सिनेजीवन: 'सुशांत के नाम पर डोनेशन इकट्ठा करने की इजाजत नहीं' और अपारशक्ति खुराना और उनकी पत्नी ने फैंस को दी 'गुड न्यूज'

सुशांत सिंह राजपूत की बड़ी बहन मीतु सिंह ने प्रशंसकों को दिवंगत अभिनेता के नाम पर डोनेशन इकट्ठा किए जाने के खिलाफ चेतावनी दी है। बॉलीवुड अभिनेता अपारशक्ति खुराना और उनकी पत्नी अपने पहले बच्चे का स्वागत करने के लिए तैयार है।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

काजल अग्रवाल ने नई फिल्म 'उमा' साइन की

फोटो: IANS
फोटो: IANS

अभिनेत्री काजल अग्रवाल फिल्म 'उमा' में मेन लीड रोल के तौर पर नजर आएंगी।
काजल ने कहा, '' जैसे ही हमारे आस पास की स्थिति बेहतर होती है, मैं शूटिंग शुरू करूंगी । मैं काम पर वापस जाने के लिए काफी उत्सुक हूं। मैं हमेशा ऐसी स्क्रिप्ट को करने के लिए उत्सुक रहती हूं जो एक एक्टर के रूप में मेरे लिए मजेदार, मनोरंजक और चुनौतीपूर्ण हो। मैं आप सभी के साथ 'उमा' को शेयर करने के लिए उत्साहित हूं।''

यह फिल्म तथागत सिंघा द्वारा निर्देशित और अविषेक घोष द्वारा निर्मित है। 'उमा' को 2021 की दूसरी छमाही में एक स्टार्ट टू फिनिश शेड्यूल में शूट किया जाना है। जिसमें सभी कोविड 19 प्रोटोकॉल को ध्यान में रखा गया है। जल्द ही अन्य कलाकारों के नाम का भी खुलासा किया जाएगा।

अपारशक्ति खुराना और उनकी पत्नी ने फैंस को दी 'गुड न्यूज'

फोटो: IANS
फोटो: IANS

बॉलीवुड अभिनेता अपारशक्ति खुराना और उनकी पत्नी अपने पहले बच्चे का स्वागत करने के लिए तैयार है। अपारशक्ति ने इस खुशखबरी को फैंस के साथ इंस्टाग्राम पर शेयर किया, साथ ही एक प्यारी सी फोटो भी शेयर की।

उन्होंने कैप्शन में लिखा, "लॉकडाउन मैं काम तो विस्तार तो नहीं हो पा रहा था तो हमें लगा हम परिवार का ही विस्तार कर लेते हैं। अभिनेता आयुष्मान खुराना के छोटे भाई अपारशक्ति ने सितंबर 2014 में आकृति से शादी की थी, जिनसे उनकी मुलाकात चंडीगढ़ में एक डांस क्लास में हुई थी।

इससे पहले, सोमवार को अपारशक्ति ने क्लासिक किशोर कुमार गीत 'एक लड़की भीगी बागी सी' का अपना संस्करण इंस्टाग्राम पर अपलोड किया था।

अरबाज ने बताया ‘दबंग द एनिमेटेड सीरीज’ में सलमान खान की आवाज का इस्तेमाल क्यों नहीं हुआ

फोटो: IANS
फोटो: IANS

सलमान खान का इंस्पेक्टर चुलबुल पांडे का कैरेक्टर 'दबंग द एनिमेटेड सीरीज' में एनिमेटेड अवतार में नजर आने वाला है। लेकिन सुपरस्टार शो में अपने लोकप्रिय किरदार को आवाज नहीं देंगे। अरबाज कहते हैं, "चुलबुल पांडे को बनाने के पीछे का विचार चुलबुल का हर घर में फेमस होना है। साथ ही इस किरदार को बच्चों से जो बड़ी और सबसे विनम्र प्रशंसा मिलती है, इसने ही हमें दबंग पर आधारित एक एनिमेटेड सीरीज बनाने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने शो के बारे में बताया, ‘‘दबंग द एनिमेटेड सीरीज’’ दबंग का एक रूपांतरण और पुनर्कल्पना है। एक्शन कॉमेडी सीरीज पुलिस अधिकारी चुलबुल पांडे के दिन प्रतिदिन के जीवन का वर्णन करती है, जो शहर को सुरक्षित रखने के लिए बुराई का सामना करता है। इसमें उसका छोटा भाई मक्खी भी शामिल है। शो डिज्नी प्लस हॉटस्टार वीआईपी पर प्रसारित होगा।

परिवार ने सुशांत के नाम पर डोनेशन इकट्ठा करने की इजाजत नहीं दी है : सुशांत की बहन मीतु

फोटो: IANS
फोटो: IANS

सुशांत सिंह राजपूत की बड़ी बहन मीतु सिंह ने गुरुवार को प्रशंसकों को दिवंगत अभिनेता के नाम पर डोनेशन इकट्ठा किए जाने के खिलाफ चेतावनी दी है और यह कहा है कि सुशांत का परिवार उनसे संबंधित किसी भी चीज चाहे वह किताब हो या फिल्म या किसी दूसरे सामान के बदले धन जुटाने की अनुमति नहीं देता है। मीतु ने ट्वीट करते हुए कहा है, "हमें यह पता चला है कि कुछ लोग अपने निजी फायदे के लिए इस स्थिति का फायदा उठा रहे हैं, जो कि एक अमानवीय कृत्य है। इन सभी लोगों को ऐसा करने से बचना चाहिए। यह अफसोस की बात है।"

वह आगे लिखती हैं, "हम यह भी सभी के ध्यान में लाना चाहते हैं कि परिवार ने सुशांत के नाम पर किसी को भी दान या धन जुटाने के लिए अधिकृत नहीं किया है और किसी को भी एसएसआर के बारे में या उससे संबंधित कुछ भी करने की सहमति नहीं है, चाहे वह एक फिल्म हो या कोई किताब हो या कोई चीज हो। आपदा को अवसर में बदलने की हमारे परिवार की कोई चाह नहीं है और हम दूसरों को भी ऐसा करने नहीं देंगे। हैशटैगजस्टिसफॉरसुशांतसिंहराजपूत हैशटैगएसएसआरइयंस हैशटैगसुशांतसिंहराजपूत।"

सुनीता राव को अपने गानों के दोबारा बनने से कोई ऐतराज नहीं

फोटो: IANS
फोटो: IANS

नब्बे के दशक की पॉप हिट 'परी हूं मैं' से लोकप्रियता हासिल करने वाली गायिका सुनीता राव को इस बात से कोई दिक्कत नहीं है कि उनके ट्रैक रीमेक किए जाएंगे, लेकिन उनकी एक शर्त भी है। वह कहती हैं, "अगर कोई उनके गानों को इतना पसंद करता है कि उन पर काम कर सकता है, और उसमें अपना कुछ जादू डाल देता है, तो वह मनोरंजन के साथ ठीक है।"

उन्होंने आईएएनएस से कहा, "अगर कोई मेरे गाने की फिर से व्याख्या करने का फैसला करता है, तो मैं इसे सुनने के बाद तय करूंगी कि यह अच्छा है या नहीं।" सुनीता ने कहा कि अक्सर, एक पूरी पीढ़ी को केवल एक गीत सुनने को मिलता है, हमेशा गीत का सार रखना चाहिए और मूल रचना के साथ न्याय करना चाहिए।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia