अर्थ जगत की 5 बड़ी खबरें: सेंसेक्स, निफ्टी रिकॉर्ड स्तर पर बंद और नया स्मार्टफोन लॉन्च करने वाला है वनप्लस

वैश्विक बाजारों में तेजी के रुख को देखते हुए प्रमुख भारतीय इक्विटी सूचकांक गुरुवार को रिकॉर्ड ऊंचाई पर बंद हुए। चीनी स्मार्टफोन निर्माण कंपनी वनप्लस अगले मिड-रेंज स्मार्टफोन नोर्ड सीई 5 जी को लॉन्च करने के लिए तैयार है।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

माइक्रोसॉफ्ट 24 जून को विंडोज की अगली पीढ़ी का प्रदर्शन करेगा

फोटो: IANS
फोटो: IANS

माइक्रोसॉफ्ट ने खुलासा किया है कि वह 24 जून को विंडोज ऑपरेटिंग सिस्टम की अगली पीढ़ी का प्रदर्शन करेगा। एक मीडिया आमंत्रण के अनुसार, माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ सत्या नडेला और मुख्य उत्पाद अधिकारी पैनोस पानाय नया विंडोज अनुभव पेश करेंगे। हाल ही में संपन्न 'बिल्ड' डेवलपर सम्मेलन के दौरान, नडेला ने 'विंडोज की अगली पीढ़ी' पर प्रकाश डाला था।

माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ ने 25 मई को अपने मुख्य भाषण के दौरान कहा था, "जल्द ही हम डेवलपर्स और क्रिएटर्स के लिए अधिक से अधिक आर्थिक अवसरों को अनलॉक करने के लिए पिछले दशक के विंडोज के सबसे महत्वपूर्ण अपडेटों में से एक को साझा करेंगे। मैं पिछले कई महीनों से इसे स्वयं होस्ट कर रहा हूं, और मैं अविश्वसनीय रूप से अगले पीढ़ी के विंडोज को लेकर उत्साहित हूं।"

सेंसेक्स, निफ्टी रिकॉर्ड स्तर पर बंद

फोटो: IANS
फोटो: IANS

वैश्विक बाजारों में तेजी के रुख को देखते हुए प्रमुख भारतीय इक्विटी सूचकांक गुरुवार को रिकॉर्ड ऊंचाई पर बंद हुए। कोविड मामलों में गिरावट और भारतीय रुपये की मजबूती ने बाजार की धारणा को समर्थन दिया।

गुरूवार को सेंसेक्स अपने पिछले बंद 51,849.48 से 382.95 अंक या 0.74 प्रतिशत की बढ़त के साथ 52,232.43 पर बंद हुआ। यह 52,121.58 पर खुला था और 52,273.23 के इंट्रा-डे हाई और 51,942.20 के निचले स्तर को छू गया था।

निफ्टी 50, जिसने इंट्रा-डे के उच्चतम स्तर 15,705.10 अंक को छुआ, वह भी अपने रिकॉर्ड समापन स्तर पर बंद हुआ। यह अपने पिछले बंद से 114.15 अंक या 0.73 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 15,690.35 पर बंद हुआ।

मस्क ने बताया, आपूर्ति श्रृंखला में दबाव के चलते टेस्ला की कीमतों में हो रही वृद्धि

फोटो: IANS
फोटो: IANS

टेस्ला के सीईओ एलन मस्क ने पिछले कई महीनों से अपने मॉडल 3 और मॉडल वाई वाहनों की कीमतों में हो रही लगातार वृद्धि के लिए सप्लाई चेन पर पड़ रहे दबाव को जिम्मेदार ठहराया है। सीईओ ने एक ट्वीट के जवाब में कहा, "पूरी इंडस्ट्री में आपूर्ति श्रृखंलाओं की कीमतों में इजाफा हो रहा है और इसीलिए दाम में भी वृद्धि हो रही है।"उन्होंने आगे लिखा, " खासकर कच्चे मालों की कीमतें बढ़ रही हैं। "

