हारे हुए मैच में जडेजा-धोनी जोड़ी ने रच दिया इतिहास, ऐसा करने वाले पहले खिलाड़ी बने

भारतीय क्रिकेट टीम के हरफनमौला खिलाड़ी रवींद्र जडेजा और महेंद्र सिंह धोनी ने आईसीसी विश्व कप-2019 के सेमीफाइनल में बुधवार को न्यूजीलैंड के खिलाफ सातवें विकेट के लिए विश्व कप में सबसे बड़ी साझेदारी का रिकार्ड बनाया।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

आईएएनएस

भारतीय क्रिकेट टीम के हरफनमौला खिलाड़ी रवींद्र जडेजा और महेंद्र सिंह धोनी ने आईसीसी विश्व कप-2019 के सेमीफाइनल में बुधवार को न्यूजीलैंड के खिलाफ सातवें विकेट के लिए विश्व कप में सबसे बड़ी साझेदारी का रिकार्ड बनाया। यह साझेदारी हालांकि भारत को जीत नहीं दिला सकी और कीवी टीम 18 रनों से मैच जीत लगातार दूसरी बार फाइनल में पहुंची।

भारत ने अपने छह विकेट महज 92 रनों पर ही खो दिए थे और हार की तरफ बढ़ रही थी लेकिन जडेजा और धोनी ने सातवें विकेट के लिए 116 रन जोड़कर टीम को मैच में बनाए रखा। हालांकि आखिरी ओवरों में दोनों खिलाड़ी पवेलियन लौट लिए।

यह किसी भी विश्व कप में सातवें विकेट के लिए सबसे बड़ी और पहली शतकीय साझेदारी है। इससे पहले वेस्टइंडीज के रेडली जैकब्स और रामनेरश सरवन ने 13 फरवरी 2003 को पोर्ट एलिजाबेथ में न्यूजीलैंड के खिलाफ ही 98 रन जोड़े थे।

जडेजा और धोनी ने न्यूजीलैंड के खिलाफ ही जैकब्स और सरवन के बनाए गए रिकार्ड को तोड़ा। जडेजा ने 59 गेंदों पर चार चौके और चार छक्कों की मदद से 77 रन बनाए। धोनी ने 72 गेंदों पर एक चौके और एक छक्के की मदद से 50 रन बनाए।

लोकप्रिय