अर्थ जगत की 5 बड़ी खबरें: वित्त वर्ष 2021 में 5.3 प्रतिशत तक सिकुड़ेगी जीडीपी और कारोबार के तीसरे दिन शेयर बाजार धड़ाम

क्रेडिट रेटिंग एजेंसी इंडिया रेटिंग्स एंड रिसर्च का अनुमान है कि वित्त वर्ष 2020-21 में साल दर साल आधार पर देश का सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) 5.3 प्रतिशत तक सिकुड़ सकता है। बुधवार को कारोबार के तीसरे दिन बीएसई और निफ्टी गिरावट के साथ बंद हुए।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

वित्त वर्ष 2021 में 5.3 प्रतिशत तक सिकुड़ेगी जीडीपी : इंडिया रेटिंग्स

क्रेडिट रेटिंग एजेंसी इंडिया रेटिंग्स एंड रिसर्च का अनुमान है कि वित्त वर्ष 2020-21 में साल दर साल आधार पर देश का सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) 5.3 प्रतिशत तक सिकुड़ सकता है।

रेटिंग एजेंसी ने बुधवार को कहा कि देश के इतिहास में यह जीडीपी की सबसे निचली वृद्धि दर होगी और अर्थव्यवस्था में संकुचन का यह छठा अवसर होगा। इससे पहले वित्त वर्ष 1957-58, 1965-66, 1966-67, 1972-73 और 1979-80 में भारतीय अर्थव्यवस्था में गिरावट आई थी।

इससे पहले वित्त वर्ष 1979-80 में आर्थिक वृद्धि दर सबसे निचले स्तर पर थी। उस समय देश की आर्थिक वृद्धि दर शून्य से 5.2 प्रतिशत नीचे थी।

रेटिंग एजेंसी ने अपनी रिपोर्ट में कहा गया है कि कोरोनावायरस महामारी की वजह से उत्पादन की रफ्तार और इसके स्तर पर काफी नकारात्मक प्रभाव पड़ा है। इसकी वजह से आपूर्ति और व्यापार श्रंखला टूट गई। विमानन, होटल और आतिथ्य क्षेत्र में गतिविधियां पूरी तरह ठप हो गईं। ऐसे में पूरे वित्त वर्ष 2020-21 में आर्थिक गतिविधियों के सामान्य होने की उम्मीद नहीं है।

सप्ताह में कारोबार के तीसरे दिन बीएसई 561 अंक और निफ्टी 165 पॉइंट नीचे बंद हुआ

बुधवार को कारोबार के तीसरे दिन बीएसई और निफ्टी गिरावट के साथ बंद हुए। आज बीएसई 249.31 अंक ऊपर और निफ्टी 58.25 पॉइंट की बढ़त के साथ खुला। दिनभर की ट्रेडिंग के दौरान उतार-चढ़ाव के बीच बीएसई 635.5 अंक तक और निफ्टी 189.05 पॉइंट तक नीचे चला गया।

कारोबार के अंत में बीएसई 561.45 अंक या 1.58% नीचे 34,868.98 पर और निफ्टी 165.70 पॉइंट या 1.58% नीचे 10,305.30 पर बंद हुआ। आज मैंगलोर रिफाइनरी एंड पेट्रोकेमिकल्स लिमिटेड के शेयर में 18.01 फीसदी की बढ़त रही। इससे पहले मंगलवार को बीएसई 519.11 अंक ऊपर 35,430.43 पर और निफ्टी 159.80 पॉइंट ऊपर 10,471.00 पर बंद हुआ था।

आईटेल ने ग्राहकों के बेहतर अनुभव के लिए लॉन्च किए स्मार्ट गैजेट

स्मार्टफोन कंपनी आईटेल की तरफ से बुधवार को स्मार्ट गैजेट लॉन्च किए जाने की घोषणा की गई है। कंपनी ने कहा, "अपने ग्राहकों को स्मार्टफोन के बेहतर अनुभव प्रदान कराने के लिए उत्पादों की एक श्रेणी को लॉन्च किया जा रहा है, जिसके तहत उपभोक्ताओं के समक्ष एक कम्प्लीट मोबाइल सॉल्यूशन की पेशकश की जा रही है, जिसमें तकनीक और फीचर्स की एक विस्तृत श्रृंखला मौजूद है।"

पोर्टफोलियो में चार श्रेणियों के तहत 14 नए उत्पाद लाए जा रहे हैं, जिनमें पावर बैंक, फोन चार्जर, कार चार्जर, डेटा केबल, फोन बैटरी, वायर्ड ईयरफोन, ब्लूटूथ ईयरफोन, वायरलेस ईयरफोन, वायर्ड स्पीकर, ब्लूटूथ स्पीकर और फिट बैंड जैसी चीजें शामिल हैं।

आईटेल के इन स्मार्ट गैजेट्स का मकसद उपभोक्ताओं को ट्रेंडी और गुणवत्ता युक्त तकनीकी किफायती दर में उपलब्ध कराना है।

पेट्रोल की महंगाई पर लगा ब्रेक, डीजल के दाम में बढ़ोतरी 18वें दिन जारी

पेट्रोल की महंगाई पर बुधवार को आखिरकार ब्रेक लग गया, लेकिन डीजल के दाम में वृद्धि का सिलसिला 18वें दिन जारी रहा। देश की राजधानी दिल्ली में डीजल पहली बार पेट्रोल से महंगा बिकने लगा है। दिल्ली में पेट्रोल का भाव बुधवार को 79.76 रुपये प्रति लीटर पर स्थिर रहा, लेकिन डीजल का भाव बढ़कर 79.88 रुपये प्रति लीटर हो गया है।

राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली में पेट्रोल के मुकाबले डीजल 12 पैसे प्रति लीटर महंगा हो गया है।तेल विपणन कंपनियों बुधवार को दिल्ली, कोलकाता, मुंबई और चेन्नई में पेट्रोल के दाम में कोई बदलाव नहीं है, जबकि इससे पहले 17 दिनों तक पेट्रोल के दाम में रोजाना बढ़ोतरी की गई। हालांकि डीजल के दाम में लगातार 18वें दिन वृद्धि का सिलसिला जारी रहा। डीजल की कीमत चारों महानगरों में क्रमश: 48 पैसे, 43 पैसे, 46 पैसे और 40 पैसे प्रति लीटर बढ़ गई है।

कोरोना से फिर चमका सोना, भारत में नई ऊंचाई पर पीली धातु

कोरोना के कहर से एक बार फिर सोने की चमक बढ़ गई है। घरेलू वायदा बाजार में बुधवार को सोने का भाव फिर नई उंचाई पर पहुंच गई, जबकि अंतर्राष्ट्रीय बाजार में सोना आठ साल के उंचे स्तर पर है और पीली धातु के सामने आगे 1800 डॉलर प्रति औंस के मनोवैज्ञानिक स्तर को तोड़ने की चुनौती है।

कोरोनावायरस का प्रकोप दोबारा गहराने से निवेश के सुरक्षित साधन के रूप में बुलियन के प्रति निवेशकों के बढ़ते रुझान से वैश्विक बाजार में सोने में जोरदार तेजी आई है जिससे भारतीय वायदा बाजार में भी सोने की चमक बढ़ गई है।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

लोकप्रिय