विश्व कप 2019: रोमांचक मैच में आस्ट्रेलिया ने पाकिस्तान को 41 रन से दी मात

मौजूदा विजेता आस्ट्रेलिया ने विश्व कप-2019 के अपने तीसरे मैच में पाकिस्तान को रोमांचक मुकाबले में 41 रनों से हरा दिया। इस मैच में पाकिस्तान ने आस्ट्रेलिया को अच्छी शुरुआत के बाद भी 49 ओवरों में 307 रनों पर समेट दिया था। लेकिन पाकिस्तान यह लक्ष्य हासिल नहीं कर सका।

वीडियो : @ICC
वीडियो : @ICC

नवजीवन डेस्क

विश्व कप 2019 के 18वें मैच में ऑस्ट्रेलिया ने पाकिस्तान को 41 रनों से हरा दिया। ऑस्ट्रेलिया ने पाकिस्तान के सामने 308 रनों का लक्ष्य रखा था, जिसके जवाब में पाकिस्तानी टीम 45.4 ओवर में 266 रन पर ऑल आउट हो गई। पाकिस्तान के लिए इमाम उल हक ने 53, मोहम्मद हफीज ने 46, वहाब रियाज ने 45 रन बनाए। कप्तान सरफराज अहमद ने भी 40 रनों की पारी खेली लेकिन उनकी टीम 266 रनों पर सिमट गई। ऑस्ट्रेलिया के लिए सबसे ज्यादा पैट कमिंस ने 3 विकेट लिए। स्टार्क और रिचर्डसन ने 2-2 विकेट लिए। कूल्टर नाइल और फिंच ने 1-1 विकेट हासिल किया।

आस्ट्रेलिया के लिए यह जीत आसान नहीं रही, क्योंकि पाकिस्तान ने अंत तक हरा नहीं मानी और लड़ती रही। एक समय आसानी से हार की ओर बढ़ती दिख रही पाकिस्तान को वहाब रियाज (45), कप्तान सरफराज अहमद (40) और हसन अली (35) ने मैच में वापस ला दिया था, हालांकि आस्ट्रेलिया के बेहतरीन गेंदबाज मिशेल स्टार्क ने मैच को आखिरकार मौजूदा विजेता के पक्ष में मोड़ दिया।

पाकिस्तान का स्कोर 160 रनों पर छह विकेट था। यहां हसन ने आकर 15 गेंदों पर तीन छक्के और तीन चौके लगा मैच में रोमांच लाना शुरू किया। केन रिचर्डसन ने 200 के कुल स्कोर पर हसन को उस्मान ख्वाजा के हाथों कैच करा पाकिस्तान को फिर हार की तरफ मोड़ना चाहा लेकिन इस बार कप्तान सरफराज को वहाब का साथ मिला।

वहाब ने बड़े शॉट खेले और मौका मिलने पर अपने कप्तान को स्ट्राइक दी। वहाब और सरफराज के बीच आठवें विकेट के लिए 64 रनों की साझेदारी हो चुकी थी और मैच आस्ट्रेलिया की पकड़ से निकलता दिख रहा। यहां स्टार्क ने अपने काम को अंजाम दिया। स्टार्क की एक गेंद वहाब के बल्ले का किनारा लेकर विकेटकीपर एलेक्स कैरी के हाथों में गई जिसे पकड़ने में कैरी ने कोई गलती नहीं की।

लेकिन, अंपायर ने वहाब को आउट नहीं दिया। आस्ट्रेलिया ने रिव्यू लिया और वहाब पवेलियन लौट लिए। उन्होंने 39 गेंदों पर दो चौके और तीन छक्के मारे। इसी ओवर में स्टार्क ने मोहम्मद आमिर (0) को आउट कर आस्ट्रेलिया की जीत तय कर दी। अगले ओवर में सरफराज रन आउट हो गए और पाकिस्तान को हार मिली। सरफराज ने 48 गेंदों का सामना किया और सिर्फ एक चौका मारा।

आस्ट्रेलिया के लिए कमिंस ने तीन विकेट लिए। कमिंस ने ही पाकिस्तान को पहला झटका दिया। उन्होंने तीसरे ओवर में दो के कुल स्कोर पर फखर जमन (0) को रिचर्डसन के हाथों कैच कराया। बाबर आजम (30) ने इमाम उल हक (53) के साथ टीम का स्कोर पचास के पार पहुंचाया, लेकिन इस बार नाथन कल्टर नाइल आस्ट्रेलिया को सफलता दिलाने में कामयाब रहे। उन्होंने 56 के कुल स्कोर पर बाबर को पवेलियन की राह दिखाई।

