अर्थजगत: रद्द होगी Zee-Sony मर्जर की डील और फ्लिपकार्ट में नौकरी कटौती, 7 फीसदी कर्मचारी होंगे कम!

न्यूज एजेंसी ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट के मुताबिक- ज़ी एंटरटेनमेंट और सोनी पिक्चर्स के विलय की डील खतरे में आ गई है और फ्लिपकार्ट सात प्रतिशत कर्मचारियों की कर सकता है छंटनी, डेढ़ हजार के प्रभावित होने की आशंका।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

रद्द होगी Zee-Sony मर्जर की डील : ब्लूमबर्ग

न्यूज एजेंसी ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट के मुताबिक- ज़ी एंटरटेनमेंट और सोनी पिक्चर्स के विलय की डील खतरे में आ गई है। SONY मर्जर डील वापस ले सकती है। रिपोर्ट में कहा गया है कि $1000 अमेरिकी डॉलर की मर्जर डील रद्द हो सकती है। हालांकि, सोनी और जी दोनों की तरफ से डील पर कोई जानकारी नहीं आई है। सोमवार को कंपनी का शेयर 1.75 फीसदी गिरकर 278 रुपये के भाव पर बंद हुआ। एक महीने में एक फीसदी टूटा है. वहीं, एक साल में शेयर 17 फीसदी बढ़ा है। ब्लूमबर्ग की खबर के मुताबिक, मामले से परिचित लोगों ने एजेंसी को बताया कि सोनी ग्रुप कॉर्प ज़ी एंटरटेनमेंट एंटरप्राइजेज लिमिटेड के साथ अपनी भारतीय यूनिट के विलय समझौते को रद्द करने की योजना बना रहा है, क्योंकि दो साल से मामला फंसा हुआ और जी के साथ कई मामलों पर सहमति नहीं बन पाई है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

फ्लिपकार्ट सात प्रतिशत कर्मचारियों की कर सकता है छँटनी, डेढ़ हजार के प्रभावित होने की आशंका

ई-कॉमर्स क्षेत्र की प्रमुख कंपनी फ्लिपकार्ट कथित तौर पर 2024 की शुरुआत में अपने कर्मचारियों की संख्या में पाँच-सात प्रतिशत की कटौती करने की योजना बना रही है, जिससे लगभग 1,500 कर्मचारी प्रभावित हो सकते हैं। वॉलमार्ट के स्वामित्व वाली कंपनी में वर्तमान में लगभग 22 हजार कर्मचारी हैं। सूत्रों के मुताबिक, फ्लिपकार्ट ने प्रदर्शन समीक्षा के जरिए यह कवायद शुरू कर दी है और मार्च-अप्रैल तक नौकरी में कटौती लागू होने की संभावना है। इकोनॉमिक टाइम्स ने सबसे पहले फ्लिपकार्ट के आगामी कदम के बारे में रिपोर्ट दी थी। कंपनी लाभ में बने रहने के लिए अपने संसाधनों को अनुकूलित करने के लिए आंतरिक पुनर्गठन पर भी विचार कर रही है। कंपनी ने इस कदम पर तुरंत कोई टिप्पणी नहीं की। फ्लिपकार्ट पर प्रदर्शन समीक्षाओं के आधार पर वार्षिक नौकरी में कटौती पहले भी होती रही है। बिजनेस इंटेलिजेंस प्लेटफॉर्म टॉफलर के आंकड़ों के मुताबिक, फ्लिपकार्ट का वित वर्ष 2023 में कुल राजस्व 56,013 करोड़ रुपये था। वित्त वर्ष 2023 में राजस्व में वित्त वर्ष 2022 की तुलना में नौ प्रतिशत की वृद्धि देखी गई और यह 51,176 करोड़ रुपये हो गया। कंपनी ने वित्त वर्ष 2022-23 में 4,834 करोड़ रुपये का शुद्ध घाटा दर्ज किया था, जो पिछले वित्तीय वर्ष की तुलना में 42 प्रतिशत की पर्याप्त वृद्धि है। वित्तीय रिपोर्ट के अनुसार, “31 मार्च 2023 को समाप्त होने वाले वित्तीय वर्ष के लिए शुद्ध घाटा 4,839.3 करोड़ रुपये था, जबकि 31 मार्च 2022 को समाप्त पिछले वर्ष में यह 3,362.4 करोड़ रुपये था। इस प्रकार शुद्ध घाटे में 44 प्रतिशत की वृद्धि देखी गई।"

