महाराष्ट्र: फडणवीस की पत्नी को 'रिश्वत' देने का मामला, डिप्टी सीएम बोले- मेरे राजनीतिक करियर को बर्बाद करने की हुई कोशिश

महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की बैंकर-गायिका पत्नी अमृता फडणवीस ने एक पिता-पुत्री पर रिश्वत-ब्लैकमेल करने का आरोप लगाते हुए पुलिस शिकायत दर्ज कराई थी।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने दावा किया है कि उनके राजनीतिक करियर को खत्म करने की साजिश रची गई थी। उन्होंने कहा कि उनकी पत्नी को धमकी दी गई और ब्लैकमेल भी किया गया। बता दें कि उनकी बैंकर-गायिका पत्नी अमृता फडणवीस ने एक पिता-पुत्री पर रिश्वत-ब्लैकमेल करने का आरोप लगाते हुए पुलिस शिकायत दर्ज कराई थी। मालाबार हिल पुलिस स्टेशन ने तेजी से कार्रवाई करते हुए ठाणे जिले के उल्हासनगर से दो व्यक्तियों- सट्टेबाज अनिल जयसिंघानी और उनकी पेशेवर डिजाइनर बेटी अनिक्षा को हिरासत में लिया।

उनके खिलाफ आईपीसी की धारा 120 (बी), और भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम की धारा 8 और 12 के तहत मामला दर्ज किया गया है और आगे की जांच जारी है। फडणवीस ने कहा कि उनकी पत्नी अमृता करीब डेढ़ साल से अनिक्षा के संपर्क में थीं। अनिक्षा फडणवीस के घर आई थी और एक करोड़ रुपये की रिश्वत देने की कोशिश की थी और जब वह नहीं माने, तो धमकी और ब्लैकमेल का सहारा लिया।


फडणवीस ने कहा कि अनिक्षा ने कथित तौर पर अमृता को यह बताकर लुभाने की कोशिश की कि उसके पिता पुलिस को सट्टेबाजों के बारे में जानकारी दे रहे थे, और कहा कि फडणवीस पुलिस को उन सटोरियों की उपेक्षा करने या उनके खिलाफ कार्रवाई करने का निर्देश देकर पैसा कमा सकते हैं, और वह उन्हें पैसे कमाने के और रास्ते दिखाएंगे।

उसने कथित तौर पर एक मामले में अपने पिता को फंसाने में मदद करने के लिए उन्हें 1 करोड़ रुपये की पेशकश की, और जाल को भांपते हुए, अमृता ने उसे रोक दिया था। कुछ दिनों बाद, अनिक्षा ने अज्ञात तरीके से अमृता को कुछ वीडियो क्लिप, आवाज और टेक्स्ट संदेश भेजे। उन्होंने आगे कहा, 'मेरी पत्नी को धमकी दी गई थी कि यह वीडियो मेरे राजनीतिक करियर को तबाह कर सकता है। और जब अमृता ने मुझे इसके बारे में बताया तो हमने पुलिस को बुलाया और प्राथमिकी दर्ज की लेकिन इसे सार्वजनिक नहीं किया।

नेता प्रतिपक्ष अजीत पवार ने विधानसभा में इस मुद्दे को उठाया, जिसके बाद फडणवीस ने कहा कि उन्होंने घटना की जांच के आदेश दिए हैं। इस मामले में पूर्व पुलिस आयुक्त जैसे कुछ बड़े नामों के सामने आने की संभावना है और वह जांच के बाद बोलेंगे।



आईएएनएस के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


    ;