20 लाख करोड़ के आर्थिक पैकेज में किसे क्या मिलेगा, शाम 4 बजे चल जाएगा पता, वित्त मंत्री करेंगी प्रेस कांफ्रेंस

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण आज शाम चार बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस करने वाली हैं। प्रेस कॉन्फ्रेंस में वो बताएंगी कि 20 लाख करोड़ रुपये के आर्थिक पैकेज का इस्तेमाल किन-किन क्षेत्रों में किया जाएगा और किसे कितनी राशि मिलेगी।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

कोरोना महामारी से बुरी तरह प्रभावित हुई देश की अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए सरकार हर तरफ हाथ पैर मार रही है। सोमवार को पीएम मोदी ने 20 लाख करोड़ के राहत पैकेज का ऐलान किया था। इस राहत पैकेज के इस्तेमाल के बारे में वित मंत्री निर्मला सीतारमण आज शाम 4 बजे प्रेस कान्फ्रेंस करेगे विस्तार से बताएंगी। यानी इस राहत पैकेज में किस वर्ग के लिए क्या है, किसे कितनी बड़ी राहत मिलेगी, इसका खुलासा आज शाम को हो जाएगा।

गौरतलब है कि मंगलवार को पीएम मोदी ने देश के नाम संबोधन में कोरोना संकट के दौरान किए गए सरकारी उपायों को तो नहीं बताया अलबत्ता यह जरूर कहा था कि वे एक आर्थिक पैकेज की घोषणा कर रहे हैं। उन्होंने कहा था, “कोरोना संकट का सामना करते हुए, नए संकल्प के साथ मैं आज एक विशेष आर्थिक पैकेज की घोषणा कर रहा हूं। ये आर्थिक पैकेज, ‘आत्मनिर्भर भारत अभियान’ की अहम कड़ी के तौर पर काम करेगा आत्मनिर्भर भारत के संकल्प को सिद्ध करने के लिए,इस पैकेज में भूमि, श्रम, नकदी और कानून सभी पर बल दिया गया है।”

इसे भी पढ़ें: वित्त मंत्रालय आज बताएगा - कहां और कैसे खर्च होगा 20 लाख करोड़ का कथित आर्थिक पैकेज

बता दें कि 20 लाख करोड़ रुपए के पैकेज का करीबन 7 लाख करोड़ रुपए पहले ही आरबीआई और सरकार ने जारी कर दिया था। वित्त मंत्री पहले ही मार्च के अंत में प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत 1.70 लाख करोड़ रुपये के आर्थिक राहत पैकेज का एलान कर चुकी हैं। इसके अलावा रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया अब तक करीब 5.24 लाख करोड़ रुपये के कदमों का एलान देश के विभिन्न सेक्टर्स, इंडस्ट्री के लिए कर चुका है। इस रकम को जोड़ दें तो करीब 7 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा के एलान पहले ही हो चुके हैं। अब 13 लाख करोड़ रुपए के पैकेज का ब्रेकअप दिया जाएगा। इसमें से 50,000 करोड़ रुपए टैक्स के लिए घोषित किए जा सकते हैं। जबकि पावर सेक्टर को करीबन एक लाख करोड़ रुपए जारी हो सकता है।

इसे भी पढ़ें: आर्थिक पैकेज के नाम पर बाजीगरी: 20  लाख करोड़ में शामिल कर लिए RBI के उपाय, खर्च तो इसका आधा ही होगा

Published: 13 May 2020, 11:34 AM
लोकप्रिय
next