मनमोहन सिंह का पीएम मोदी पर वीडियो वार- ‘गलत बयानों के लिए माफी मांगें मोदी’

पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह ने एक वीडियो बयान जारी कर कहा कि मणिशंकर अय्यर के घर हुई बैठक को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जो आरोप लगाया है वह सरासर गलत है और इसके लिए मोदी माफी मांगें।

फोटोः नवजीवन
फोटोः नवजीवन
user

नवजीवन डेस्क

दिल्ली में मणिशंकर अय्यर के घर हुई बैठक को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आरोपों पर पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह ने दुख जताया है। पूर्व प्रधानमंत्री ने एक वीडियो बयान जारी कर पीएम मोदी की कड़ी आलोचना करते हुए कहा, “वे खुद तो बिना किसी निमंत्रण के पाकिस्तान जाते हैं और हमारी देशभक्ति पर सवाल खड़े कर रहे हैं, यह सरासर गलत है।”

मनमोहन सिंह ने कहा, “आखिर पीएम मोदी ने मेरी देशभक्ति पर सवाल कैसे उठाया?” उन्होंने कहा कि पीएम मोदी को देश से इस बात के लिए माफी मांगनी चाहिए। मनमोहन सिंह ने कहा कि वे पीएम मोदी के भ्रामक प्रचार से बेहद दुखी हैं। उन्होंने कहा, “मणिशंकर अय्यर के घर हुई बैठक में गुजरात चुनाव को लेकर कोई बात ही नहीं हुई थी। प्रधानमंत्री मोदी अपनी ऊर्जा का उपयोग देश के निर्माण के लिए करें।”

अपने वीडियो बयान में मनमोहन सिंह ने कहा कि पीएम मोदी का पूर्व अधिकारियों पर आरोप लगाना गलत है। सिंह ने ये भी साफ किया कि कांग्रेस से निलंबित नेता मणिशंकर अय्यर के घर पर डिनर का आयोजन नहीं हुआ था।

अपने बयान में मनमोहन सिंह ने यह सवाल भी उठाया कि आखिर पीएम मोदी ने पंजाब के पठानकोट में आतंकी हमले के बाद पाकिस्तान की जांच एजेंसी को घटनास्थल का दौरा करने की अनुमति क्यों दी? उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री गुजरात विधानसभा चुनाव जीतने के लिए इस तरह का गलत आरोप लगा रहे हैं। आखिर में मनमोहन सिंह ने कहा कि वे उम्मीद करते हैं कि पीएम मोदी अपने गलत बयानों को लेकर माफी मांगेंगे।

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने यह वीडियो बयान पीएम मोदी के उन आरोपों को लेकर जारी किया है, जिसमें उन्होंने गुजरात के बनासकांठा में चुनाव प्रचार के दौरान कहा था, “पाकिस्तानी सेना के पूर्व डायरेक्टर जनरल सरदार अरशद रफीकी कांग्रेस नेता अहमद पटेल को गुजरात के मुख्यमंत्री के रूप में देखना चाहते हैं। इसे लेकर मणिशंकर अय्यर के घर एक गुप्त बैठक हुई थी जिसमें पाकिस्तान के उच्चायुक्त समेत वहां के पूर्व विदेश मंत्री, भारत के पूर्व उप-राष्ट्रपति हामिद अंसारी और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह शामिल हुए थे।” पीएम के इस बयान की कड़ी निंदा करते हुए कांग्रेस ने उनसे आरोप साबित करने या माफी मांगने के लिए कहा है। वहीं पाकिस्तान की ओर से साफ किया गया है कि ऐसी कोई बैठक नहीं हुई है और बीजेपी को अपने देश के चुनावों में उसे नहीं घसीटना चाहिए।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 13 Dec 2017, 7:48 PM
लोकप्रिय