वर्ल्ड कप 2019: युवराज ही नहीं, इन भारतीय खिलाड़ियों ने भी मैदान के बाहर से ही कह दिया था क्रिकेट को अलविदा

सालों तक टीम इंडिया के लिए खेलकर मैदान के बाहर से ही अचानक अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कहने वाले युवराज सिंह पहले खिलाड़ी नही हैं। युवी के अलावा राहुल द्रविड़, सहवाग, ज़हीर खान और वीवीएस लक्षमण ने भी बिना फेयरवेल मैच खेले क्रिकेट से संन्यास ले लिया था।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

2011 आईसीसी और 2007 टी-20 वर्ल्ड कप के हीरो रहे भारतीय टीम के विस्फोटक बल्लेबाज युवराज सिंह के अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास के ऐलान के बाद दुनिया भर में उनके फैंस काफी मायूस है। अपने 19 साल के करियर में युवराज ने क्रिकेट में कई ऐसे करिश्में किये, जिन्हें भुलाया नहीं जा सकता। लेकिन इसके बावजूद भी युवराज को बिना फेयरवेल मैच खेले क्रिकेट को अलविदा कहना पड़ा। हालांकि युवराज के अलावा टीम इंडिया के और भी कई ऐसे खिलाड़ी हैं, जिन्हें मैदान के बाहर से ही क्रिकेट को अलविदा कहना पड़ा।

राहुल द्रविड़

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

16 सालों तक भारत के लिए खेलने के बाद टीम इंडिया की दीवार कहे जाने वाले राहुल द्रविड़ ने अपने घरेलू मैदान चिन्नास्वामी स्टेडियम से संन्यास का ऐलान किया था। अचानक संन्यास के ऐलान से द्रविड़ के फैंस काफी निराश हुए थे। अपने करियर में राहुल द्रविड़ ने देश के लिए 344 वनडे मैचों में 10889 जबकि 164 टेस्ट मैचों में 13288 रन बनाए। राहुल द्रविड़ ने बिना फेयरवेल मैच खेले क्रिकेट को अलविदा कहा था।

वीरेंद्र सहवाग

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

सहवाग भारतीय टीम के एक मात्र ऐसे खिलाड़ी हैं, जिन्होंने टेस्ट क्रिकेट में दो बार 300 रनों का आंकड़ा छुआ है। 2011 वर्ल्ड कप में भी सहवाग ने हर मैच में बेहतरीन पारियां खेली थीं। अपने 16 साल के क्रिकेट करियर में सहवाग ने 251 वनडे मैचों में 8273 रन बनाए हैं। सहवाग ने 20 अक्टूबर 2015 को अपने 37वें जन्मदिन पर बिना अपना विदाई मैच खेले क्रिकेट से संन्यास लेने का ऐलान कर दिया था। सहवाग का संन्यास लिए जाने को लेकर उन दिनों काफी विवाद भी हुआ था।

ज़हीर खान

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

जहीर खान टीम इंडिया के उन गेंदबाजों में से एक हैं, जो मैच के अंतिम क्षणों में विपक्षी टीम के बल्लेबाजों की परेशानियां बढ़ा देते थे। सहवाग के संन्यास लेने से पांच दिन पहले यानि 15 अक्टूबर 2015 को एक ट्वीट के माध्यम से जहीर खान ने संन्यास का ऐलान कर दिया था। जहीर खान ने टीम इंडिया के लिए कुल 200 मैचों में 282 विकेट लिए है।

वीवीएस लक्ष्मण

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

लक्ष्मण भी उन खिलाड़ियों में से एक हैं जिन्होंने मैदान के बाहर से ही क्रिकेट को अलविदा कह दिया। 2002 में न्यूजीलैंड दौरे के लिए चयन होने के बावजूद भी उन्होंने खेलने से मना कर दिया था। लक्षमण ने अपने करियर में 86 वनडे मैचों में 2338 जबकि 134 टेस्ट मैचों में 8781 रन बनाए हैं।

गौतम गंभीर

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया

अपने आक्रामक अंदाज के लिए फेमस गौतम गंभीर ने अपने 15 साला क्रिकेट करियर में 147 मैच खेलकर 5238 रन बनाए। गौतम गंभीर का संन्यास भी ठंडे बस्ते में ही गया। 2011 वर्ल्ड कप फाइनल में 97 रनों की शानदार पारी खेलने के बावजूद भी गंभीर को अपना फेयरवेल मैच नहीं खेलना नसीब नहीं हुआ और व भी मैदान के बहार से ही अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से अलग हो गए। 4 दिसंबर 2018 को अपने ट्विटर अकाउंट पर एक वीडियो के मध्यम से क्रिकेट से संन्यास लेने का ऐलान किया।

लोकप्रिय