अर्थ जगत की 5 बड़ी खबरें: तुर्की के इनकार के बाद और बढ़ेगी प्याज की कीमत और GST से जुड़ी ये गलती पड़ेगी भारी

विदेशी प्याज की आवक बढ़ने से दाम कम होने की उम्मीद बंधी थी, लेकिन वह भी अब धूमिल होती दिख रही है, क्योंकि तुर्की ने प्याज के निर्यात पर प्रतिबंध लगा दिया है। आने वाले दिनों में गुड्स एंड सर्विसेज टैक्‍स यानी जीएसटी से जुड़ी गलती की वजह से आपका बैंक अकाउंट फ्रीज हो सकता है।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

और बढ़ेगी प्याज की कीमत, महाराष्ट्र में बारिश, तुर्की से नहीं आएगी प्याज

प्याज पिछले चार महीने से आम उपभोक्ताओं का रुला रहा है।100 रुपये किलो के आसपास कीमत वाली प्याज खरीदना सबके बस की बात नहीं है। इतने दिन के बाद भी यह किसी को नहीं मालूम है कि प्याज का दाम कब घटेगा। विदेशी प्याज की आवक बढ़ने से दाम कम होने की उम्मीद बंधी थी, लेकिन वह भी अब धूमिल होती दिख रही है, क्योंकि तुर्की ने प्याज के निर्यात पर प्रतिबंध लगा दिया है।

तुर्की दुनिया में प्याज का प्रमुख उत्पादक देश है। उधर, देश के सबसे बड़े प्याज उत्पादक प्रदेश महाराष्ट्र में फिर बारिश होने से प्याज की आवक प्रभावित हो सकती है, जिससे कीमतें फिर मजबूत हो सकती हैं।

लगातार दूसरे दिन बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम

अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के भाव में तेजी के बीच पेट्रोल और डीजल के दाम एक बार फिर बढ़ गए हैं। तेल विपणन कंपनियों ने शुक्रवार को लगातार दूसरे दिन पेट्रोल और डीजल के दाम में बढ़ोतरी की। दिल्ली, कोलकाता, मुंबई और चेन्नई में पेट्रोल 6 पैसे प्रति लीटर महंगा हो गया। इसी तरह डीजल की कीमत दिल्ली में 15 पैसे जबकि कोलकाता, मुंबई और चेन्नई में 16 पैसे प्रति लीटर बढ़ गई है।

इंडियन ऑयल की वेबसाइट के मुताबिक दिल्ली, कोलकता, मुंबई और चेन्नई में पेट्रोल का दाम बढ़कर क्रमश: 74.74 रुपये, 77.40 रुपये, 80.40 रुपये और 77.70 रुपये प्रति लीटर हो गया है। इसी तरह चारों महानगरों में डीजल की कीमत बढ़कर क्रमश: 67.24 रुपये, 69.66 रुपये, 70.55 रुपये और 71.09 रुपये प्रति लीटर हो गई है।


GST से जुड़ी ये गलती पड़ेगी भारी, बैंक अकाउंट भी हो सकता है फ्रीज

आने वाले दिनों में गुड्स एंड सर्विसेज टैक्‍स यानी जीएसटी से जुड़ी गलती की वजह से आपका बैंक अकाउंट फ्रीज हो सकता है। इसके साथ ही आपकी प्रॉपर्टी भी जब्‍त हो सकती है।

दरअसल, केंद्रीय अप्रत्यक्ष कर एवं सीमा शुल्क बोर्ड (सीबीआईसी) ने जीएसटी अधिकारियों को इस संबंध में अधिकार दिया है। इसके मुताबिक अगर कोई कंपनी या यूनिट बार-बार नोटिस भेजने के बाद भी जीएसटी रिटर्न फाइल करने में विफल रहती है तो जीएसटी अधिकारी उसकी संपत्ति जब्‍त कर सकते हैं।

सेंसेक्स 411 अंक ऊपर

देश के शेयर बाजारों में शुक्रवार को तेजी दर्ज की गई। प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 411.38 अंकों की तेजी के साथ 41,575.14 पर और निफ्टी 119.25 अंकों की तेजी के साथ 12,245.80 पर बंद हुए। बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सुबह 133.32 अंकों की तेजी के साथ 41,297.08 पर खुला और 411.38 अंकों या 1.00 फीसदी की तेजी के साथ 41,575.14 पर बंद हुआ। दिनभर के कारोबार में सेंसेक्स ने 41,611.27 के ऊपरी और 41,264.92 के निचले स्तर को छुआ।


आईफोन के हैक होने का खतरा 167 गुना ज्यादा : शोध

जैसा कि तीसरी पार्टी के जरिए स्मार्टफोन को हैक किया जाने का अंदेशा ज्यादा रहता है, ऐसे में ब्रिटेन के एक शोध में यह खुलासा हुआ है कि अन्य मोबाइल ब्रांडों की तुलना में आईफोन के हैक होने का खतरा 167 गुना अधिक है। ब्रिटेन स्थित फोन से संबंधिक मामलों को देखने वाली कंपनी केस 24 डॉट कॉम के टेक एक्सपर्ट (प्रौद्योगिकी विशेषज्ञ) ने ये आंकड़े मासिक गूगस सर्च के विश्लेषण से एकत्र किए हैं, जिसमें देखा गया कि कितने ब्रिटिश नागरिक विभिन्न ऐप या स्मार्टफोन ब्रांड को हैक करने के बारे में जानकारी पाना चाहते हैं। ब्रिटेन में आईफोन के लिए किए गए सर्च की संख्या 10,040 थी, जो कि सैमसंग से अधिक है, वहीं सैमसंग को लेकर 700 सर्च किए गए हैं। गुड टू नो डॉट को डॉट यूके की रिपोर्ट के अनुसार, "एलजी, नोकिया और सोनी जैसे फोन में हैकर्स की दिलचस्पी कम थी, क्रमश: सभी ब्रांडों को लेकर मासिक तौर पर 100 से भी कम सर्च किए गए हैं।" मात्र 50 सर्च के साथ सोनी सबसे निचले पायदान पर है।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;