विश्व कप के फाइनल में पहुंचने के लिए टीम इंडिया को 20 ओवर में चाहिए बस 62 रन, जानिए क्या है नियम

भारत-न्यूजीलैंड के बीच विश्व कप 2019 का पहला सेमीफाइनल बारिश के चलते आधा ही खेला गया है। मैच कल जहां रोका गया था आज वहीं से खेला जाएगा। सबसे बड़ा सवाल यह है कि अगर बारिश की वजह से आज भी मैच रोकना पड़ता है तो मैच का नतीजा किस तरह से निकाला जाएगा।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

भारत-न्यूजीलैंड के बीच विश्व कप 2019 का पहला सेमीफाइनल बारिश के चलते आधा ही खेला गया है। मैच कल जहां रोका गया था आज वहीं से खेला जाएगा। हालांकि आज भी बारिश होने की संभावना है। ऐसे में सबसे बड़ा सवाल यह है कि अगर बारिश की वजह से आज भी मैच रोकना पड़ता है तो मैच का नतीजा किस तरह से निकाला जाएगा।

आईसीसी के अभी जो नियम हैं उसके मुताबिक रिजर्व डे पर मैच वहीं से शुरू होगा जहां बारिश के समय रोके जाने पर खत्म हुआ था। ऐसे में न्यूजीलैंड की टीम 46.1 ओवर में 211 रन से अपनी पारी आगे बढ़ाएगी। लेकिन अगर बारिश बुधवार को भी मैच पर असर डालती है तो बहुत मुमकिन है कि न्यूजीलैंड की पारी वहीं खत्म कर दी जाए, जितना वो खेल चुकी है। ऐसे में मैच में डकवर्थ लुइस नियम का इस्तेमाल किया जाएगा।

इस नियम के तहत भारत को कुछ इस तरह का लक्ष्य मिल सकता है।

  • अगर 46 ओवर का मैच हुआ तो भारत को 237 रन का लक्ष्य मिलेगा।
  • अगर मुकाबला 40 ओवर का हुआ तो फिर लक्ष्य होगा 223 रन।
  • 35 ओवर की सूरत में भारत को जीत के लिए 209 रन चाहिए।
  • 30 ओवर में भारतीय टीम को 192 रन बनाने होंगे।
  • 25 ओवर में भारतीय टीम को 172 रन का लक्ष्य मिलेगा।
  • 20 ओवर का खेल हुआ तो फिर टीम इंडिया को बनाने होंगे 148 रन।

लेकिन अगर लक्ष्य दिए जाने के बीच में बारिश की वजह से मैच रोका जाता है तो भारत का लक्ष्य कुछ और होगा। मान लीजिए टीम इंडिया को 46 ओवर में 237 रन का लक्ष्य दिया जाता है। ऐसे में अगर इस लक्ष्य का पीछा करते हुए भारतीय टीम 20 ओवर में बिना विकेट खोए 62 रन बना लेती है और फिर बारिश आ जाती है तो टीम इंडिया को विजेता घोषित कर दिया जाएगा। वनडे क्रिकेट में नतीजे घोषित करने के लिए दोनों टीमों को कम से कम 20 ओवर खेलना जरूरी होता है। ऐसे में अगर 20 ओवर के बाद बारिश होती है तो भारत विश्व कप के फाइनल में पहुंच जाएगा।

Published: 10 Jul 2019, 2:09 PM
लोकप्रिय