हार पर हाहाकार: शोएब अख्तर ने पाक कप्तान को बताया बिना दिमाग वाला इंसान, हसन अली को भी हड़काया, देखें वीडियो

‘रावलपिंडी एक्सप्रेस’ के नाम से मशहूर शोएब पाक गेंदबाजों पर भी जमकर बरसे। हसल अली की गेंदबाजी की आलोचना करते हुए कहा कि वो वाघा बॉर्डर पर खूब उछलते हैं, लेकिन मैच में कुछ नहीं कर पाते। शोएब ने कहा, ‘चीजें जब अच्छी लगती हैं जब आप 6-7 विकेट लेते हैं मगर उन्होंने 9 ओवर में 84 रन लुटा दिए।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

विश्व कप में पाकिस्तान को भारत हाथों एक और पराजय का सामना करना पड़ा। टीम इंडिया ने 16 जून (रविवार) को खेले गए मैच में पाकिस्तान को जबरदस्त पटखनी दी। हार के बाद से पाकिस्तान में हाहाकर मचा हुआ है। पाकिस्तानी नागरिक से लेकर पूर्व खिलाड़ी भी पाक टीम की खूब खिंचाई कर रहे हैं। पाकिस्तान की करारी हार पर पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने भी टीम के कप्तान सरफराज अहमद को खरी-खोटी सुनाई है। शोएब अख्तर ने पाक कप्तान को बिना दिमाग वाला करार दिया है।

शोएब ने कहा, ‘चैंपियंस ट्रॉफी के दौरान जो गलती भारत ने की वही गलतियां पाकिस्तान ने विश्व कप में दोहरा दीं।‘ अख्तर ने कहा कि ‘चैंपियंस ट्रॉफी में विराट कोहली ने मैच जीता और पाकिस्तान को बैटिंग कराई और अच्छे विकेट पर पाकिस्तान ने 338 रन बना दिए। रविवार को पाकिस्तान ने वहीं गलती की। टॉस जीता और अच्छी बैटिंग विकेट के ऊपर विराट कोहली को बैटिंग करा दी। इसमें कोई शक नहीं कि उनके पास बड़े बल्लेबाज हैं जो लंबे-चौड़े रन बनाते हैं।”

बता दें कि विश्व कप में आज तक पाकिस्तानी टीम भारत को नहीं हरा पाई है। विश्व कप में भारत के हाथों पाकिस्तान की ये सातवीं हार थी। मैनचेस्टर के ओल्ड ट्रैफर्ड मैदान पर खेले गए मैच में भारत ने पाकिस्तान को 89 रन से हराया। मैच में सरफराज द्वारा टॉस जीतकर भारत को बल्लेबाजी के लिए न्योता देने के फैसले पर भी सवाल उठे। टीम इंडिया ने इसका खूब फायाद उठाया। भारतीय बल्लेबाजों ने पाकिस्तान गेंदबाजी की धज्जियां उड़ा दीं। ‘मैन ऑफ द मैच’ रोहित शर्मा ने 140 रनों की शानदार पारी खेली। वहीं केएल राहुल और कप्तान विराट कोहली ने भी अधर्शतक जड़े।

शोएब अख्तर ने कप्तान सफराज अहमद के फैसले पर सवाल उठाते हुए कहा कि, ‘मुझे समझ नहीं आता कि कोई इतना ब्रेनलेस कप्तान कैसे हो सकता है। उन्हें इतनी सोच भी नहीं आई कि हम लक्ष्य का पीछा अच्छा नहीं करते है। उन्हें पता होना चाहिए कि पाकिस्तान का मजबूत पक्ष बल्लेबाजी नहीं गेंदबाजी है।’ शोएब अख्तर ने कहा, ‘आपने जब टॉस जीता वहीं आप आधा मैच जीत चुके थे। मगर आपने मैच ना जीतने की कोशिश की। यह ब्रेनलेस कप्तानी थी और ब्रेन लेस मैनेजमेंट था। कोई सोच-समझ नहीं। मैच में टॉस के महत्वपूर्ण मायने थे। पहले बल्लेबाजी के दौरान पाकिस्तान अगर 260 रन भी बनाता तो मैच जीतने में कामयाब हो सकता था क्योंकि जरुरी रन रेट का प्रेशर होता है। मगर सरफराज को समझाए कौन? समझ उनको आती नहीं है। पूरा इतिहास उठाकर देख लो। रनों का पीछा करते हुए ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पाकिस्तान हार गया। मैं चाहता था कि इसमें थोड़ा सा इमरान खान डाल दूं मगर बहुत देर हो गई।’

‘रावलपिंडी एक्सप्रेस’ के नाम से मशहूर शोएब पाक गेंदबाजों पर भी जमकर बरसे। हसल अली की गेंदबाजी की आलोचना करते हुए कहा कि वो वाघा बॉर्डर पर खूब उछलते हैं, लेकिन मैच में कुछ नहीं कर पाते। शोएब ने कहा, ‘चीजें जब अच्छी लगती हैं जब आप 6-7 विकेट लेते हैं मगर उन्होंने 9 ओवर में 84 रन लुटा दिए। समझ नहीं आता कि वह किस माइंडसेट से खेल रहा है। उसकी सोच यही है कि टी-20 खेलता रहे।’

Published: 17 Jun 2019, 3:00 PM
लोकप्रिय