यहां से दूसरे छोर पर खड़े इमाम को मोहम्मद हफीज (46) का साथ मिला। दोनों अच्छी बल्लेबाजी कर रहे थे और पाकिस्तान को मैच में बनाए रखा। साझेदारी तोड़ने के लिए आस्ट्रेलियाई कप्तान ने कमिंस को बुलाया और उनका यह दांव सफल भी रहा। कमिंस ने 136 के कुल स्कोर पर इमाम की 75 गेंदों की पारी का अंत किया जिसमें सात चौके भी शामिल रहे।

हफीज अभी भी मैदान पर थे और उन्हें पवेलियन भेजने के लिए फिंच ने खुद गेंद थामी। फिंच की किस्मत अच्छी थी कि हफीज एक फुलटॉस गेंद को सीधे डीप मिडविकेट पर स्टार्क के हाथों में खेल बैठे। यहां से मैच आस्ट्रेलिया के पक्ष में आ गया। हफीज का विकेट 146 के कुल स्कोर पर गिरा।

रिचर्डसन ने आसिफ अली को छह के निजी स्कोर पर आउट कर पाकिस्तान को छठा झटका दिया, लेकिन इसके बाद हसन, वहाब और सरफराज ने अपना जुझारूपन दिखा आखिरी ओवरों तक पाकिस्तान को मैच में बनाए रखा। इन तीनों का यह प्रयास हालांकि सफल नहीं रहा और टीम को हार मिली।

इससे पहले, पांच विकेट लेने वाले आमिर ने आस्ट्रेलिया को विशाल स्कोर से रोक दिया। डेविड वार्नर (107) और फिंच (82) ने टीम को बेहतरीन शुरुआत दे विशाल स्कोर की नीवं रखी, लेकिन आमिर ने अंत के ओवरों में बेहतरीन प्रदर्शन कर आस्ट्रेलिया को बड़ा स्कोर नहीं करने दिया। उनके अलावा आस्ट्रेलिया को विशाल स्कोर करने से रोकने में युवा शाहीन अफरीदी का भी योगदान रहा, जिन्होंने वार्नर और ग्लैन मैक्सवेल के दो अहम विकेट लिए।

आखिरी के पांच ओवरों में आस्ट्रेलिया ने सिर्फ 21 रन ही बटोरे और इस दौरान उसने अपने पांच विकेट खो दिए। वार्नर और फिंच ने पहले विकेट के लिए 22 ओवरों में 146 रन जोड़े। 23वें ओवर की पहली ही गेंद पर आमिर ने फिंच की पारी का अंत किया। फिंच ने 84 गेंदों पर छह चौके और चार छक्के मारे।

वार्नर हालांकि एक छोर पर थे। इस बार स्टीव स्मिथ उनका ज्यादा साथ नहीं दे सके और 10 के निजी स्कोर पर हफीज ने उन्हें पवेलियन भेज दिया। अफरीदी ने पाकिस्तान को एक बड़ी सफलता दिलाई। उन्होंने रंग में आते दिख रहे ग्लैन मैक्सवेल को 223 के कुल योग पर आउट कर मौजूदा विजेता को तीसरा झटका दिया। मैक्सवेल ने 10 गेंदों पर दो चौके और एक छक्के की मदद से 20 रन बनाए।

मैक्सवेल केजाने के बाद वार्नर ने अपना शतक पूरा किया, लेकिन वह भी अफरीदी से बच नहीं पाए और 242 के कुल स्कोर पर इमाम को कैच दे बैठे। वार्नर ने अपनी पारी में 111 गेंदें खेलीं तथा 11 चौकों के अलावा एक छक्का मारा।

यहां से आस्टेलियाई रनगति तेजी नहीं पकड़ पाई। उस्मान ख्वाजा 18, शॉन मार्श 23 और नाथन कल्टर नाइल दो रन बनाकर पवेलियन लौट लिए। कैरी ने जिस तरह से अंतिम ओवरों में भारत के खिलाफ बल्लेबाजी की थी, उससे लगा था कि वह टीम को 320 के पार आसानी से पहुंचा देंगे, लेकिन 49वें ओवर में कैरी, आमिर का शिकार बन बैठे। कैरी ने 21 गेंदों पर दो चौकों की मदद से 20 रन बनाए। आमिर ने इसी ओवर में मिशेल स्टार्क (3) को आउट कर आस्ट्रेलिया को समेट दिया।

आमिर और अफरीदी के अलावा हसन अली, वहाब रियाज और हफीज ने एक-एक विकेट लिया।

लोकप्रिय