द वर्ज की रिपोर्ट के मुताबिक, '' सीईओ ने कहा कि माइक्रोकंट्रोलर चिप्स अभी एक विशेष चुनौती है। उन्होंने आगे यह भी कहा कि उन्होंने ऐसा होते कभी नहीं देखा है। उन्हें लगता है कि यह मुद्दा दीर्घकालिक होगा।''

वह आगे कहते हैं, "चीजें खत्म हो जाने के डर से हर कंपनी जरूरत से अधिक ऑर्डर दे रही है।"

वनप्लस नोर्ड सीई 5 जी को स्नैप ड्रैगन 750 जी चिपसेट के साथ करेगा पेश

फोटो: IANS
फोटो: IANS

चीनी स्मार्टफोन निर्माण कंपनी वनप्लस अगले मिड-रेंज स्मार्टफोन नोर्ड सीई 5 जी को लॉन्च करने के लिए तैयार है, जिसमें स्नैपड्रैगन 750 जी चिपसेट के होने की संभावना है। इस स्मार्टफोन को भारत में 10 जून को लॉन्च किया जाना है।

जीएसएम एरिना के मुताबिक, ऐसा लगता है कि नोर्ड सीई का कोर एडिशन काफी ज्यादा ओरिजिनल नोर्ड पर आधारित होगा। कुछ अंतर जरूर होंगे और शायद इसीलिए इसे कम कीमत में पेश किया जा रहा है। रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत में 11 जून से प्री-ऑर्डर शुरू हो जाएंगे।

कहा जा रहा है कि नोर्ड सीई5 जी में इन-डिस्प्ले फिंगरप्रिंट सेंसर के साथ 6.43-इंच की डिस्प्ले दी गई है, जिसका रिफ्रेश रेट 90 हट्र्ज है। इसे एमोलेड टचस्क्रीन के साथ पेश किया जा सकता है। सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि इसमें स्नैपड्रैगन 750जी चिपसेट और 30वार्ट फास्ट चाजिर्ंग के साथ 4,500 एमएएच की बैटरी है।

रियर पैनल पर ट्रिपल कैमरा सिस्टम है, जिसमें ओमनीविजन से 64एमपी का मुख्य सेंसर, 8एमपी का अल्ट्रा-वाइड और 2एमपी का डेप्थ सेंसर है। फ्रंट में सेल्फी के लिए 16एमपी का स्नैपर होगा।

साल 2025 तक भारत में 90 करोड़ एक्टिव इंटरनेट यूजर्स होंगे : रिपोर्ट

फोटो: IANS
फोटो: IANS

स्मार्टफोन यूजर्स की संख्या में तेजी से वृद्धि होने के साथ ग्रामीण भारत में डिजिटल अपनाने की प्रकिया में तेजी से बढ़ोतरी हो रही है। गुरुवार को सामने आई एक नई रिपोर्ट के मुताबिक इस ट्रेड को देखते हुए चार साल बाद यानी 2025 तक कुल सक्रिय इंटरनेट आबादी के 90 करोड़ तक पहुंचने की संभावना है। पिछले साल इनकी संख्या 62.2 करोड़ थी। शहरी भारत में इंटरनेट उपयोगकतार्ओं की संख्या में 4 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। साल 2020 में ये आंकड़ा 32.3 करोड़ उपयोगकतार्ओं (शहरी आबादी का 67 प्रतिशत) तक पहुंच गया। ग्रामीण भारत में डिजिटल अपनाने की प्रक्रिया तेजी से जारी है। ये आंकड़े द इंटरनेट एंड मोबाइल एसोसिएशन ऑफ इंडिया (आईएएमएआई)की ओर से जारी रिपोर्ट में सामने आए हैं।

रिपोट के मुताबिक मोबाइल अभी भी शहरी और ग्रामीण दोनों क्षेत्रों में इंटरनेट तक पहुँचने के लिए पसंदीदा उपकरण बना हुआ है।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia