अर्थ जगत की 5 बड़ी खबरें: रक्षा उत्पादन में 74 फीसदी तक FDI का ऐलान, जानें लॉकडाउन 4.0 में क्या खुलेगा, क्या रहेगा बंद! 

वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने शनिवार को रक्षा उत्पादन के क्षेत्र में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश यानी एफडीआई की सीमा मौजूदा 49 फीसदी से बढ़ाकर 74 फीसदी करने का ऐलान किया। राष्ट्रव्यापी बंद 4.0 कुछ विशेष शर्तों के साथ सोमवार से शुरू होने वाला है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

कोयला खनन बढ़ाने के लिए 50 नए कोल ब्लॉक की नीलामी होगी : वित्तमंत्री

वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने शनिवार को कोयला को क्षेत्र निजी क्षेत्र के लिए खोलने का एलान करते हुए कहा कि कोयले की कमर्शियल माइनिंग की जाएगी और कोल इंडिया लिमिटेड की खदानें भी निजी क्षेत्र को दी जाएंगी। इससे कोयला क्षेत्र में सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों का एकाधिकार समाप्त हो जाएगा। उन्होंने कहा कि कोयले का खनन बढ़ाने के लिए 50 नये कोल ब्लॉक की नीलामी की जाएगी।

उन्होंने कहा कि कोयला उत्पादन के मामले में आत्मनिर्भरता हासिल करने के उपाय किए गए हैं। उन्होंने कहा कि कोयला का आयात घटाने की कोशिश की जाएगी। कोयला खनन को बढ़ा देने के लिए बुनियादी संचरना के विकास के लिए सरकार 50000 रुपये खर्च करेगी।

रक्षा उत्पादन में 74 फीसदी तक होगा प्रत्यक्ष विदेशी निवेश : वित्तमंत्री

वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने शनिवार को रक्षा उत्पादन के क्षेत्र में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश यानी एफडीआई की सीमा मौजूदा 49 फीसदी से बढ़ाकर 74 फीसदी करने का एलान किया। उन्होंने कहा कि रक्षा उत्पादन के क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनाने के लिए 'मेक इन इंडिया' को बढ़ावा देने की आवश्यकता है।

वित्तमंत्री ने ऑर्डिनेंस फैक्टरी ऑगेर्नाइजेशन को निगमीकृत करने की घोषणा की।

लॉकडाउन 4.0 में शॉपिंग मॉल, ऑटो-रिक्शा, घरेलू उड़ानें शुरू होने की संभावना

राष्ट्रव्यापी बंद 4.0 कुछ विशेष शर्तों के साथ सोमवार से शुरू होने वाला है। यह उम्मीद की जा रही है कि इस दौरान ऑटो-रिक्शा की आवाजाही शुरू हो जाएगी, शॉपिंग मॉल खुल जाएंगे और घरेलू उड़ानें भी शुरू हो सकती हैं।

कोविड-19 संकट से पार पाने के लिए देशभर में करीब दो महीनों से आर्थिक गतिविधियां ठप पड़ी हुई हैं, जिससे अर्थव्यवस्था चरमराई हुई है। आगामी सप्ताह से अगर कुछ क्षेत्रों को फिर से कार्य संचालित करने की मंजूरी मिल जाती है तो इससे अर्थव्यवस्था को कुछ सहारा जरूर मिल जाएगा।

मेट्रो, बस सेवा, नाई की दुकानें, रेस्तरां, स्थानीय बाजार और घरेलू उपकरण मरम्मत की दुकानों को चौथे चरण के बंद के दौरान नए दिशानिर्देशों के तहत ग्रीन व ऑरेंज क्षेत्रों में काफी आराम से अनुमति दी जा सकती है, जो एक बार फिर 14 दिनों के लिए विस्तारित हो सकता है।

चिदंबरम ने वित्त मंत्री से आर्थिक पैकेज को स्पष्ट करने की मांग की

र्व केंद्रीय वित्त मंत्री पी. चिदंबरम ने वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा आर्थिक पैकेज की घोषणा की तीसरी किश्त पर सवाल उठाते हुए बजट को स्पष्ट तरीके से बताने की मांग की है।

चिदंबरम ने कहा, "कृपया वित्त मंत्री स्पष्ट करें कि क्या उन्होंने कल (शुक्रवार) घोषित की गई रकम (500 करोड़ रुपये और 13,343 करोड़ रुपये) व्यय बजट में सम्मिलत की है या यह अतिरिक्त रकम है।"

पूर्व मंत्री ने मधुमक्खी पालन परियोजना पर सवाल उठाए और कहा कि व्यय बजट 2020-21 में पहले ही राष्ट्रीय बागवानी मिशन के तहत बीईई कीपिंग के लिए 2,400 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं।

लावा चीन से कारोबार समेट भारत में करेगी 800 करोड़ रुपये का निवेश

रेलू ब्रांड लावा ने शनिवार को अपने पूरे मोबाइल आरएंडडी, निर्यात बाजार के लिए डिजाइन और विनिर्माण को अगले छह महीनों में चीन से भारत में स्थानांतरित करने की घोषणा की। कंपनी ने यह भी कहा कि भारत में पांच साल के भीतर वह लगभग 800 करोड़ रुपये निवेश करेगी। लावा अपने फोन का 33 प्रतिशत से अधिक निर्यात मैक्सिको, अफ्रीका, दक्षिण पूर्व एशिया और पश्चिम एशिया जैसे बाजारों में करती है।

कंपनी ने अपने मोबाइल फोन डिवेलपमेंट और मैन्युफैक्च रिंग परिचालन को बढ़ाने के लिए इस वर्ष लगभग 80 करोड़ रुपये और अगले पांच साल के दौरान 800 करोड़ रुपये निवेश की योजना बनाई है।

कंपनी ने एक बयान में कहा कि यह कदम भारतीय मोबाइल फोन निर्माताओं द्वारा पिछले महीने सरकार द्वारा घोषित प्रोडक्शन लिंक्ड इंसेंटिव स्कीम (पीएलआई) स्कीम के तहत चीन से अधिक लागत लाभ प्राप्त करने के बाद उठाया गया है।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

लोकप्रिय