CBSE ने बोर्ड एग्जाम से पहले मार्किंग सिस्टम में किया बड़ा बदलाव, अब 10वीं-12वीं के छात्रों को नहीं मिलेगा...

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की ओर से सीबीएसई दसवीं और बारहवीं की परीक्षाएं फरवरी में आयोजित होनी है।

फोटो: Getty Images
फोटो: Getty Images
user

नवजीवन डेस्क

सीबीएसई बोर्ड ने 10वीं 12वीं की परीक्षा की डेटशीट रिलीज करने से पहले एक बड़ा फैसला लिया है। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड यानी CBSE ने आगामी 10वीं और 12वीं परीक्षाओं 2024 के संबंध में जारी एक अहम सूचना में कहा है कि बोर्ड दसवीं और बारहवीं की बोर्ड परीक्षाओं में कोई डिवीजन या डिस्टिंक्शन नहीं देगा।

यह जानकारी परीक्षा नियंत्रक संयम भारद्वाज की ओर से दी गई है। नोटिस में कहा गया है कि अगर किसी छात्र ने पांच से अधिक विषय लिए हैं, तो सर्वोत्तम पांच विषयों का निर्धारण करके मार्कशीट तैयार की जाएगी।

संयंम भारद्वाज ने कहा कि बोर्ड अंकों के प्रतिशत की गणना, घोषणा या सूचना नहीं देता है। उन्होंने कहा कि अगर उच्च शिक्षा या रोजगार के लिए अंकों का प्रतिशत आवश्यक है, तो गणना, यदि कोई हो, प्रवेश संस्थान या नियोक्ता द्वारा की जा सकती है।

इससे पहले, सीबीएसई ने मेरिट लिस्ट जारी करने की प्रथा को भी खत्म कर दिया था। इससे बोर्ड एग्जाम टॉपर्स की लिस्ट भी जारी नहीं होती है।

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की ओर से सीबीएसई दसवीं और बारहवीं की परीक्षाएं फरवरी में आयोजित होनी है। यह एग्जाम 15 फरवरी, 2024 से शुरू होंगे जो कि अप्रैल तक चलेंगे। इसके लिए जल्द ही डेटशीट जारी होने की उम्मीद है।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;