29 फरवरी के बाद Paytm काम करेगा या नहीं? संस्थापक और CEO विजय शेखर शर्मा ने बताया इस App का क्या होगा

एक ट्वीट में, विजय शेखर शर्मा ने कहा, "प्रत्येक पेटीएमर्स के लिए, आपका पसंदीदा ऐप काम कर रहा है, हमेशा की तरह 29 फरवरी के बाद भी काम करता रहेगा। मैं, पेटीएम टीम के प्रत्येक सदस्य के साथ, आपके अथक समर्थन के लिए आपको सलाम करता हूं।"

सीईओ विजय शेखर शर्मा ने कहा कि 29 फरवरी के बाद भी काम करता रहेगा पेटीएम ऐप।
सीईओ विजय शेखर शर्मा ने कहा कि 29 फरवरी के बाद भी काम करता रहेगा पेटीएम ऐप।
user

नवजीवन डेस्क

पेटीएम उपभोक्ताओं के मन में यह सवाल है कि 29 फरवरी के बाद इस ऐप का क्या होगा। यह काम करेगा या पूरी तरह से बंद हो जाएगा। दरअसल, पेटीएम के सहयोगी बैंक को हाल ही में भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के निर्देश प्राप्त हुए। जिसके तहत पेटीएम को अपने कई सेवाओं को बंद करने होंगे। इसके जवाब में पेटीएम के संस्थापक और सीईओ विजय शेखर शर्मा ने उपयोगकर्ताओं को आश्वासन दिया कि पेटीएम ऐप 29 फरवरी के बाद भी काम करना जारी रखेगा।

एक ट्वीट में, विजय शेखर शर्मा ने कहा, "प्रत्येक पेटीएमर्स के लिए, आपका पसंदीदा ऐप काम कर रहा है, हमेशा की तरह 29 फरवरी के बाद भी काम करता रहेगा। मैं, पेटीएम टीम के प्रत्येक सदस्य के साथ, आपके अथक समर्थन के लिए आपको सलाम करता हूं।"

अपने ट्वीट में, उन्होंने यह भी कहा, "हर चुनौती के लिए, एक समाधान है और हम ईमानदारी से पूर्ण अनुपालन में अपने देश की सेवा करने के लिए प्रतिबद्ध हैं। भारत भुगतान नवाचार और वित्तीय सेवाओं में समावेशन में वैश्विक प्रशंसा जीतता रहेगा, पेटीएमर्स के साथ सबसे बड़ा इसका चैंपियन।"

आरबीआई के निर्देश के बाद, पेटीएम ग्राहकों को चिंता करने की ज़रूरत नहीं है, क्योंकि उसने कहा है कि ऐप चालू है और चल रहा है।


पेटीएम और उसकी सेवाएं 29 फरवरी के बाद भी चालू रहेंगी, क्योंकि पेटीएम द्वारा दी जाने वाली अधिकांश सेवाएं विभिन्न बैंकों (सिर्फ सहयोगी बैंक नहीं) के साथ साझेदारी में हैं।

पेटीएम को सूचित किया गया है कि इससे उनके बचत खातों, वॉलेट, फास्टैग और एनसीएमसी खातों में उपयोगकर्ता जमा पर कोई असर नहीं पड़ेगा, जहां वे मौजूदा शेष राशि का उपयोग करना जारी रख सकते हैं।

पेटीएम के सहयोगी बैंक पर आरबीआई के हालिया निर्देश पेटीएम मनी लिमिटेड (पीएमएल) के संचालन या इक्विटी, म्यूचुअल फंड या एनपीएस में ग्राहकों के निवेश को प्रभावित नहीं करेंगे।

पेटीएम की अन्य वित्तीय सेवाएं जैसे ऋण वितरण और बीमा वितरण किसी भी तरह से उसके सहयोगी बैंक से संबंधित नहीं हैं और हमेशा की तरह काम करती रहेंगी।

पेटीएम की ऑफ़लाइन मर्चेंट भुगतान नेटवर्क पेशकश जैसे कि पेटीएम क्यूआर, पेटीएम साउंडबॉक्स, पेटीएम कार्ड मशीन, हमेशा की तरह जारी रहेगी, जहां यह नए ऑफ़लाइन व्यापारियों को भी शामिल कर सकता है। पेटीएम ऐप पर मोबाइल रिचार्ज, सब्सक्रिप्शन और अन्य आवर्ती भुगतान सुचारू रूप से चलते रहेंगे।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;