जारी करने की योजना बनाई है। डीएफसीसीआईएल का यह कदम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की महत्वाकांक्षी परियोजना 'मेक इन इंडिया' को बढ़ावा देता है। डीएफसीसीआईएल द्वारा 'बीजिंग नेशनल रेलवे रिसर्च एंड डिजाइन इंस्टीट्यूट ऑफ सिग्नल एंड कम्युनिकेशन ग्रुप कंपनी लिमिटेड' (बीएनआरआरडीआईएससी) के साथ 471 करोड़ रुपये के टेंडर को समाप्त करने के एक दिन बाद यह टिप्पणी सामने आई है।

लगातार पांचवें सप्ताह गुलजार रहा शेयर बाजार, तिमाही नतीजों से मिला सपोर्ट

कोरोना के बढ़ते कहर के बीच घरेलू शेयर बाजार लगातार पांचवें सप्ताह गुलजार रहा और मजबूती के साथ बंद हुआ। प्रमुख संवेदी सूचकांक सेंसेक्स और निफ्टी में पिछले सप्ताह के मुकाबले एक फीसदी से ज्यादा की बढ़त रही। प्रमुख देसी कंपनियों के चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही के अच्छे वित्तीय नतीजों और विदेशी बाजारों से मिले सकारात्मक संकेतों से भारतीय शेयर बाजार को सपोर्ट मिला जिससे सेंसेक्स 37000 के ऊपर बंद हुआ और निफ्टी भी 10,900 के ऊपर ठहरा।

कारोबारी सप्ताह के आखिरी सत्र में शुक्रवार को बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) के 30 शेयरों पर आधारित प्रमुख संवेदी सूचकांक सेंसेक्स पिछले सप्ताह के मुकाबले 425.81 अंकों यानी 1.16 फीसदी की बढ़त के साथ 37,020 पर बंद हुआ। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) के 50 शेयरों पर आधारित प्रमुख संवेदी सूचकांक निफ्टी भी पिछले सप्ताह के मुकाबले 133.65 अंकों यानी 1.24 फीसदी की बढ़त बनाकर 10,901.70 पर बंद हुआ।

बीएसई मिडकैप सूचकांक पिछले सप्ताह के मुकाबले 133.92 अंकों यानी एक फीसदी की बढ़त बनाकर 13,530.75 पर बंद हुआ जबकि स्मॉलकैप 21.25 अंक फिसलकर 12,782.53 पर ठहरा।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

लोकप्रिय
next