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

हुंडई मोटर इंडिया तमिलनाडु में 6,180 करोड़ रुपये का और करेगी निवेश

हुंडई मोटर इंडिया लिमिटेड (एचएमआईएल) ने सोमवार को कहा कि वह 2023-2032 के बीच इलेक्ट्रिक वाहन और अन्य के लिए पहले घोषित 20,000 करोड़ रुपये के निवेश के अलावा तमिलनाडु में 6,180 करोड़ रुपये का निवेश करेगा। हुंडई मोटर के अनुसार, ताजा निवेश घोषणा में से 180 करोड़ रुपये भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान-मद्रास के सहयोग से एक समर्पित 'हाइड्रोजन वैली इनोवेशन हब' के लिए होंगे। कार निर्माता ने 6,180 करोड़ रुपये के निवेश के लिए तमिलनाडु सरकार के साथ एक समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए हैं। पर्याप्त निवेश राज्य में सामाजिक-आर्थिक विकास को बढ़ावा देने और देश को आत्मनिर्भर बनाने के राज्य के प्रयासों को मजबूत करने की कंपनी की प्रतिबद्धता का एक प्रमाण हैं। प्रबंध निदेशक और सीईओ उन्सू किम ने कहा, ''राज्य सरकार के साथ यह सहयोग महज निवेश से परे है। यह एक मजबूत हाइड्रोजन टेक्नोलॉजी इकोसिस्टम विकसित करने के लिए उत्प्रेरक है जो स्थिरता और हरित भविष्य के प्रति हमारी प्रतिबद्धता को दर्शाता है।''

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया

अदाणी ग्रुप तमिलनाडु में 42,768 करोड़ रुपये का निवेश करेगा

मल्टी-बिजनेस अदाणी ग्रुप ने तमिलनाडु में ऊर्जा, सीमेंट विनिर्माण, डेटा सेंटर, सिटी गैस वितरण में 42,768 करोड़ रुपये का निवेश करने और 10,300 रोजगार के अवसर पैदा करने का फैसला किया है। ग्रुप ने सोमवार को आयोजित तमिलनाडु ग्लोबल इन्वेस्टर्स मीट 2024 के दौरान इस फैसले की घोषणा की।

निवेशकों की बैठक में अदाणी पोर्ट्स एंड एसईजेड लिमिटेड (एपीएसईजेड) के मुख्य कार्यकारी अधिकारी करण अदाणी और तमिलनाडु सरकार द्वारा एक समझौता ज्ञापन (एमओयू) का भी आदान-प्रदान किया गया। अदाणी समूह की विभिन्न कंपनियों द्वारा निवेश का विवरण अदाणी ग्रीन 24,500 करोड़ रुपये (रोजगार 4,000), अंबुजा सीमेंट्स 3,500 करोड़ रुपये (5,000), अदाणी कॉननेक्स 13,200 करोड़ रुपये (1,000) और अदाणी टोटल गैस एंड सीएनजी 1,568 करोड़ रुपये (300)।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

तिब्बत ने यात्रियों और कार्गो के लिए चार भूमि बंदरगाह खोले

तिब्बत स्वायत्त प्रदेश की 12वीं जन प्रतिनिधि सभा का दूसरा सम्मेलन राजधानी ल्हासा में रविवार को उद्घाटित हुआ। मिली खबर के अनुसार, साल 2023 में तिब्बत के क्षेत्रीय खुलेपन का और विस्तार हुआ है। 15 पारंपरिक सीमा व्यापार बिंदुओं पर व्यापार फिर से शुरू करने की मंजूरी दी गई है। चीलॉन्ग, फूलान, चांगमू और रिज़ी चार भूमि बंदरगाहों को यात्री और कार्गो यातायात के लिए पूरी तरह से खोल दिया गया है। आंकड़ों के अनुसार, जनवरी से नवंबर 2023 तक, इन चार बंदरगाहों पर आयात और निर्यात कार्गो की मात्रा लगभग 1 लाख 30 हजार टन तक पहुंच गई, जिसमें पिछले वर्ष की समान अवधि की तुलना में 47.7 प्रतिशत की वृद्धि हुई। इन चार बंदरगाहों से आयातित और निर्यात किए गए सामानों के मूल्य में भी उल्लेखनीय वृद्धि देखी गई, जो 4.56 अरब युआन तक पहुंच गई, जो पिछले वर्ष के समान समय की तुलना में 80.2 फीसदी अधिक है। सीमा व्यापार में इस वृद्धि ने निवासियों की आय पर सकारात्मक प्रभाव डाला है। तिब्बत में सीमा व्यापार बंदरगाहों के लिए 13 बुनियादी ढांचा निर्माण परियोजनाएं शुरू हो चुकी हैं, जबकि, 10 अन्य परियोजनाएं पहले ही पूरी हो चुकी हैं। ल्हासा हवाई अड्डे के अंतर्राष्ट्रीय टर्मिनल के रखरखाव और नवीनीकरण जैसी निर्माण परियोजनाओं में महत्वपूर्ण प्रगति हुई है।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;