दिल्लीः मुकुंदपुर में जागरण देखने निकला नाबालिग बना मॉब लिंचिंग का शिकार, चोरी के शक में पीट-पीटकर हत्या

राजधानी दिल्ली के मुकुंदपुर में मंगलवार की अहले सुबह हत्यारी बनी भीड़ ने चोरी के शक में एक 16 साल के नाबालिग लड़के को पीट-पीटकर मार डाला। मृतक कुछ दिन पहले ही बिहार से अपने चाचा के घर रहने के लिए आया था।

फोटोः स्क्रीनशॉट
फोटोः स्क्रीनशॉट
user

नवजीवन डेस्क

देश के अलग-अलग हिस्सों से आए दिन सामने आ रही मॉब लिंचिंग की घटनाएं रुकने का नाम नहीं ले रही हैं। ताजा मामला राजधानी दिल्ली का है, जहां एक 16 साल के नाबालिग मुस्लिम लड़के की चोरी के शक में पीट-पीट कर हत्या कर दी गई। पुलिस ने इस मामले में गैर इरादतन हत्या का मामला दर्ज कर 3 आरोपियों को गिरफ्तार किया है, जबकि अन्य 3 आरोपी अभी भी फरार हैं। नाबालिग की मौत के बाद इलाके में भारी तनाव बना हुआ है। मृतक के परिवार वालों का कहना है कि लड़का कुछ दिनों पहले ही दिल्ली आया था और जागरण देखने के लिए रात में घर से निकला था।

घटना उत्तर पश्चिमी दिल्ली के मुकुंदपुर इलाके का है, जहां मंगलवार तड़के सुबह एक नाबालिग लड़के को उसी इलाके में रहने वाले लोगों ने एक घर में घुसकर चोरी करने के शक में पकड़ लिया और उसके बाद भीड़ ने उस लड़के की बुरी तरह पिटाई शुरू कर दी। लड़के पर आरोप था कि वह एक घर में घुसकर चोरी कर रहा था, लेकिन घर वालों ने उसे पकड़ लिया और शोर मचाते हुए उस लड़के को पकड़ लिया। आरोप है कि घर वालों ने लड़के के हाथ-पैर बांधकर उसे इलाके के लोगों के साथ मिलकर इस कदर पीटा कि उसकी मौके पर ही मौत हो गई।

जानकारी के मुताबिक मृतक की उम्र 16 साल थी और वो लगभग 15 दिन पहले बिहार से दिल्ली आया था। वो बिहार के खगड़िया जिले में अपनी मां के साथ रहता था और मदरसे का छात्र था। वह दिल्ली अपने रिश्तेदारों से मिलने आया हुआ था और अपने बड़े भाई के साथ मुकंदपुर में ठहरा हुआ था, जिसका नाम मोहम्मद शाहिद है। शाहिद इलाके में पलंबर का काम करता है, जब कि उसके पिता नोएडा में मजदूरी करते हैं। शाहिद का कहना है कि उसके भाई की लाश मंगलवार की सुबह घर के पीछे वाली गली में पड़ी हुई मिली। उसके शरीर पर चोट के कई निशान थे। लड़के के घर वालों का दावा है कि वो चोर नहीं था और जागरण देखने के लिए रात में घर से निकला था। उनका कहना है कि कुछ ही दिन पहले बिहार से दिल्ली अपने रिश्तेदारों से मिलने आने वाला लड़का आखिर चोरी क्यों करेगा। उसके घरवालों को शक है कि उसे बेरहमी से पीटकर मारा गया है और इसकी वजह चोरी नहीं कुछ और है।

पुलिस ने इस मामले में गैर इरादतन हत्या का केस दर्ज करते हुए तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है, जिनकी पहचान नंद किशोर, राजकिशोर, और त्रिवेणी के रूप में हुई है। इस मामले में तीन अन्य आरोपी अभी भी फरार हैं, जिनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


लोकप्रिय
next