अर्थ जगत की 5 बड़ी खबरें: टिकटॉक के सीईओ ने दिया इस्तीफा और 200 अरब डॉलर से अधिक संपत्ति वाले पहले व्यक्ति बने बेजोस

एमेजॉन के संस्थापक और सीईओ जेफ बेजोस पहले एक शख्स बन गए हैं, जिनकी कुल संपत्ति का आंकड़ा 200 अरब अमेरिकी डॉलर के पार पहुंच गया है। टिकटॉक के सीईओ केविन मेयर ने तमाम राजनीतिक उतार-चढ़ावों के बीच अपने पद से इस्तीफा दे दिया है।

फोटो : IANS
फोटो : IANS
user

रवि प्रकाश

बेजोस 200 अरब डॉलर से अधिक संपत्ति वाले पहले व्यक्ति बने


एमेजॉन के संस्थापक और सीईओ जेफ बेजोस पहले एक शख्स बन गए हैं, जिनकी कुल संपत्ति का आंकड़ा 200 अरब अमेरिकी डॉलर के पार पहुंच गया है। फोर्ब्स और ब्लूमबर्ग बिलियनेयर्स इंडेक्स में इसका खुलासा हुआ है। फोर्ब्स की रिपोर्ट के मुताबिक, एमेजॉन के स्टॉक में दो फीसदी तक की बढ़ोत्तरी होने के साथ बुधवार दोपहर तक दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति की कुल संपत्ति में 4.9 अरब डॉलर तक का इजाफा होता है।

एमेजॉन के अलावा बेजोस एयरोस्पेस कंपनी ब्लू ओरिजिन, वाशिंगटन पोस्ट के भी मालिक हैं और साथ ही वह कई अन्य निजी कंपनियों में भी निवेश किए हुए हैं। एमेजॉन में बेजोस के इसमें 11 फीसदी शेयर हैं जिसका योगदान उनकी कुल संपत्ति में 90 प्रतिशत से अधिक है।

टिकटॉक के सीईओ केविन मेयर ने पद से दिया इस्तीफा


टिकटॉक के सीईओ केविन मेयर ने तमाम राजनीतिक उतार-चढ़ावों के बीच अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। इसमें अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की सरकार से विवाद, अमेरिका में कंपनी को बेचने पर चल रही बात, भारत में ऐप पर प्रतिबंध लगाए जाने जैसी घटनाएं शामिल हैं। केविन ने पद पर बहाल होने के छह महीने से भी कम समय के अंदर इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने एक ईमेल के जरिए इसकी घोषणा की जिस पर गुरुवार को सबसे पहले नजर फाइनेंशियल टाइम्स की पड़ी।

रिपोर्ट में इस बात की जानकारी दी गई कि कंपनी के जनरल मैनेजर वनीस पपाज को तत्काल प्रभाव से उनकी जगह टिकटॉक का अंतरिम सीईओ नियुक्त किया गया है।


रियलमी ने माधव सेठ को यूरोप ऑपरेशंस की भी जिम्मेदारी सौंपी


स्मार्टफोन ब्रांड रियलमी ने गुरुवार को कहा कि उसने माधव सेठ को भारत के अलावा यूरोप रीजन में ऑपरेशंस की जिम्मेदारी सौंप दी है। सेठ अभी रियलमी इंडिया के सीईओ और उपाध्यक्ष हैं। वह अब भारत के साथ-साथ यूरोप मार्केट में प्रॉडक्ट, मार्केटिंग और सेल्स का काम देखेंगे। सेठ अभी स्पेन, फ्रांस, जर्मनी, पोलैंड तथा चेक गणराज्य में कम्पनी का काम देखेंगे।

सेठ ने रियलमी के सह-संस्थापक स्काई ली के साथ मई 2018 में कम्पनी में शुरुआत की थी और इसके बाद से कम्पनी ने पांच महाद्वीपों में 59 रीजन में पैर पसार चुकी है। ब्रांड ने साल के पहले हाफ में 1.5 करोड़ ग्राहक अपने साथ जोड़े। वैश्विक स्तर पर कम्पनी के कुल 4.5 करोड़ ग्राहक हैं।

स्पाइसजेट ने फ्रैंकफर्ट के लिए पहली लम्बी दूरी की कार्गो फ्लाइट संचालित की


भारत की अग्रणी विमानन कम्पनी-स्पाइसजेट ने गुरुवार को नई दिल्ली से फ्रैंकफर्ट के बीच अपनी पहली लम्बी दूरी की कार्गो फ्लाइट संचालित की। इस रास्ते पर एअरबस ए340 का इस्तेमाल किया गया। स्पाइसजेट के मुताबिक ए340 नई दिल्ली से फ्रैंकफर्ट तक 45 टन कार्गो सप्लाई लेकर गया।

25 मार्च से अब तक स्पाइसजेट ने 6061 कार्गो फ्लाइट्स संचालित की हैं और इनके माध्यम से कुल 33,297 टन कार्गो का परिवहन किया गया। यह भारत की सभी घरेलू विमानन कम्पनियों द्वारा संचालित कार्गो वहन से दोगुना से भी अधिक है।

स्पाइसजेट ने इस अवधि में भारत से दुनिया के सभी कोनों से तक दवाइयों, मेडिकल इक्वीपमेंट, फल एवं सब्जियों का परिवहन किया।


भारत में एच1 2020 में 43.8 करोड़ साइबर थ्रेट्स ब्लॉक किए : ट्रेंड माइक्रो


ग्लोबल साइबरसिक्यूरिटी फर्म-ट्रेंड माइक्रो ने गुरुवार को कहा कि उसने इस साल की पहली छमाही में 43.8 करोड़ ईमेल आधारित साइबर थ्रेट्स को ब्लॉक किया। यह एशिया महाद्वीप के लिहाज से तीसरी सबसे बड़ी संख्या है। ट्रेंड माइक्रो ने कहा है कि उसने वैश्विक स्तर पर साल की पहली छमाही में कुल 27.8 अरब साइबर थ्रेट्स को ब्लॉक किया। इनमें से 93 फीसदी ईमेल से जुड़े हुए थे।

साथ ही कम्पनी ने यह भी कहा कि उसने साल की पहली छमाही में कोविड-19 से जुड़े 88 लाख थ्रेट्स को ब्लॉक किया। इनमें से 92 फीसदी थ्रेट्स ईमेल के माध्यम से भेजे गए स्पैम थे।

ट्रेंड माइक्रो ने यह भी कहा कि साल की पहली छमाही में उसने कोविड-19 से जुड़े कई संदिग्ध मोबाइल ऐप्स को भी ट्रैक किया। वैश्विक स्तर पर और यहां तक की एशिया में भी भारत में सबसे अधिक मोबाइल ऐप्स को ब्लॉक किया गया।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia