DU दाखिले में पिछड़ गए छात्रों को मिल सकता है एक मौका, अंडरग्रेजुएट कोर्सेज में 5000 सीटें अभी भी खाली

दाखिला प्रक्रिया में शामिल विश्वविद्यालय के अधिकारियों का कहना है कि खाली रह गई सीटों को भरने के लिए जल्द ही एक स्पॉट राउंड आयोजित किया सकता है। हालांकि अभी स्पॉट राउंड की तारीखों को लेकर अंतिम निर्णय नहीं हुआ है।

DU के अंडरग्रेजुएट कोर्सेज में 5000 सीटें अभी भी खाली
DU के अंडरग्रेजुएट कोर्सेज में 5000 सीटें अभी भी खाली
user

नवजीवन डेस्क

दिल्ली विश्वविद्यालय में अंडर ग्रेजुएट पाठ्यक्रमों के लिए सीट आवंटन का साइकल लगभग पूरा होने के बावजूद यूजी पाठ्यक्रमों की करीब 5000 सीटें खाली रह गई हैं। खाली रह गई इन सीटों को विशेष स्पॉट राउंड के जरिए भरा जा सकता है। सीट आवंटन के तीसरे दौर के बाद दिल्ली विश्वविद्यालय में अंडर ग्रेजुएट पाठ्यक्रमों की कुल करीब 71,000 स्नातक सीटों में से 65,900 से अधिक सीटों पर दाखिले पूरे हो गए हैं।

दिल्ली विश्वविद्यालय के दाखिला विभाग से जुड़े अधिकारियों का कहना है कि विश्वविद्यालय में अब तक 65,937 दाखिले हो चुके हैं। यानी विश्वविद्यालय के अंडर ग्रेजुएट पाठ्यक्रमों में करीब 5000 सीटें अभी भी खाली हैं। दाखिला प्रक्रिया में शामिल विश्वविद्यालय के अधिकारियों का कहना है कि खाली रह गई सीटों को भरने के लिए जल्द ही एक स्पॉट राउंड आयोजित किया सकता है। हालांकि अभी स्पॉट राउंड की तारीखों को लेकर अंतिम निर्णय नहीं हुआ है।


गौरतलब है कि दिल्ली विश्वविद्यालय का नया सत्र 16 अगस्त से शुरू हो गया है। नया सत्र अंडर ग्रेजुएट पाठ्यक्रम प्रथम वर्ष के छात्रों के लिए है। डीयू में कॉमन सीट एलोकेशन सिस्टम (सीएसएएस) के माध्यम से यूजी दाखिले प्रदान किए जा रहे हैं। दिल्ली विश्वविद्यालय ने 78 अंडर ग्रेजुएट और 198 बीए पाठ्यक्रम प्रोग्राम छात्रों के लिए उपलब्ध कराया है।

दिल्ली विश्वविद्यालय समेत देश के सभी केंद्रीय विश्वविद्यालयों में अंडरग्रेजुएट दाखिले सीयूईटी रिजल्ट के आधार पर हो रहे हैं। दिल्ली विश्वविद्यालय में अंडरग्रेजुएट दाखिले 'कॉमन सीट अलोकेशन सिस्टम (सीएसएएस) पोर्टल' के जरिए हो रहे हैं। पहले चरण में सीयूईटी की परीक्षा दे चुके छात्र इस पोर्टल पर अपना पंजीकरण कराया। बाद में छात्र सीयूईटी में अर्जित किए गए अंकों का विवरण दिया जिसके आधार पर उन्हें कॉलेज और पाठ्यक्रम आवंटित हुए हैं।


दिल्ली विश्वविद्यालय का कहना है कि अभी तक दिए गए दाखिलों में से अधिकतर दाखिले बीकॉम (ऑनर्स), बीकॉम, बीए (ऑनर्स) राजनीति विज्ञान, बीए (ऑनर्स) अर्थशास्त्र, और बीए (ऑनर्स) अंग्रेजी कार्यक्रमों में हुए हैं। वहीं खेल कोटा में 1,544 सीटें, अन्य गतिविधियों के लिए 886 सीटें, सशस्त्र बलों शहीदों की विधवाओं के बच्चों को 3,117 सीटें आवंटित की गई हैं।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;