गोवा, उत्तराखंड के साथ यूपी की 55 सीट पर थमा प्रचार, 14 फरवरी को मतदान, इन दिग्गजों की किस्मत दांव पर

प्रचार के आखिरी दिन तीनों राज्यों में सभी राजनीतिक पार्टियों ने प्रचार में अपनी पूरी ताकत झोंक दी। बीजेपी से खुद पीएम मोदी, अमित शाह और सीएम योगी ने कई सभाएं कीं, तो विपक्षी दलों में सपा प्रमुख अखिलेश यादव और कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी भी मैदान में उतरे।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

उत्तराखंड और गोवा के साथ ही उत्तर प्रदेश में दूसरे चरण की 55 सीटों पर विधानसभा चुनाव के प्रचार का शोर आज शाम 5 बजे थम गया। उत्तर प्रदेश में 7 चरण में हो रहे चुनाव के तहत दूसरे चरण की 55 सीटों के साथ ही उत्तराखंड और गोवा में एक चरण में होने वाले चुनाव के लिए आज प्रचार का आखिरी दिन था। गोवा की 40 और उत्तराखंड की 70 सीटों के साथ ही यूपी की 55 सीटों के लिए 14 फरवरी को मतदान होगा।

चुनाव प्रचार के आखिरी दिन तीनों राज्यों में सभी राजनीतिक पार्टियों ने प्रचार में अपनी पूरी ताकत झोंक दी। आखिरी दिन खुद पीएम मोदी ने उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश में ताबड़तोड़ रैली की। वहीं केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने भी आखिरी दिन उत्तराखंड में कई सीटों पर प्रचार किया। उत्तर प्रदेश के सीएम योगी ने भी आखिरी दिन यूपी के अलावा उत्तराखंड में चुनाव प्रचार किया।

उत्तराखंड और गोवा की सभी सीटों और यूपी की 55 सीटों पर प्रचार के आखिरी दिन विपक्षी दलों ने भी अपनी पूरी ताकत झोंक दी। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भी यूपी में दूसरे चरण के चुनाव को लेकर आखिरी दिन ताबड़तोड़ कई जनसभाएं की। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने आज उत्तराखंड के अलग-अलग विधानसभा क्षेत्रों में पार्टी प्रत्याशियों के समर्थन में जनसभाएं कीं।


उत्तर प्रदेश में दूसरे चरण में 9 जिलों- सहारनपुर, बिजनौर, मुरादाबाद, संभल, रामपुर, अमरोहा, बदायूं, बरेली और शाहजहांपुर की 55 सीटों पर चुनाव होना है। इसमें कुल 586 उम्मीदवार मैदान में हैं। इस चरण में प्रदेश के कई दिग्गजों की प्रतिष्ठा दांव पर है। एक तरफ जहां योगी सरकार में मंत्री सुरेश खन्ना, गुलाबो देवी और बलदेव सिंह औलख चुनाव मैदान में हैं। वहीं दूसरी तरफ समाजवादी पार्टी के कद्दावर नेता आजम खान, पूर्व मंत्री धर्मपाल सिंह सैनी, कमाल अख्तर और महबूब अली जैसे कद्दावर नेता भी इसी चरण में हैं। जिनके भाग्य का फैसला 14 फरवरी को ईवीएम में बंद हो जाएगा।

इसी तरह गोवा की 40 सीटों पर एक चरण में 14 फरवरी को मतदान होगा। गोवा में सबसे ज्यादा चर्चा सांकेलिम सीट की है, जहां से सीएम प्रमोद सावंत चुनाव लड़ रहे हैं। यहां से सावंत को कांग्रेस के धर्मेश सगलानी से टक्कर मिल रही है। दूसरी चर्चित सीट पणजी है, जहां से बीजेपी के दिवंगत नेता मनोहर पर्रिकर के बेटे उत्पल पर्रिकर बीजेपी के ही खिलाफ निर्दलीय चुनाव लड़ रहे हैं। उनके खिलाफ बीजेपी के उम्मीदवार अतानासियो बाबुश मोनसेरेट हैं। इसी तरह दक्षिण गोवा जिला मुख्यालय मडगांव में कांग्रेस से लड़ रहे पूर्व मुख्यमंत्री दिगंबर कामत का मुकाबला बीजेपी के पर्यटन मंत्री मनोहर अजगांवकर से है।


इसी तरह उत्‍तराखंड की कुल 70 विधानसभा सीटों पर भी 14 फरवरी को मतदान है। कुल 632 प्रत्‍याशी चुनाव लड़ रहे हैं। लेकिन इसमें से पांच सीट सबसे ज्‍यादा हॉट सीट हैं। उधमसिंह नगर की खटीमा विधानसभा सीट से मुख्‍यमंत्री पुष्‍कर सिंह धामी चुनाव लड़ रहे हैं। जबकि कांग्रेस से भुवन कापड़ी यहां चुनाव मैदान में हैं। नैनीताल जनपद की लालकुआं सीट पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व सीएम हरीश रावत चुनाव लड़ रहे हैं। हरिद्वार सीट से बीजेपी प्रदेश अध्‍यक्ष मदन कौशिश चुनाव लड़ रहे हैं। उनके खिलाफ कांग्रेस से सतपाल ब्रह्मचारी लड़ रहे हैं। इसी तरह पौड़ी जनपद की श्रीनगर सीट से कांग्रेस के प्रदेश अध्‍यक्ष गणेश गोदियाल चुनाव लड़ रहे हैं। इनके खिलाफ बीजेपी से मंत्री डा. धन सिंह रावत चुनाव लड़ रहे हैं।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia