मणिपुर चुनाव: प्रियंका का वार- कुछ बड़े उद्योगपतियों को फायदा पहुंचा रही बीजेपी सरकार

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने मंगलवार को कहा कि भाजपा के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार की नीति बड़े उद्योगपतियों को लाभ पहुंचाने की है, जिससे गरीब और मध्यम वर्ग वंचित रहे।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने मंगलवार को कहा कि भाजपा के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार की नीति बड़े उद्योगपतियों को लाभ पहुंचाने की है, जिससे गरीब और मध्यम वर्ग वंचित रहे। प्रियंका ने आरोप लगाया कि केंद्र ने विभिन्न धर्मों, जातियों और क्षेत्रों के लोगों के लिए राजनीतिक और सांस्कृतिक आजादी प्रदान नहीं की है।

कांग्रेस नेता दिल्ली से वर्चुअल तरीके से मणिपुर में सभा को संबोधित कर रहीं थीं। उन्होंने कहा कि केंद्र की भाजपा सरकार आम तौर पर देश के दो से तीन बड़े उद्योगपतियों को लाभ दे रही है, जो एक दिन में हजारों करोड़ कमा रहे हैं, जबकि गरीब और मध्यम वर्ग के लोगों को सरकार से कोई समर्थन नहीं मिल रहा है।

प्रियंका ने कहा, "भाजपा द्वारा व्यक्तिगत आवाजों को दबाया जा रहा है। पार्टी ने चुनाव से पहले कई वादे किए, लेकिन चुनाव के बाद भाजपा ने मणिपुर और पूर्वोत्तर क्षेत्र को नजरअंदाज कर दिया। सब कुछ केंद्र की ओर से थोपा गया है।"

यह कहते हुए कि भाजपा और कांग्रेस की राजनीति अलग है, उन्होंने भगवा पार्टी पर समाज में भेदभाव और अशांति के कारण विभिन्न वर्गों के लोगों को एक सही स्पेस नहीं देने का आरोप लगाया। मणिपुर को देश का गहना बताते हुए प्रियंका ने कहा कि पर्यटन क्षेत्र में रोजगार के बड़े स्रोत होने के बावजूद राज्य में बेरोजगारी का बड़ा संकट है और छोटे और मध्यम उद्योगों की मदद से रोजगार के अवसर पैदा हो सकते हैं।


यह आरोप लगाते हुए कि राज्यों, क्षेत्रों और देश के सभी लोगों के साथ भाजपा द्वारा समान व्यवहार नहीं किया जा रहा है, कांग्रेस नेता ने कहा कि केंद्र और राज्यों में भाजपा सरकार व्यक्तिगत जीवन और संस्कृति, जीवन जीने के विभिन्न तरीकों, विविध विचारों का सम्मान नहीं करती है और भेदभाव को बढ़ावा देती है।

यह दावा करते हुए कि कांग्रेस पार्टी ने राष्ट्र का निर्माण किया और भारत की स्वतंत्रता प्राप्ति में योगदान दिया है, कांग्रेस महासचिव ने कहा कि बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार, बेरोजगारी, मूल्य वृद्धि और अलोकतांत्रिक गतिविधियों ने मणिपुर में लोगों के जीवन को चकनाचूर कर दिया।

मणिपुर में सरकारी नौकरियों में महिलाओं के लिए 33 प्रतिशत आरक्षण और महिलाओं के लिए मुफ्त परिवहन की मांग करते हुए कांग्रेस नेता ने कहा कि वह लगातार महिलाओं को समान अवसर प्रदान करने की कोशिश कर रही हैं जबकि भाजपा की विचारधारा कभी भी इस नीति का समर्थन नहीं करती है।

यह उल्लेख करते हुए कि मणिपुर में पर्यटन, जलविद्युत से लेकर हथकरघा और हस्तशिल्प की अपार संभावनाएं हैं, उन्होंने कहा कि अगर चुनाव के बाद कांग्रेस सत्ता में आती है तो बेरोजगारी भत्ता दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि वे प्रत्येक जातीय समूह और समुदाय की रक्षा करेंगे, ड्रग्स के बढ़ते सेवन को रोका जाएगा, मुफ्त स्वास्थ्य सेवा प्रदान की जाएंगी। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार बनने पर बेरोजगारी की समस्या दूर करने के साथ ही महिलाओं की समस्याओं का समाधान भी किया जाएगा। उन्होंने कहा, "कांग्रेस हमेशा विकास और महिला सशक्तिकरण पर ध्यान केंद्रित करती रही है।"


उन्होंने कहा कि 2017 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को 28 सीटें (60 सदस्यीय विधानसभा में) हासिल करके जनादेश मिला था, लेकिन बीजेपी ने जोड़-तोड़, अलोकतांत्रिक प्रक्रिया, रिश्वत और मूल रूप से अनैतिक तरीकों से सत्ता हासिल की।

कांग्रेस सूत्रों ने कहा कि राहुल गांधी सहित पार्टी के कई अन्य नेता अगले सप्ताह मणिपुर का दौरा करेंगे। 60 सीटों वाली मणिपुर विधानसभा के लिए दो चरणों में 28 फरवरी और 5 मार्च को मतदान होगा और मतों की गिनती 10 मार्च को होगी।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia